Connect with us

News

बाबरी का आखिरी फैसला: कोर्ट ने आडवाणी, जोशी समेत सभी आरोपियों को किया बरी

Published

on

बाबरी का आखिरी फैसला: कोर्ट ने आडवाणी, जोशी समेत सभी आरोपियों को किया बरी
बाबरी का आखिरी फैसला: कोर्ट ने आडवाणी, जोशी समेत सभी आरोपियों को किया बरी

लखनऊ, देशज न्यूज। छह दिसंबर, 1992 को अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने के आपराधिक मामले में 28 साल बाद जज सुरेंद्र कुमार यादव की विशेष अदालत अपना फैसला सुना दिया है। जज ने फैसला पढ़ते हुए कहा, यह विध्वंस पूर्व नियोजित नहीं था बल्कि आकस्मिक घटना थी। विशेष अदालत ने  लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी व कल्याण सिंह सभी आरोपी को बरी कर दिया है।

इस मामले में 49 लोगों को आरोपी बनाया गया। इसमें से 17 की मौत हो चुकी है। सीबीआई व अभियुक्तों के वकीलों ने करीब आठ सौ पन्ने की लिखित बहस दाखिल की है। इससे पहले सीबीआई ने 351 गवाह व करीब 600 से अधिक दस्तावेजी साक्ष्य पेश किए हैं। लिहाजा इसके मद्देनजर अदालत का फैसला भी करीब दो हजार पन्ने का हो सकता है।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

30 सितंबर, 2019 को सुरेंद्र कुमार यादव जिला जज, लखनऊ के पद से सेवानिवृत्त हुए थे लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इन्हें फैसला सुनाने तक सेवा विस्तार दिया था। विशेष जज सुरेंद्र कुमार यादव के कार्यकाल का अंतिम फैसला 30 सितंबर को होगा. सीबीआई के वकील ललित सिंह के मुताबिक कि यह उनके न्यायिक जीवन में किसी मुकदमे का सबसे लंबा विचारण है। वह इस मामले में वर्ष 2015 से सुनवाई कर रहे हैं।

अयोध्या बाबरी विध्वंस केस में फैसले को देखते हुए लखनऊ के कैसर बाग बस अड्डे से बसों का आवागमन बंद किया गया है। सीतापुर रूट की बसें मडियांव में रोकी जा रही है। अयोध्या रूट की बसें कमता चौराहे के अवध बस अड्डे पर ठहराव किया गया। शहर के भीतर बसों के संचालन पर पूरी तरह से रोक लगी। यात्री बस अड्डे के वेटिंग हाल में कैद. स्टेशन इंचार्ज शशीकांत ने बताया कि अधिकारियों के आदेश पर कुछ समय के लिए बसों का संचालन रोका गया है। बस अड्डे पर मौजूद यात्रियों में दहशत का माहौल है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

News

जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के कई नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पार्टी मुख्यालय सील

Published

on

जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के कई नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पार्टी मुख्यालय सील
जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के कई नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पार्टी मुख्यालय सील

श्रीनगर, देशज न्यूज। जम्मू-कश्मीर में लागू किए गए नए भूमि कानून के विरोध में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी द्वारा निकाले जा रहे विरोध मार्च को पुलिस ने नाकाम कर दिया है। मार्च में शामिल पीपुल्स पीडीपी के पूर्व एमएलसी खुर्शीद आलम सहित कई नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लेते हुए पीडीपी के श्रीनगर स्थित मुख्यालय को सील कर दिया है।

केंद्र सरकार के आदेश के खिलाफ पीडीपी नेताओं ने आज श्रीनगर पार्टी मुख्यालय से प्रेस एन्क्लेव तक आज विरोध रैली का आयोजन किया था. पार्टी के नेता विरोध मार्च में शामिल होने के लिए जैसे ही पार्टी मुख्यालय पहुंचे वहां पहले से ही तैनात पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

पुलिस की इस कार्रवाई का पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने विरोध किया है। अपने ट्विटर हैंडल पर पार्टी नेताओं की गिरफ्तारी का जिक्र करते हुए उन्होंने लिखा कि जम्मू और कश्मीर पुलिस ने आज पारा वाहिद, खुर्शीद आलम, राउफ भट, मोसिन क्यूम को उस समय हिरासत में ले लिया जब वे भूमि संबंधी कानूनों का विरोध करने के लिए एकत्र हुए थे। हम सामूहिक रूप से अपनी आवाज उठाना जारी रखेंगे और जनसांख्यिकी को बदलने के प्रयासों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

Continue Reading

News

मन्नत पूरी होने पर गुप्तांग काटकर भगवान शिव की मंदिर में चढ़ाया, हालत गंभीर

Published

on

मन्नत पूरी होने पर गुप्तांग काटकर  भगवान शिव की मंदिर में चढ़ाया, हालत गंभीर
मन्नत पूरी होने पर गुप्तांग काटकर भगवान शिव की मंदिर में चढ़ाया, हालत गंभीर

गोंडा, देशज न्यूज। उत्तर प्रदेश के गोंडा जनपद से अंधविश्‍वास की एक अजीबोगरीब घटना सामने आई है. जनपद के कोतवाली करनैलगंज क्षेत्र में बने एक मंदिर में एक अधेड़ ने मन्नत पूरी होने पर अपना गुप्तांग काटकर चढ़ा दिया। अधेड़ ने करनैलगंज के करपुरियन में स्थित भगवान शिव के मंदिर में अपना गुप्तांग चढ़ाया. इसके बाद उसे एक निजी अस्पताल में एडमिट कराया गया, जहां उसकी हालत बेहतर बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, कोतवाली क्षेत्र के बसेरिया गांव निवासी एक अधेड़ शख्‍स शिव मंदिर में पूजा पाठ करता था. सोमवार की शाम उसने अपना गुप्तांग काट कर पूजा स्थल के पास चढ़ा दिया। थोड़ी देर बाद जब लोगों ने उसे तड़पता देखा तो उसे निजी अस्पताल में एडमिट कराया, जिसके बाद डॉक्टरों ने उसका इलाज किया।

मंगलवार को जब इसकी सूचना पुलिस को मिली तो कोतवाल मनीष जाट ने मौके पर जांच के लिए हल्का दरोगा को भेजा. कोतवाल ने बताया कि एक 45 वर्षीय अधेड़ ने अपना गुप्तांग काटकर मंदिर में चढ़ा दिया. किसी की तरफ से कोई लिखित सूचना या तहरीर नहीं मिली है. अगर कोई तहरीर मिलती है तो वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

गुप्तांग चढ़ाने वाले शख्स का कहना है कि वह पूरी तरह से ठीक है। उसने कहा कि ऊपर वाले की मर्जी से मैंने यह कदम उठाया. मुझे लोग जबरदस्ती डॉक्टर के पास ले गए, जहां प्राइवेट पार्ट में पाइप लगा दिया गया. मैंने बाद में उसे निकाल दिया. उसका दावा है कि उसने कोई दवा नहीं खाई है और पूरी तरह से ठीक है।

Continue Reading

News

UP में बीएसपी के 6 MLAs ने की बगावत, राज्‍यसभा उम्‍मीदवार का विरोध कर सपा चीफ से मिले

Published

on

UP में बीएसपी के 6 MLAs ने की बगावत, राज्‍यसभा उम्‍मीदवार का विरोध कर सपा चीफ से मिले
UP में बीएसपी के 6 MLAs ने की बगावत, राज्‍यसभा उम्‍मीदवार का विरोध कर सपा चीफ से मिले

लखनऊ, देशज न्यूज। उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 6 विधायकों ने बगावत कर दी है. इन विधायकों ने राज्यसभा चुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशी के नामांकन में प्रस्तावक के तौर पर किए गए अपने हस्ताक्षरों को फर्जी करार देते हुए बुधवार को पीठासीन अधिकारी को एक शपथपत्र दिया है. बसपा के राज्‍यसभा के उम्‍मीदवार का विरोध करने के बाद इन विधायकों ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की है।

बसपा विधायक असलम चौधरी, मुज्तबा सिद्दीकी, हाकिम लाल बिंद और असलम राइनी ने पीठासीन अधिकारी को दिए गए शपथपत्र में कहा है कि राज्यसभा चुनाव के लिए बसपा के प्रत्याशी रामजी गौतम के नामांकन पत्र पर प्रस्तावक के तौर पर किए गए उनके हस्ताक्षर फर्जी हैं. उनके साथ विधायक सुषमा पटेल और हरिगोविंद भार्गव भी थे।

आगामी 9 नवंबर को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्रों की आज जांच की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक पीठासीन अधिकारी इन बसपा विधायकों की शिकायत पर गौर करके उचित निर्णय लेंगे।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: