Connect with us

Saharsha

सहरसा SBI से पैसा निकालकर रजिस्ट्री ऑफिस जा रहे लोगों से अपराधियों ने डेढ़ लाख लूटे

Published

on

Criminals looted one and a half lakh from people going to registry office by withdrawing money from saharsa sbi

सहरसा, देशज न्यूज। लेडी सिंघम के रूप में चर्चित तेज तर्रार एसपी को बेलगाम अपराधी खुलेआम चुनौती देते हुए ताबड़तोड़ घटना को आये दिन अंजाम दे रहे हैं।उसी क्रम में शहर के अति व्यस्त व प्रमुख सड़क पर जिला (Criminals looted one and a half lakh from people going to registry office by withdrawing money from saharsa sbi) स्कूल के समीप सिविल सर्जन आफिस के सामने बुधवार को दिन दहाड़े दो बाइक सवार अपराधियों ने  डेढ लाख रुपये लूट ली।

पीडित नीरज कुमार व अमित कुमार सिंह ने थाना को दिये आवेदन में कहा कि हमलोग पुरब बजार स्थित एसबीआई बजार शाखा से डेढ़ लाख रुपये निकासी की। जिसे अपने बैग में रख चालान जमा करने के लिए रजिस्ट्री आफिस जा रहे थे।गाडी अमित कुमार सिंह चला रहे थे। जबकि नीरज कुमार सिंह बैग को बीच में रख पीछे बैठे थे। वो (Criminals looted one and a half lakh from people going to registry office by withdrawing money from saharsa sbi) लोग डीबी रोड होते हुए रजिस्ट्री आफिस जा रहे थे।
जिला स्कूल के समीप पीछे से काले रंग की अपाची गाडी हमलोग के बाइक में ठोकर मार दी। जिस कारण हम लोग गिर पड़े उस समय जब तक संभलते तब तक अचानक उक्त अपाची सवार अपराधी ने उनके हाथ से बैग छीन कचहरी की तरफ भाग गया। उन्होने थाना में प्राथमिकी दर्ज करा अपराधियों को पकड़ने तथा रूपये बरामदगी (Criminals looted one and a half lakh from people going to registry office by withdrawing money from saharsa sbi) की मांग की है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Saharsha

सहरसा के कहरा हाई स्कूल के प्रभारी प्राचार्य हुए कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

Published

on

Stirred by the corona positive of the Principal in charge of Sahara's Kahara High School

सहरसा, देशज न्यूज। कोरोना संक्रमण के दौर में चार जनवरी से माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक स्तर के विद्यालयों में 50 प्रतिशत बच्चों के साथ शिक्षण व्यवस्था राज्य सरकार के निर्देश पर जिले में शुरू किया गया है। शुरुआत में ही इसके परिणाम विपरीत आने शुरू हो गए हैं। कहरा प्रखंड के उत्क्रमित उच्च विद्यालय सुलिंदाबाद के (Stirred by the corona positive of the Principal in charge of Sahara’s Kahara High School) प्रभारी प्राचार्य कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं।

इनके पॉजिटिव पाए जाने से विद्यालय में शिक्षक एवं बच्चों सहित अभिभावकों में हड़कंप मच गया है। अभिभावक सहित शिक्षक जहां सबों की जांच की बात कर रहे हैं। वहीं जिला शिक्षा पदाधिकारी जयशंकर प्रसाद ठाकुर ने इसकी सूचना नहीं होने की बात कही है।

 इस बाबत उन्होंने कहा कि उन्हें किसी प्रकार की इस (Stirred by the corona positive of the Principal in charge of Sahara’s Kahara High School)  तरह की जानकारी नहीं है। विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य अगर कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं तो उनके कांटेक्ट में आए शिक्षकों, अभिभावकों, रसोईया एवं बच्चों का खोज कर जांच कराया जाएगा। सभी नियमानुकूल कार्य किए जाएंगे। इस कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरती जाएगी।
वहीं बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष सह प्रदेश सचिव निरंजन कुमार ने कहा कि विद्यालय खुलने के प्रारंभिक दौर में ही प्रभारी प्रधानाचार्य के कोविड-19 पॉजिटिव होने से शिक्षकों में डर का (Stirred by the corona positive of the Principal in charge of Sahara’s Kahara High School) माहौल बन रहा है।
उन्होंने प्रभारी प्रधानाचार्य के संपर्क में आए सभी लोगों की तत्काल जांच कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार के निर्देशानुसार तत्काल संपर्क में आए लोगों की खोज खबर कर जांच सुनिश्चित (Stirred by the corona positive of the Principal in charge of Sahara’s Kahara High School)  करायी जाए। जिससे किसी प्रकार की क्षति ना हो।
Continue Reading

Saharsha

Saharsa News खेत में साग तोड़ने के विवाद में युवक की लाठी व रॉड से पीट-पीटकर हत्या

Published

on

In Saharsa, a young man was beaten to death with a stick and rod in a dispute of breaking the greens in the field.
सहरसा, देशज न्यूज। जिले के पतरघट ओपी के गोलमा के ऊटी नवटोलिया वार्ड में सोमवार की शाम खेत में बच्चों की ओर से साग तोड़ने की विवाद से उत्पन्न मारपीट की घटना में शंभु यादव (40) की मौत घटनास्थल पर ही (In Saharsa, a young man was beaten to death with a stick and rod in a dispute of breaking the greens in the field.) हो गई।
शंभु यादव की एक बच्ची म.वि. तिलाठी के समीप एक खेत में साग तोड़ रही थी। जिस खेत में साग बच्ची तोड़ रही थी। वह खेत शिवकुमार यादव का था। जिसमें फसल कंचन देवी पति रामदेव रजक ऊटी नवटोलिया (In Saharsa, a young man was beaten to death with a stick and rod in a dispute of breaking the greens in the field.)  लगाया था। रामदेव रजक और उनकी पत्नी कंचन देवी बच्ची को खेत में पकड़ मारपीट किया। बच्ची रोते हुए घर जाकर अपने पिता शंभु यादव से कही।
जिस पर अकेले शंभू यादव उस खेत के समीप पहुंच कर उनलोगों से शिकायत करने की नीयत से गया था। आरोपी कंचन अपने नैहर में रहने के कारण अपने भाई भतीजा को बुलाया लिया। शंभु के साथ कंचन देवी का (In Saharsa, a young man was beaten to death with a stick and rod in a dispute of breaking the greens in the field.)  पति रामदेव रजक, सहित उनका संबंधी सब मिल कर शंभु यादव को लाठी रड से मारपीट करने लगा।
मारपीट किये जाने से शंभु घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया। स्थानीय लोगों द्वारा (In Saharsa, a young man was beaten to death with a stick and rod in a dispute of breaking the greens in the field.)  घटना की सूचना दिये जाने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंच शव को कब्जे में कर जांच पड़ताल में जुट गई।
Continue Reading

Saharsha

सहरसा-मानसी-पूर्णिया रेलखंड दोहरीकरण को मिली मंजूरी, जानिए दरभंगा को क्या मिलेगा फायदा

Published

on

Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga
सहरसा, देशज न्यूज। सहरसा-मानसी और सहरसा-पूर्णिया कोर्ट रेलखंडों का दोहरीकरण किया जाएगा। रेल मंत्रालय ने इसे मंजूरी देते हुए नेशनल रेल प्लान 2021 में शामिल कर लिया है। रेलखंडों का दोहरीकरण कार्य चरणबद्ध करने की योजना बनाई गई है। दोहरीकरण कार्य की शुरुआत सहरसा तरफ से सहरसा-सिमरी बख्तियारपुर (17.15 किमी) में होगी। (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) उसके बाद फनगो सिमरी बख्तियारपुर-फनगो हॉल्ट (11.58 किमी) और फनगो हॉल्ट-मानसी (14.13 किमी) किमी में दोहरीकरण किया जाएगा।
सहरसा-मानसी के बीच कुल 42.86 किमी की दूरी में नॉर्मल सिंग्नलिंग सुविधा के साथ दोहरीकरण कार्य वर्ष 2031 तक पूरा करने की योजना बनाई गई है। इस रेलखंड पर टिकास सिंग्नलिंग की सुविधा वर्ष 2051 तक बहाल (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) करने की योजना बनाई गई है।
इसमें बागमती और कोसी नदी पर फनगो हॉल्ट-बदला घाट के बीच दोहरीकरण कार्य करना मुश्किलों से भरा होगा। वहीं सहरसा-पूर्णिया कोर्ट (96.02 किमी) रेलखंड पर (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) नॉर्मल सिंग्नलिंग के साथ वर्ष 2051 तक दोहरीकरण कार्य पूरा करने की योजना तैयार की गई है।
इसमें सहरसा-मधेपुरा (20.93 किमी) रेलखंड से दोहरीकरण कार्य की शुरुआत होगी। पूर्णिया कोर्ट-बनमनखी(32.07 किमी) और बनमनखी-मधेपुरा(43.02 किमी) में भी दोहरीकरण कार्य होगा। कोसी की जीवनरेखा कहे जाने वाले रेलखंडों का दोहरीकरण होने से ट्रेनों के विलंब परिचालन की समस्या दूर होगी। हॉल्ट और बिना ठहराव वाले स्टेशनों पर ट्रेनों को (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) रोककर सहरसा रेल यार्ड खाली होने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। ट्रेनों की संख्या बढ़ने की संभावना बनेगी।
बाढ़-बरसात के समय में नदी के दवाब से अगर एक ट्रैक पर खतरा बना तो परिचालन जारी रहने का दूसरा रेललाइन विकल्प बनेगा। सहरसा-सुपौल(27.86 किमी) रेलखंड का (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) भी दोहरीकरण होगा। नवीनतम टिकास सिंग्नलिंग सुविधा के साथ वर्ष 2051 तक दोहरीकरण कार्य पूरा करने की योजना बनाई गई है।
वहीं सुपौल-नरपतगंज रेलखंड में भी टिकास सिंग्नलिंग सुविधा के साथ वर्ष 2051 तक दोहरीकरण पूरा करने की योजना है। खगड़िया, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर और मुंगेर की कई रेललाइनों का भी दोहरीकरण किया जाएगा। सकरी-मधुबनी (17.22 किमी) और मधुबनी-जयनगर (31.65 किमी) रेलखंड के दोहरीकरण को मंजूरी देते हुए वर्ष 2031 तक नॉर्मल सिंग्नलिंग (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) सुविधा के साथ पूरा करने की योजना बनाई गई है।
 दरभंगा-सकरी (19.89 किमी) को वर्ष 2026 तक नॉर्मल सिंग्नलिंग और 2051 तक टिकास सिंग्नलिंग के साथ दोहरीकरण की योजना है। हसनपुर रोड-समस्तीपुर (46.04 किमी) और हसनपुर रोड-खगड़िया (40.73 किमी) रेलखंडों को नॉर्मल सिंग्नलिंग सुविधा के साथ वर्ष 2041 तक (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) दोहरीकरण करने की योजना है। साहेबपुर कमाल-सबदलपुर (4.71किमी) और मुंगेर-सबदलपुर(5.78 किमी) को नॉर्मल सिंग्नलिंग के साथ वर्ष 2041 तक पूरा करने की योजना है।
वहीं दिनकर ग्राम सिमरिया-बरौनी(5.62) किमी रेलखंड पर टिकास सिंग्नलिंग के साथ वर्ष 2041 में तीसरी और 2051 में चौथी लाइन बनाने की योजना है। सीपीआरओ, ईसीआर राजेश कुमार ने (Ministry of Railways approves doubling of Saharsa-Mansi-Purn-Approval for doubling of Saharsa-Mansi-Purnia railway line, know what will benefit Darbhanga) रविवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि रेल मंत्रालय ने पूर्व मध्य रेल की कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं को नेशनल रेल प्लान 2021 में शामिल किया है। कौन सा प्रोजेक्ट कब तक पूरा होगा उसकी प्लानिंग की गई है।
Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: