Connect with us

Sports

Ind vs Aus 1st ODI: खराब गेंदबाजी और स्टार बल्लेबाजों की नाकामी से पहला वनडे हारा भारत

Published

on

Ind vs Aus 1st ODI: खराब गेंदबाजी और स्टार बल्लेबाजों की नाकामी से पहला वनडे हारा भारत

नई दिल्ली, देशज न्यूज। खराब गेंदबाजी, लचर क्षेत्ररक्षण और कप्तान विराट कोहली समेत स्टार बल्लेबाजों के नाकाम रहने के कारण भारत को शुक्रवार को पहले एक दिवसीय क्रिकेट मैच ind-vs-aus-1st-odi में आस्ट्रेलिया ने 66 रन से हरा दिया। वहीं आस्ट्रेलिया के लिये कप्तान आरोन फिंच और स्टीव स्मिथ के शतकों के बाद एडम जाम्पा और जोश हेजलवुड ने शानदार गेंदबाजी करके भारत पर पूरे मैच में दबाव बनाये रखा।

कोरोना महामारी के बीच दर्शकों की स्टेडियम में वापसी वाले इस मैच में आस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सपाट पिच पर छह विकेट पर 374 रन बनाये । जवाब में भारतीय टीम आठ विकेट पर 308 रन ही बना सकी जिसमें हाॢदक पंड्या ने 90 रन का योगदान दिया। आस्ट्रेलियाई कप्तान फिंच ने आईपीएल के अपने खराब फार्म को तिलांजलि देकर 17वां शतक जमाया। वहीं स्मिथ ने भारतीय गेंदबाजों को नसीहत देते हुए एक दिवसीय क्रिकेट में दसवां शतक जड़ा । आस्ट्रेलिया के लिये यह तीसरा सबसे तेज वनडे शतक था जो मात्र 62 गेंदों में बना।

भारत ने शुरूआत काफी आक्रामक की । रोहित शर्मा की गैर मौजूदगी में पारी का आगाज करने उतरे मयंक अग्रवाल और शिखर धवन ने पांच ओवरों में ही 50 रन बना डाले लेकिन फिर भारत ने शीर्षक्रम के चार विकेट 48 रन के भीतर गंवा दिये। इनमें से तीन हेजलवुड ने और एक जाम्पा ने लिया । अग्रवाल 18 गेंद में 22 रन बनाकर छठे ओवर में हेजलवुड की गेंद पर ग्लेन मैक्सवेल को कैच दे बैठे।

भारत को सबसे बड़ा झटका दसवें ओवर में लगा जब कप्तान विराट कोहली ने हेजलवुड की गेंद पर ङ्क्षफच को कैच थमाया । विराट ने 21 गेंद में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 21 रन बनाये । श्रेयस अय्यर (दो) हेजलवुड का तीसरा शिकार बने जबकि उपकप्तान के एल राहुल आईपीएल का अपना शानदार फार्म बरकरार नहीं रख पाये । उन्हें जाम्पा ने क्रीज पर पैर ही नहीं जमाने दिये और वह 12 रन बनाकर स्मिथ को कैच दे बैठे ।

इसके बाद धवन और पंड्या ने शतकीय साझेदारी की और एक समय लग रहा था कि ये दोनों भारत को जीत तक ले जायेंगे । ऐसे में जाम्पा ने अपने दूसरे स्पैल में धवन को पवेलियन भेजकर इस उम्मीद को भी तोड़ दिया । धवन ने 86 गेंद में दस चौकों के साथ 74 रन बनाये । पंड्या दुर्भाग्यशाली रहे कि अपना शतक पूरा नहीं कर सके और जाम्पा का तीसरा शिकार बने ।

उन्होंने 76 गेंद में 90 रन जोड़े जिसमें सात चौके और चार छक्के शामिल थे। इसके बाद जरूरी रनरेट इतना बढ गया था कि रविंद्र जडेजा पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ मिलकर फिनिशर की भूमिका नहीं निभा सकते थे । उन्हें भी जाम्पा ने 25 के निजी योग पर आउट करके आस्ट्रेलिया की जीत तय कर दी ।

जाम्पा ने दस ओवर में 54 रन देकर चार विकेट लिये जबकि हेजलवुड को तीन विकेट मिले। इससे पहले आस्ट्रेलिया के लिये ङ्क्षफच ने 124 गेंद में 114 रन बनाये जिसमें नौ चौके और दो छक्के शामिल थे। वहीं स्मिथ ने 66 गेंद में 105 रन की पारी खेली और 11 चौके तथा चार छक्के जड़े।‘रन मशीन‘ डेविड वार्नर ने 69 और ‘बिग शो’ ग्लेन मैक्सवेल ने 19 गेंद में 45 रन का योगदान दिया ।

भारतीय गेंदबाजों को पिच से कोई मदद नहीं मिली और क्षेत्ररक्षण भी बेहद खराब रहा । भारतीयों ने तीन कैच छोड़े और काफी रन फालतू दिये। आईपीएल में खतरनाक दिख रहे भारतीय तेज गेंदबाज थके हुए नजर आये । आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को उनका सामना करने में कोई दिक्कत नहीं हुई ।

फिंच और वार्नर ने पहले विकेट के लिये 156 रन की साझेदारी की । उन्होंने मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह के शुरूआती स्पैल को संभलकर खेला। शमी ने दस ओवर में 59 रन देकर तीन विकेट लिये जबकि बुमराह ने 73 रन दिये और उन्हें एक ही विकेट मिला। नवदीप सैनी ने 83 रन देकर एक विकेट लिया । स्पिनरों में युजवेंद्र चहल ने 89 रन देकर एक विकेट लिया जबकि जडेजा को कोई विकेट नहीं मिला और उन्होंने 63 रन दिये।

भारत को पहली सफलता 28वें ओवर में मिली जब शमी ने वार्नर को विकेट के पीछे लपकवाया । इसका फैसला डीआरएस पर हुआ । वहीं जडेजा की गेंद पर पगबाधा आउट दिये जाने के बाद स्मिथ को डीआरएस ने बचाया। उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाते हुए शतक जड़ डाला ।

मैक्सवेल ने सिर्फ 19 गेंद में 45 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली। उन्होंने चहल को रिवर्स स्वीप पर छक्का लगाया। इसके बाद सैनी को डीप मिडविकेट पर छक्का जड़ा। इस श्रृंखला के जरिये क्रिकेट मैदान पर दर्शकों की वापसी हुई है । क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने कुल क्षमता के 50 प्रतिशत टिकटों की बिक्री की अनुमति दी थी।ind-vs-aus-1st-odi

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sports

आईपीएल 21 में मुंबई इंडिया का हिस्सा बने अर्जुन तेंदुलकर ने कहा, मुंबई की टीम का हिस्सा बनने को लेकर बहुत उत्साहित हूं

Published

on

Arjun Tendulkar-Mumbai Indians

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर ने कहा है कि वह बचपन से मुंबई इंडियंस के बहुत बड़े प्रशंसक रहे हैं और इस क्लब में शामिल होने के लिए उत्साहित हैं।

मुंबई इंडियंस के ट्विटर हैंडल पर शेयर किए गए इस वीडियो में अर्जुन ने कहा, “बचपन से ही मैं मुंबई इंडियंस का बहुत बड़ा प्रशंसक रहा हूं। मैं इसके बाद कोच, टीम मालिकों और सपॉर्ट स्टाफ का मुझमें भरोसा जताने के लिए शुक्रिया अदा करना चाहूंगा।” बाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज ने आगे कहा, “मैं मुंबई पल्टन की टीम का हिस्सा बनने को लेकर बहुत उत्साहित हूं और ब्लू गोल्ड जर्सी पहनने का इंतजार कर रहा हूं।”

आईपीएल 2021 नीलामी में मुंबई ने अर्जुन को उनके 20 लाख रुपये के आधार मूल्य में खरीदा। अर्जुन ने 14 फरवरी को मुंबई में 73वें पुलिस आमंत्रण शील्ड क्रिकेट टूर्नामेंट के ग्रुप ए मुकाबले में 31 गेंदों में नाबाद 77 रनों की पारी खेली थी और 41 रन देकर तीन विकेट भी झटके थे।

उन्होंने स्पिन गेंदबाज हाशिर दाफेदार के एक ही ओवर में पांच छक्के जड़े थे। 21 वर्षीय अर्जुन ने अपनी शानदार पारी के दौरान पांच चौके और आठ छक्के लगाए थे। अर्जुन के प्रदर्शन की बदौलत एमआईजी क्रिकेट क्लब ने इस्लाम जिमखाना को 194 रनों से करारी शिकस्त दी थी। अर्जुन ने हाल में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेलकर मुंबई की सीनियर टीम में पदार्पण किया था।

 

Continue Reading

Sports

भारत ने दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 317 रनों से हराया, चार मैचों की श्रृंखला में 1-1 से की बराबरी

Published

on

Chennai Test-India beat England
 चेन्नई। भारतीय क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को दूसरे टेस्ट मैच में 317 रनों से हराकर चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 1-1 की बराबरी कर ली है। 482 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही इंग्लिश टीम अपनी दूसरी पारी में चौथे दिन लंच के बाद 164 रनों पर सिमट गई।
भारत से मिले 482 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम को पहला झटका 9वें ओवर में लगा। अक्षर पटेल ने डॉम सिबली को 3 रन पर एलबीडब्ल्यू कर वापस भेजा। इसके बाद 49 के कुल स्कोर पर अश्विन ने रोरी बर्न्स को विराट कोहली के हाथों कैच कराकर भारत को दूसरी सफलता दिलाई। बर्न्स ने 25 रन बनाये।
नाइट वॉचमैन के तौर पर उतरे जैक लीज को अक्षर पटेल ने रोहित शर्मा के हाथों कैच कराकर इंग्लैंड को तीसरा झटका दिया। इंग्लैंड को चौथा झटका डैनियल लॉरेंस के रूप में लगा, जो 26 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर रिषभ पंत के हाथों स्टंप आउट हो गए।
अश्विन ने दसवीं बार टेस्ट क्रिकेट में बेन स्टोक्स को फंसाया। स्टोक्स 8 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर कोहली के हाथों कैच आउट हुए। इंग्लैंड को छठां झटका अक्षर पटेल ने दिया। उन्होंने ओली पोप को 12 रन के निजी स्कोर पर ईशांत शर्मा के हाथों कैच आउट कराया। कुलदीप यादव को मैच की पहली सफलता बेन फोक्स के रूप में मिली। इससे पहले ओवर में सिराज ने रूट का कैच छोड़ा था।
फोक्स 2 रन बनाकर आउट हो गए। उनका कैच अक्षर पटेल ने पकड़ा। 116 के कुल स्कोर पर अक्षर पटेल ने कप्तान जो रूट को रहाणे के हाथों कैच कराकर इंग्लैंड को आठवां झटका दिया। रूट ने 33 रन बनाए। इसके बाद अक्षर ने ऑली स्टोन को एलबीडब्ल्यू कर भारत को नौवीं सफलता दिलाई। स्टोन खाता भी नहीं खोल पाए। यह अक्षर का दूसरी पारी में पांचवां विकेट था।
स्टोन के आउट होने के बाद मोईन अली ने 18 गेंदों पर 43 रनों की आतिशी पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 5 छक्के और तीन चौके लगाए। उनकी इस आतिशी पारी का अंत कुलदीप यादव ने किया। कुलदीप की गेंद पर पंत ने उन्हें स्टम्प आउट किया और भारत ने 317 रनों से शानदार जीत हासिल की। भारत की तरफ से अक्षर पटेल ने पांच,रविचंद्रन अश्विन ने तीन और कुलदीप यादव ने दो विकेट लिए।
इससे पहले रविचंद्रन अश्विन की बेहतरीन शतकीय पारी की बदौलत भारत ने अपनी दूसरी पारी में सभी विकेट खोकर 286 रन बनाए। अश्विन ने शानदार 106 रनों की शतकीय पारी खेली। अश्विन के अलावा विराट कोहली ने 62 और रोहित शर्मा ने 26 रन बनाए।
 इस मुकाबले में भारत ने अपनी पहली पारी में 329 रन बनाए थे,जवाब में इंग्लैंड की टीम पहली पारी में 134 रनों पर सिमट गई थी। पहली पारी के आधार पर भारत को 195 रनों की बढ़त हासिल हुई थी। इंग्लैंड के लिए दूसरी पारी में जैक लीच और मोईन अली ने 4-4 व ऑली स्टोन ने 1 विकेट लिया।
 इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के बेहतरीन शतक (161) की बदौलत अपनी पहली पारी में 329 रन बनाए। रोहित के अलावा उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने 67 रन बनाए,जबकि रिषभ पंत 58 रन बनाकर नाबाद रहे। इंग्लैंड की तरफ से मोईन अली ने 4,ऑली स्टोन ने 3, जैक लीच ने 2 और जो रूट ने 1-1 विकेट लिया। इसके जवाब में पहली पारी में इंग्लैंड की टीम सिर्फ 134 रन बनाकर ढेर हो गई।
मेहमान टीम के लिए बेन फोक्स ने सबसे ज्यादा 42 रन बनाए। भारत की तरफ से रविचंद्रन अश्विन ने अपनी स्पिन गेंदबाजी से इंग्लैंड की कमर तोड़ी और पहली पारी में 5 विकेट लेकर मेहमानों को बैकफुट पर धकेल दिया।
Continue Reading

Sports

रोहित के नाम ऐतिहासिक उपलब्धि, घरेलू जमीन पर सर्वाधिक शतक लगाने के मामले में अजहरुद्दीन को छोड़ा पीछे

Published

on

Rohit Sharma-Century

चेन्नई। इंग्लैंड के खिलाफ यहां जारी दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन बेहतरीन शतकीय पारी खेल भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने एक खास उपलब्धि अपने नाम कर ली है। रोहित ने शनिवार को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन अपने करियर का सातवां टेस्ट शतक लगाया।

 रोहित ने ये सातों शतक देश में ही लगाए हैं। यह एक रिकार्ड है। इससे पहले यह रिकार्ड मोहम्मद अजहरूद्दीन के नाम था, जिन्होंने छह शतक देश में लगाने के बाद विदेश में अपना पहला शतक लगाया था।

वैश्विक स्तर पर देखा जाए तो बांग्लादेश के मोमिनुल हक के नाम अपने शुरुआती 10 शतक देश में ही लगाने का रिकार्ड है। इस क्रम में रोहित का नाम दूसरे स्थान पर है।
इसके बाद एफएस जैक्सन, चंदू बोर्डे और मार्नस लाबुशैन के नाम हैं, जिन्होंने पांच-पांच शतक देश में लगाने के बाद ही विदेशी पिचों पर तीन अंकों को छुआ था। रोहित ने साल 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ शतक लगाया था। अब उन्होंने नौ पारियों, 15 महीने के बाद पहला शतक लगाया है। चेन्नई में यह उनका पहला शतक है।
Continue Reading

लोकप्रिय

%d bloggers like this: