Connect with us

News

Uttarakhand-Corona Report: उत्तराखंड में कोरोना से पूर्व डिप्टी स्पीकर मैखुरी समेत 8 की मौत

Published

on

Uttarakhand-Corona Report: उत्तराखंड में कोरोना से पूर्व डिप्टी स्पीकर मैखुरी समेत 8 की मौत

पिछले 24 घंटे में 680 मिले संक्रमित, 457 लोग स्वस्थ हुए,- राज्य में कोरोना संक्रमित कुल मरीजों की संख्या 77,573, एक्टिव केस 5,176 हुए, – राज्य में कोरोना मरीजों के स्वस्थ होने की औसत दर 90.61 प्रतिशत हुई

देहरादून, देशज न्यूज। उत्तराखंड Uttarakhand-Corona Report में पिछले 24 घंटे के दौरान विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष डा. अनुसूया प्रसाद मैखुरी समेत 8 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। इस दौरान राज्य में 680 नए मामलों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई और 457 मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं।
इस तरह राज्य में कोरोना संक्रमित कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 77,573 और एक्टिव केस की संख्या 5,176 हो गई है। राज्य में कोरोना मरीजों के ठीक होने का औसत 90.61 प्रतिशत हो गया है। राज्य में अब तक कुल 70,288 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं।
उत्तराखंड विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष डा. अनुसूया प्रसाद मैखुरी लगभग डेढ़ माह  से अधिक समय तक देहरादून के मैक्स अस्पताल में कोरोना महामारी से जूझते रहे और अंततोगत्वा शनिवार को जिंदगी की जंग हार गए। डा. मैखुरी 2002 से 2007 तक बदरीनाथ से विधायक रहे। उसके बाद फिर 2012 में कर्णप्रयाग से विधायक निर्वाचित हुए। वह 2012 से 2017 तक उत्तराखंड विधानसभा के उपाध्यक्ष रहे थे। डा. मैखुरी कांग्रेस के ऐसे नेता थे, जिनकी लोकप्रियता सभी दलों के नेताओं के बीच थी।
उधर, राज्य के कोविड 19 कंट्रोल रूम ने शनिवार शाम जारी हेल्थ बुलेटिन में बताया कि आज राज्य के अल्मोड़ा जिले में 50, बागेश्वर जिले में 25, चमोली में 27, चंपावत में 14, देहरादून में 307, हरिद्वार में 38, नैनीताल में 87, पौड़ी में 33, पिथौरागढ़ में 36, रुद्रप्रयाग में 9, टिहरी में 15, ऊधम सिंह नगर में 31 और उत्तरकाशी में 8 सैम्पल की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है। राज्य में अबतक कोरोना संक्रमित 1,281 मरीजों की मौत हो चुकी है और 828 मरीज कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने से पहले ही राज्य से बाहर जा चुके हैं।
उधर,Uttarakhand-Corona Report राज्य में विभिन्न अस्पतालों में उपचाराधीन 457 मरीजों को आज स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दी गई। इनमें अल्मोड़ा जिले के 9, चमोली के 21, चंपावत के 6, देहरादून के 122, हरिद्वार के 49, नैनीताल के 39, पौड़ी के 100, पिथौरागढ़ के 30, रुद्रप्रयाग के 8, टिहरी के 46, ऊधमसिंह नगर के 2 और उत्तरकाशी के 25 मरीज हैं। इस तरह राज्य में फिलहाल 5,176 मरीज विभिन्न अस्पतालों में उपचाररत हैं। इनमें अल्मोड़ा जिले में 285, बागेश्वर में 171, चमोली में 341, चंपावत में 160, देहरादून में 1652, हरिद्वार में 508, नैनीताल में 486, पौड़ी में 344, पिथौरागढ़ में 359, रुद्रप्रयाग में 91, टिहरी में 260, ऊधम सिंह नगर में 363 और उत्तरकाशी में 156 एक्टिव मरीज हैं।
राज्य में Uttarakhand-Corona Report आज 12,045 सैम्पल की जांच रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है, जबकि 13,727 सैम्पल आज जांच के लिए भेजे भी गए हैं। राज्य में अबतक कुल 13,31,483 सैम्पल की जांच रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है और 16,338 सैम्पल जांच प्रक्रिया में हैं।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

News

गुजरात सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर ‘कमलम’ रखा, जानिए क्यों है यह खास नाम कमलम

Published

on

Gujarat government renamed the fruit, not the city, the drag
गांधीनगर/अहमदाबाद, देशज न्यूज। गुजरात का कई लाभकारी तत्वों वाला ड्रैगन फ्रूट अब कमलम के नाम से जाना जायेगा। राज्य सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर “कमलम” रख दिया है। यह घोषणा मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने आज की है।
मुख्यमंत्री रूपानी ने कहा कि राज्य में पैदा होने वाला (Gujarat government renamed the fruit, not the city, the drag) ड्रैगन फ्रूट चीन का नही है। यह फल कैक्टस जैसे पौधों पर उगता है और च्यूइंगम और अन्य जड़ी-बूटियों में इसका प्रयोग किया जाता है। इसलिए हमने इसे संस्कृत भाषा में नया नाम कमलम दिया है। उन्होंने बताया कि इस नाम को पेटेंट कराने की प्रक्रिया जारी है।
उल्लेखनीय है कि गुजरात के बनासकांठा, साबरकांठा, दक्षिण गुजरात सहित कच्छ में ड्रैगन फ्रूट उगाया जाता है। (Gujarat government renamed the fruit, not the city, the drag)  कच्छ में 275 एकड़ में इसका उत्पादन किया जाता है।
दरअसल, क्षेत्र के किसानों ने सांसद विनोद चावड़ा को फल (Gujarat government renamed the fruit, not the city, the drag)  के नाम का बदलने के लिए ज्ञापन दिया था। किसानों का मानना है कि इस प्रोटीन युक्त फल का विदेशी नाम है। इसके बाद मुख्यमंत्री रूपानी ने इस फ्रूट का नाम ड्रैगन के बजाय कमल के फल के नामकरण की घोषणा की। खास (Gujarat government renamed the fruit, not the city, the drag)  बात यह है कि गुजरात में भाजपा के प्रदेश कार्यालय का नाम भी कमलम है।
Continue Reading

News

गुजरात की राजनीति में ओवैसी की एंट्री, AIMIM ने राज्य में साबिर काबलीवाला को बनाया अध्यक्ष

Published

on

Owaisi's entry in Gujarat politics, AIMIM appointed state president Sabir Kabliwala

राज्य में बीपीटी और एआईएमआईएम मिलकर लड़ेंगे स्थानीय निकाय चुनाव

अहमदाबाद, देशज न्यूज। गुजरात में स्थानीय निकाय चुनाव होने वाले हैं। इसी बीच गुजरात की राजनीति ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने इंट्री करने के संकेत (Owaisi’s entry in Gujarat politics, AIMIM appointed state president Sabir Kabliwala)दिए हैं। एआईएमआईएम ने प्रदेश में अपनी पार्टी का अध्यक्ष घोषित कर दिया है।
एआईएमआईएम ने गुजरात में स्थानीय नगरपालिका चुनावों से पहले अहमदाबाद जमालपुर विधानसभा से कांग्रेस के पूर्व विधायक साबिर काबलीवाला को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया है। एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने एक ट्वीट कर काबलीवाला को बधाई दी। माना जा रहा है कि एआईएमआईएम स्थानीय निकाय चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारेगी।
इससे पहले गुजरात में स्थानीय निकाय चुनावों की तैयारी के लिए एआईएमआईएम पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता वारिश पठान और महाराष्ट्र के औरंगाबाद से लोकसभा सांसद इम्तियाज जलील ने अहमदाबाद का दौरा किया था।
जानकारी मिली है कि छोटू वसावा की भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) और ओवैसी की एआईएमआईएम मिलकर राज्य में स्थानीय निकाय चुनाव लड़ेंगी। इसके अलावा आम आदमी पार्टी ने (Owaisi’s entry in Gujarat politics, AIMIM appointed state president Sabir Kabliwala) भी राज्य की सभी सीटों पर स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने की घोषणा की है।
Continue Reading

News

Line Of Control:सेना ने घुसपैठ की कोशिश की नाकाम, 3 आतंकी ढेर, 4 भारतीय सैनिक घायल

Published

on

infiltration bid foiled alone line of control-Army attempts to infiltrate failed, three terrorists killed, four Indian soldiers injured
जम्मू, देशज न्यूज। जम्मू संभाग के उपजिला अखनूर के खोड सेक्टर में सेना ने घुसपैठ की कोशिश नाकाम करते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया है। तीनों आतंकी जैश-ए-मोहम्म्द आतंकी संगठन से संबंधित हैं। इस दौरान पाकिस्तान द्वारा की गई भारी गोलाबारी में भारतीय सेना के चार जवान भी (infiltration bid foiled alone line of control) घायल हुए हैं। घायल जवानों का उपचार सैन्य अस्पताल में जारी है।
जानकारी के अनुसार मंगलवार रात पाकिस्तान ने उपजिला अखनूर की नियंत्रण रेखा पर बसे खोड़ सेक्टर में भारी गोलीबारी शुरू कर दी। यह गोलाबारी आतंकियों को भारतीय सीमा में दाखिल (Army attempts to infiltrate failed, three terrorists killed, four Indian soldiers injured) करवाने के लिए की जा रही थी। लेकिन सर्तक भारतीय जवानों ने पाकिस्तानी सेना के इन मंसूबों पर पानी फेर दिया।
गोलीबारी के बीच जवानों ने आतंकियों के एक दल को सीमा की तरफ आते हुए देखा। जैसे ही आतंकी भारतीय सीमा के करीब पहुंचे भारतीय जवानों ने बिना समय गवाए उनपर गोलीबारी शुरू कर दी। गोलीबारी में तीन आतंकी मारे गए जबकि दो आतंकी वापस भाग गए। इस दौरान पाकिस्तानी सेना ने आतंकियों को कवर देते हुए गोलाबारी तेज (infiltration bid foiled alone line of control) कर दी। जिसका भारतीय जवानों ने भी करारा जवाब दिया लेकिन इस दौरान भारतीय सेना के चार जवान घायल हो गए। गोलाबारी के बीच तीनों घायल जवानों को मौके से निकालकर सैन्य अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उनका (Army attempts to infiltrate failed, three terrorists killed, four Indian soldiers injured) उपचार जारी है।
बता दें कि गणतंत्र दिवस के चलते सुरक्षा एजेंसियों द्वारा नियंत्रण रेखा व अंतराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षाबलों को पहले से ही सतर्क कर दिया गया है और चौकसी बढ़ा दी गई है क्योंकि इस दौरान पाकिस्तान (Army attempts to infiltrate failed, three terrorists killed, four Indian soldiers injured)कोई न कोई नापाक हरकत कर सकता है।
Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: