Connect with us

kusheshwarasthan

Deshaj Exclusive : खगड़िया और सहरसा दियारा में इन दिनों बंदूक की भाषा में हो रही बात

Published

on

Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days
प्रशांत कुमार, कुशेश्वरस्थान पूर्वी, देशज टाइम्स।
प्रखंड मुख्यालय के खगड़िया और सहरसा दियारा में इन दिनों बंदूक की भाषा में बात की जाती है। बात-बात में बंदूक निकालकर गोली चलाना यहां आम बात हो गई है। जिससे यहां रहने वाले लोग दहशत में अपने जिंदगी जीने के लिए मजबूर हो चुके है। शाम होते ही लोग अपने घरों में दुबक जाते है, और यहां का स्थानीय पुलिस (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days) चुपचाप तमाशा देख रही है।
जानकारी के तिलकेश्वर दियारा के काजल यादव गैंग के शंकर यादव और खगड़िया सीमा क्षेत्र के दियारा के मनोज सदा गैंग दियारा में अपना वर्चस्व कायम रखने के लिए प्रत्येक दिन आमने सामने होते है और इस दौरान लगभग सौ राउंड से अधिक गोली चलती है। यहां खुलेआम अपराधी घोड़े पर सवार होकर बंदूक के प्रदर्शन करते (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days)  देखे जा रहे हैं। इतना ही नही यहां के लोगो मे दहशत कायम रहे इसको लेकर आमलोगों को भी काफी परेशान किया जा रहा है।
जानकर सूत्रों की माने तो दियारा के शंकर यादव पर तिलकेश्वर ओपी सहित सहरसा जिले के बख्तियारपुर एवं समस्तीपुर जिले के बिथान थाना में लगभग एक दर्जन से अधिक आर्म्स एक्ट और लूटपाट का प्राथमिकी दर्ज है। इसके बावजूद शंकर यादव तिलकेश्वर ओपी प्रभारी द्वारा आयोजित शांति समिति की बैठक में शामिल होता (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days)  है और पुलिस उसे गिरफ्तार करने की हिम्मत नही जुटा पाती है। विगत दो माह पूर्व शंकर यादव ने ओपी प्रभारी अखिलेश कुमार राय के सामने  पिस्टल लहराते हुए स्थानीय मुखिया पति को गोली मारने की धमकी तक भी दे चुका है।
महादलित परिवार के बेटियों के साथ दुर्व्यवहार कर उसे डराना धमकाना, अपहरण कर पैसे मांगना, राह चलते राहगीरों को लूटना इस दियारा के अपराधियों के लिए आम बात है। नाम नही छापने के शर्त पर तिलकेश्वर के एक स्थानीय ग्रामीण ने बताया की शंकर यादव यहां के कमजोर वर्ग के लोगो के जमीन पर जबरन कब्जा (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days)  कर लोगो को बेदखल कर देता है। इस इलाके में इसका इतना दहशत कायम है कि कई लोग तिलकेश्वर छोड़कर दूसरे स्थानों के लिए पलायन कर चुके है।
जानकर बताते है कि यहां के अपराधियों में कानून का जरा सा भी डर नही है। इन अपराधियों का इतना मनोबल बढ़ा हुआ है कि विगत दो माह पूर्व तिलकेश्वर के मुखिया हीरा देवी  (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days)  के घर से अपराधियों ने जबरन बंदूक के बल पर दो ट्रैक्टर उठा ले गया था जिसे सहरसा जिले के बख्तियारपुर थाना के कनेरिया ओपी की मदद से ट्रैक्टर बरामद किया गया था। इसके कुछ दिन बाद ही रात के करीब बारह बजे मुखिया के घर लगभग पच्चास राउंड गोलीबार कर मारपीट की गई थी जिसमें थाना कांड संख्या 244/20 दर्ज किया गया था।
स्थानीय ग्रामीणों की माने तो जब से अखिलेश कुमार राय यहां का प्रभार संभाले है तब से क्षेत्र में अपराधियों का मनोबल ज्यादा ही बढ़ गया है। यहां अपराधी खुलेआम गांवो में (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days)  घुसकर हथियारों का प्रदर्शन करता है और स्थानीय पुलिस मूकदर्शक बनी रहती है।
इस मामले में तिलकेश्वर पंचायत के मुखिया पति किरणदेव मुखिया ने बताया कि ओपी प्रभारी के लापरवाही के कारण यहां के लोगो मे दहशत का माहौल बना रहता है। अपराधी गांव में ही रहता है पर पुलिस उसे गिरफ्तार करना उचित नही समझता इसको लेकर एसएसपी दरभंगा से लेकर आईजी, डीआईजी (Deshaj Exclusive: Speaking of gun language in Khagaria and Saharsa diara these days)  तक को लिखित आवेदन दिया गया पर महीनों बीत जाने के बाद भी आज तक किसी प्रकार की ठोस कार्यवाई पुलिस आला अधिकारियों की ओर से  नही किया जा रहा है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bihar

Deshaj Exclusive: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बाद बाबा कुशेश्वरनाथ शिव मंदिर का होगा उद्धार

Published

on

Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed
Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed

प्रशांत कुमार, कुशेश्वरस्थान पूर्वी, देशज टाइम्स रिपोर्ट। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बाद बाबा कुशेश्वर नाथ शिव मंदिर का भी होगा उद्धार। वहां राम मंदिर नहीं बल्कि राष्ट्र मंदिर का निर्माण हो रहा है। यह बात देशज टाइम को विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जीवेश कुमार मिश्र ने कही।

उन्होंने बताया कि ऐसा मान्यता है कि भगवान श्री राम के पुत्र कुश के द्वारा बाबा कुशेश्वर नाथ मंदिर में स्थित शिवलिंग की स्थापना की गई थी। इसलिए राम मंदिर निर्माण के बाद कुशेश्वर नाथ मंदिर (Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।  बता दे की शुक्रवार की सुबह श्री मिश्र पावन नगरी कुशेश्वरस्थान पहुंच बाबा भोलेनाथ का पूजा-अर्चना की।

पूजा के बाद राम मंदिर निर्माण को लेकर शिव गंगा घाट पर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण में देश के (Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) सभी हिंदुओं का कुछ ना कुछ योगदान हो। ताकि हर एक हिन्दू मंदिर निर्माण के बाद गर्व से कह सके की उन्होंने भी अपना योगदान मंदिर निर्माण में दिया था।

कहा, पहले अन्य देशों से लोग हिंदुस्तान में लालकिला और ताजमहल देखने आया करते थे। लेकिन जिस तरह से राम मंदिर का भव्य निर्माण हो रहा है। इसके बाद लोग राम मंदिर को देखने आएंगे। (Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) इसके बाद विश्व हिंदू परिषद की टीम केवटगामा में भी महादलित बस्ती में एक सभा का आयोजन किया।

इस बाबत मौके पर मौजूद भक्तों ने राशिद कटा राम मंदिर (Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) निर्माण में अपना योगदान दिया। मौके पर सेवा प्रमुख रविन्द्र कुमार सिंह, भाजपा जिला मंत्री मीना झा, शिक्षक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक सुनील चौधरी, उमाशंकर साह, मणिकांत झा सहित सैकड़ों बजरंगदल, आरएसएस एवं भाजपा कार्यकर्ताओं के आलावे सैकड़ों लोग मौजूद थे।

Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed

Deshaj Exclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed

Continue Reading

kusheshwarasthan

DeshajExclusiveअयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बाद बाबा कुशेश्वरनाथ शिव मंदिर का होगा उद्धार

Published

on

DeshajExclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed

प्रशांत कुमार, कुशेश्वरस्थान पूर्वी, देशज टाइम्स रिपोर्ट। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बाद बाबा कुशेश्वर नाथ शिव मंदिर का भी होगा उद्धार। वहां राम मंदिर नहीं बल्कि राष्ट्र मंदिर का निर्माण हो रहा है। यह बात देशज टाइम को विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जीवेश कुमार मिश्र ने कही।

उन्होंने बताया कि ऐसा मान्यता है कि भगवान श्री राम के पुत्र कुश के द्वारा बाबा कुशेश्वर नाथ मंदिर में स्थित शिवलिंग की स्थापना की गई थी। इसलिए राम मंदिर निर्माण के बाद कुशेश्वर नाथ मंदिर (DeshajExclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।  बता दे की शुक्रवार की सुबह श्री मिश्र पावन नगरी कुशेश्वरस्थान पहुंच बाबा भोलेनाथ का पूजा-अर्चना की।

पूजा के बाद राम मंदिर निर्माण को लेकर शिव गंगा घाट पर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण में देश के (DeshajExclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) सभी हिंदुओं का कुछ ना कुछ योगदान हो। ताकि हर एक हिन्दू मंदिर निर्माण के बाद गर्व से कह सके की उन्होंने भी अपना योगदान मंदिर निर्माण में दिया था।

कहा, पहले अन्य देशों से लोग हिंदुस्तान में लालकिला और ताजमहल देखने आया करते थे। लेकिन जिस तरह से राम मंदिर का भव्य निर्माण हो रहा है। इसके बाद लोग राम मंदिर को देखने आएंगे। (DeshajExclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) इसके बाद विश्व हिंदू परिषद की टीम केवटगामा में भी महादलित बस्ती में एक सभा का आयोजन किया।

इस बाबत मौके पर मौजूद भक्तों ने राशिद कटा राम मंदिर (DeshajExclusive After construction of Ram temple in Ayodhya, Baba Kusheshwarnath Shiva temple will be redeemed) निर्माण में अपना योगदान दिया। मौके पर सेवा प्रमुख रविन्द्र कुमार सिंह, भाजपा जिला मंत्री मीना झा, शिक्षक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक सुनील चौधरी, उमाशंकर साह, मणिकांत झा सहित सैकड़ों बजरंगदल, आरएसएस एवं भाजपा कार्यकर्ताओं के आलावे सैकड़ों लोग मौजूद थे।

Continue Reading

kusheshwarasthan

बढ़ी ठंड की कनकनी तो सरकारी कार्यालयों से मंदिरों तक छाया है सन्नाटा, अलाव के सहारे लोग

Published

on

The rise of the cold is a shadow of silence from government offices to temples, people with the help of bonfire
कुशेश्वरस्थान पूर्वी, देशज टाइम्स रिपोर्ट। प्रखंड क्षेत्र एवं आस-पास के इलाकों में अचानक ठंढ़ बढ़ने से लोगो की परेशानी बढ़ गई है। लागतार बढ़ रही कनकनी ने लोगो को अपने घरों में ही रहने के लिए मजबूर कर दिया है। लोग अपने घरों से बाहर नही निकल रहे है। जिसका असर आज स्थानीय बाजारों में भी देखने को मिला।
शिवनगरी होने के कारण यहां प्रत्येक दिन हजारों की संख्या में लोग बाबा का पूजा अर्चना करने आते थे कि अचानक बढ़ी ठंढ़ से स्थानीय बाजार भी पूरी तरह वीरान है। इसके अलावे (The rise of the cold is a shadow of silence from government offices to temples, people with the help of bonfire) सरकारी कार्यालय में भी आम लोगो की भीड़ अन्य दिन के तरह नहीं थी। यहां पदाधिकारियों एवं कर्मियों के अलावे आम लोग नहीं के बराबर थे।
वहीं स्थानीय शिव मंदिर भी वीरान था। मंदिर के मुख्य द्वार पर स्थानीय पंडा अलाव जला बैठे रहे। जो यहां के स्थानीय दुकानदार या निवासी है वह अपने निजी स्तर से अलाव जलाकर अपने (The rise of the cold is a shadow of silence from government offices to temples, people with the help of bonfire) शरीर को गर्म करते देखें गए। सारा दिन कुहासे के साथ साथ सर्द हवाएं चलती रही।
Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: