Connect with us

kusheshwarasthan

कुशेश्वरस्थान के सतीघट-राजघाट व समैला-लैरझा जर्जर सड़क के खिलाफ घंटों जाम, भूख हड़ताल

Published

on

कुशेश्वरस्थान के सतीघट-राजघाट व समैला-लैरझा जर्जर सड़क के खिलाफ घंटों जाम, भूख हड़ताल

दरभंगा,देशज टाइम्स ब्यूरो। कुशेश्वरस्थान के सतीघट-राजघाट व समैला-लैरझा जर्जर सड़क के खिलाफ गुरुवार को एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष त्रिभुवन कुमार के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों ने स्टेट हाइवे 56 को सतीघाट चौक को जाम करते हुए  बीच सड़क पर भूख-हड़ताल शुरू कर दिया। जमकर प्रदर्शन करते नारेबाजी की।

जानकारी के अनुसार, प्रदर्शन से सुबह ग्यारह बजेसे शाम तक यातायात ठप रहा। सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगी रही। कार्यकर्ता व ग्रामीण दोनों सड़कों के निर्माण के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधियों के खिलाफ गुस्सा उतार रहे थे।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

मौके पर एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष श्री कुमार के नेतृत्व में भूख-हड़ताल पर दिलखुश कुमार व मुकेश कुमार सहित दो दर्जन से अधिक युवक बैठे हैं। प्रखंड के दक्षिणी क्षेत्र के 7 पंचायत के करीब पांच सौ से अधिक लोगों ने भूख-हड़ताल में शामिल लोगों के समर्थन में खराब मौसम के बावजूद प्रर्दशन स्थल पर डटे रहे।

जिलाध्यक्ष त्रिभुवन कुमार ने बताया, दोनों सड़कों के निर्माण के लिए जब तक जिम्मेदार वरीय पदाधिकारी या जनप्रतिनिधि निर्माण के लिए ठोस व लिखित आश्वासन नहीं दे देते हम भूख-हड़ताल, धरना प्रदर्शन पर डटे रहेंगे।

इससे पहले प्रदर्शनकारियों ने सतीघाट-राजघाट मार्ग को भी सोहरबाघाट चौक पर बांस-बल्ले से घेरकर यातायात ठप कर दिया है। स्टेट हाइवे 56 कुशेश्वरस्थान- बिरौल व सतीघाट-राजघाट दोनों मुख्य मार्ग में घंटों यातायात ठप रहा। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए एक दर्जन पुलिस बल मौके पर तैनात है।

आंदोलनकारी से वार्ता के लिए सीओ के साथ बीडीओ रत्नेश कुमार पहुंचे। बीडीओ रत्नेश कुमार ने बताया,उनकी मांगों को संबंधित विभागीय अधिकारी को भेजेंगे। मांगों पर साकारात्मक विचार होगा। इधर, प्रदर्शनकारी अनुमंडलीय या जिला स्तरीय पदाधिकारी के आने व सड़क निर्माण किए जाने का आश्वासन देने की मांग पर अड़े है। मौके पर अनिकेत कुमार, सुमित, संतोष,विक्की, ऋषिकेश, राजीव, सुजीत, गौतम व कन्हैया सहित सैकड़ों ग्रामीण युवक उपस्थित थे।कुशेश्वरस्थान के सतीघट-राजघाट व समैला-लैरझा जर्जर सड़क के खिलाफ घंटों जाम, भूख हड़ताल

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

kusheshwarasthan

कुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1दर्जन गांवों तक वोट से पहुंचा प्रशासन

Published

on

कुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1दर्जन गांवों तक वोट से पहुंचा प्रशासन
कुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1 दर्जन गांवों तक मोटरवोट से पहुंचा प्रशासन
कुशेश्वरस्थान पूर्वी रिपोर्टर, बिरौल अनुमंडल डेस्क देशज टाइम्स। बाढ़ की भयावता के मद्देनजर अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी सह वरीय प्रभारी नदीमुल गफ्फार सिद्दीकी ने सोमवार को मोटर वोट से प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने  चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर, बिसुनिया पोखर सहित एक दर्जन गांव व टोला का (kusheshwarasthan purvi ke chakiya) भ्रमण करते हुए बाढ़ की स्थिति से रु-ब- रु हुए।
इसी क्रम में वरीय प्रभारी श्री सिद्दीकी ने चौकिया गांव में (kusheshwarasthan purvi ke chakiya) सामुदायिक किचेन चालू करने का निर्देश मौके पर उपस्थित सीओ त्रिवेणी प्रसाद को दिया। इसके अलावा बाढ़ से क्षतिग्रस्त घरों के गृहस्वामी को प्लास्टिक उपलब्ध कराने कोकुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1दर्जन गांवों तक वोट से पहुंचा प्रशासन
कहा, जिससे बारिश से बचाव हो सके। जान-माल सुरक्षित रह सके। लोगों का नुकसान कम हो। इसके लिए कई बिंदुओं पर प्रशासन कार्य कर रहा है।
बाढ़ के तेज बहाव में चौकिया पासवान टोला मे लगभग 18-19 घर मे बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुका है (kusheshwarasthan purvi ke chakiya) जबकि कई घर नदी में विलीन हो चुका है।
वरीय प्रभारी नदीमुल गफ्फार सिद्दीकी ने देशज टाइम्स को बताया, चौकिया से पश्चिमी तटबंध, इटहर से पूर्वी तटबंध व चौकिया से लक्ष्मीनिया के लिए अंचल प्रशासन की ओर से एक-एक नाव मुहैया कराई गई है। (kusheshwarasthan purvi ke chakiya)जल्द ही और नाव की व्यवस्था की जा रही है। मौके पर बीडीओ अशोक कुमार जिज्ञासु भी मौजूद थे।
Continue Reading

kusheshwarasthan

कुशेश्वरस्थान में जीजा की बाइक लेकर सीखने निकला युवक, बिजली पोल से टकराकर मौत,कोहराम

Published

on

कुशेश्वरस्थान में जीजा की बाइक लेकर सीखने निकला युवक, बिजली पोल से टकराकर मौत,कोहराम
कुशेश्वरस्थान में जीजा की बाइक लेकर सीखने निकला युवक, बिजली पोल से टकराकर मौत,कोहराम

कुशेश्वरस्थान पूर्वी रिपोर्टर, बिरौल अनुमंडल डेस्क देशज टाइम्स। थाना क्षेत्र के गुलड़िया गांंव में मोटरसाइकिल सीखने के दौरान युवक की मौत हो गई। वह अपने जीजा की बाइक लेकर सीखने निकला था। (kusheshwarasthan me bick sikhne) उसकी मौत पंचमी के दिन होने से पूरे गांव में मातम छा गया है। वहीं, परिजनों में कोहराम मच गया है।

देशज टाइम्स को मिली जानकारी के अनुसार, (kusheshwarasthan me bick sikhne) गुलड़िया गांंव निवासी बड़ेलाल यादव के 18 वर्षीय पुत्र दीपक यादव शुक्रवार को अपने जीजा के मोटरसाइकिल से सीखने के लिए गांंव में ही एक सड़क पर निकला था। इसी दौरान मोटरसाइकिल की तेज रफ्तार ने नियंत्रण खो दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने देशज टाइम्स को बताया, मोटरसाइकिल (kusheshwarasthan me bick sikhne) सड़क किनारे एक बिजली के पोल से जाकर टकरा गई, जिससे मौके पर ही दीपक की मौत हो गई। इस घटना से पूरे इलाके में शोक की लहर दौड़ गई है।
Continue Reading

kusheshwarasthan

बाबा की नगरी कुशेश्वरस्थान में नाग देवता की पूजा अर्चना में डूबे भक्त, भगत की भगतई ने मोहा

Published

on

बाबा की नगरी कुशेश्वरस्थान में नाग देवता की पूजा अर्चना में डूबे भक्त, भगत की भगतई ने मोहा
बाबा की नगरी कुशेश्वरस्थान में नाग देवता की पूजा अर्चना में डूबे भक्त, भगत की भगतई ने मोहा

कुशेश्वरस्थान पूर्वी रिपोर्टर, बिरौल अनुमंडल डेस्क देशज टाइम्स। नाग पंचमी के (baba ki nagri kusheshwarasthan) अवसर पर प्रखंड के ग्रामीण इलाकों में श्रद्धा और विश्वास के साथ नाग देवता की विधिवत पूजा-अर्चना की गई।

इस दौरान भक्तों ने गांव के गोहबर में दूध-लावा, पान -सुपारी सहित अन्य (baba ki nagri kusheshwarasthan) पूजा सामग्रियों के साथ नाग देवता को चढ़ाया। इस बीच केवटगामा गांव के भगत बेचो राय, हरनाही के भगत राम इकबाल राय सहित कई नामी गामी भगतों ने अपने-अपने भगताई की करतब को दिखाया

वहीं, गहिल माता, माता बिसहरा बाबा भुंइया, बाबा डीहवार, बाबा दीनाभद्री आदि देवता (baba ki nagri kusheshwarasthan) का भाव किया। जानकारी के अनुसार, सावन के पंचमी तिथि को विधिवत रूप से कुशेश्वरस्थान (baba ki nagri kusheshwarasthan) सहित क्षेत्र  के सभी गांव में नाग देवता का पूजा प्रत्येक वर्ष धूमधाम के साथ मनाया जाता है ।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.