Connect with us

News

10 दिनों से शराब दुकानें बंद रहने का असर: आंध्र प्रदेश में सेनेटाइजर पीने से 13 लोगों की मौत

Published

on

10 दिनों से शराब दुकानें बंद रहने का असर: आंध्र प्रदेश में सेनेटाइजर पीने से 13 लोगों की मौत
अमरावती (आंध्र प्रदेश), देशज न्यूज। आंध्र प्रदेश में बीते दस दिनों से लॉकडाउन के चलते शराब की दुुकानें भी बंद हैं। ऐसे में प्रकाशम जिले के कुरिचेदु में कुछ लोगों ने स्थानीय दुकानों से 99% वाला सेनिटाइजर खरीदकर पी लिया जिससे 13 लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने सभी स्थानीय दुकानों के सेनिटाइजर जब्त कर लिए हैं।
आंध्र प्रदेश सरकार ने बीती 4 मई को देशव्यापी लॉकडाउन के बाद शराब की दुकानें फिर से खोली थीं। इसके बाद सरकार ने शराब के दामों में भारी बढ़ोत्तरी की और दुकानों की संख्या भी कम कर दी लेकिन लोगों की लत कम नहीं हुई। आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में 10 दिनों से लॉकडाउन के चलते शराब न मिलने पर कई लोगों ने सेनिटाइजर पी लिया।
इसके बाद सेनिटाइजर पीने वालों को पेट में दर्द और जलन की शिकायत हुई जिसके बाद अस्पताल ले जाया गया। गुरुवार आधी रात के आसपास तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 अन्य की आज शुक्रवार को मौत हो गई। पुलिस ने केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। बीस और लोगों ने सेनिटाइजर पीने की बात कुबूल की है। Sanitiserin lieu to liquor
प्रशासन ने स्थानीय दुकानों से सेनिटाइजर जब्त करके सैम्पल जांच के लिए लैब में भेजे हैं। सेनिटाइजर पीने से हुई इन मौतों के बाद प्रदेश में हड़कंप मच गया है।Sanitiserin lieu to liquor
एसपी सिद्धार्थ कौशल ने बताया कि घटना की गहन जांच चल रही है। एसपी ने बताया कि मरने वालों में तीन भिखारी थे। पुलिस अब यह पता लगाने की कोशिश में जुटी है कि इस तरह के और कितने मामले सामने आ रहे हैं। एसपी ने बताया कि अब इस बात की जानकारी की जा रही है कि सिर्फ सेनिटाइजर पीने से ही सबकी मौत हुई है या फिर उन्होंने उसमें और भी कोई केमिकल मिलाया था।Sanitiserin lieu to liquor
उन्होंने बताया कि जांच में सामने आया है कि दुकानों से भारी मात्रा में सेनिटाइजर बिक रहा है और लोग उसे शराब की जगह पी रहे हैं। एसपी ने बताया कि स्थानीय दुकानों से सारे सेनिटाइजर जब्त कर लिए गए हैं और सैंपलों को लैब में जांच के लिए भेजा गया है।
तेदेपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए ट्विटर प्लेटफॉर्म पर मांग की है कि सरकार को कुरिचेदु घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया जाए। विधायक मदिशीट्टी वेणुगोपाल ने लोगों से सेनिटाइज़र न पीने की अपील की है। Sanitiserin lieu to liquor

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

News

बॉलीवुड ड्रग्स मामला: मुंबई में एनसीबी की छापेमारी, टीवी अभिनेत्री समेत पांच लोग गिरफ्तार

Published

on

बॉलीवुड ड्रग्स मामला: मुंबई में एनसीबी की छापेमारी, टीवी अभिनेत्री समेत पांच लोग गिरफ्तार
बॉलीवुड ड्रग्स मामला: मुंबई में एनसीबी की छापेमारी, टीवी अभिनेत्री समेत पांच लोग गिरफ्तार

मुंबई, देशज न्यूज। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ड्रग्स एंगल की जांच कर रहा है। जांच एजेंसी की तरफ से एक और ड्रग्स रैकेट का खुलासा किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार, इस मामले में एनसीबी की टीम ने एक टीवी अभिनेत्री समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

हालांकि, अभी तक गिरफ्तार किए गए लोगों के नाम का खुलासा नहीं हुआ है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच में सामने आए ड्रग्स मामले में 20 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी हुई है. एनसीबी ने इस मामले में बॉलीवुड जगत की कई शीर्ष अभिनेत्रियों से पूछताछ की है.

एनसीबी की टीम ने सिविल ड्रेस में मुंबई के वर्सोवा के दो इलाकों में छापेमारी की. इस दौरान टीम ने टीवी अभिनेत्री को रंगेहाथ ड्रग्स खरीदते हुए पकड़ा. फिलहाल जांच एजेंसी इस मामले में कार्रवाई कर रही है. मिली जानकारी के अनुसार, गिरफ्तार की गई अभिनेत्री को रविवार को अदालत में पेश किया जा सकता है।

एनसीबी ने ड्रग्स मामले में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, रकुलप्रीत सिंह और श्रद्धा कपूर से भी पूछताछ कर चुकी है. एनसीबी की टीम ने इस मामले में रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक समेत कई आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. फिलहाल, रिया चक्रवर्ती को जमानत मिल चुकी है.

Continue Reading

News

कंगना की चंडीगढ़ से मुंबई आने के दौरान प्लेन में नियम तोड़ऩे वाले 9 पत्रकारों को Indigo का Ban

Published

on

कंगना की चंडीगढ़ से मुंबई आने के दौरान प्लेन में नियम तोड़ऩे वाले 9 पत्रकारों को Indigo का Ban
कंगना की चंडीगढ़ से मुंबई आने के दौरान प्लेन में नियम तोड़ऩे वाले 9 पत्रकारों को Indigo का Ban

मुंबई, देशज न्यूज। 9 सितंबर को चंडीगढ़ से मुंबई की फ्लाइट में लॉकडाउन के नियम तोड़कर धक्कामुक्की करने और अभद्र व्यवहार के आरोप में 9 पत्रकारों को इंडिगो ने 15 दिन के लिए बैन कर दिया है। इनमें कई चैनलों के रिपोर्टर और कैमरामैन शामिल हैं. इसी फ्लाइट में एक्ट्रेस कंगना रनोट भी यात्रा कर रही थीं. उनकी तस्वीरें खींचने और फ्लाइट में उनका रिएक्शन लेने के चक्कर में कई पत्रकारों ने धक्कामुक्की की थी।

कंगना उस वक्त सुर्खियों में थीं क्योंकि महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार के साथ उनकी जुबानी जंग चल रही थी. इसी दिन बांद्रा में स्थित कंगना के ऑफिस को बीएमसी द्वारा ध्वस्त कर दिया गया था।

डीजीसीए ने भी तलब की थी रिपोर्ट

9 सितंबर को चंडीगढ़ से मुंबई आई इंडिगो एयरलाइन्स की फ्लाइट संख्या 6श्व-264 में मीडियाकर्मियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने का मामला सामने आया था। इसे गंभीरता से लेते हुए नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एयरलाइन कंपनी से एक विस्तृत रिपोर्ट तलब की थी। इसी रिपोर्ट के बाद पत्रकारों पर कार्रवाई हुई है. डीजीसीए ने इसे सुरक्षा नियमों का उल्लंघन बताया है। नियम के अनुसार प्लेन में किसी तरह की वीडियो शूटिंग प्रतिबंधित है।

वायरल हुआ था प्लेन के अंदर का वीडियो

इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हुआ था. उसमें मीडियाकर्मी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम तोड़ते हुए एक्ट्रेस कंगना के पास जाने का प्रयास करते हुए नजर आ रहे हैं. इस दौरान कुछ ने मास्क भी नहीं लगाया है. यह भी जानकारी सामने आई है कि कइयों ने उनके पास जाने का प्रयास भी किया. इस वजह से कुछ देर एक लिए प्लेन में अफरातफरी का माहौल बन गया. यही नहीं एक्ट्रेस के उतरने के वीडियो कैमरे में कैद करने के चक्कर में भी प्लेन में अफरातफरी बनी रही।

Continue Reading

News

UP-डीआईजी की पत्नी ने लगाई फांसी,हाथरस कांड की जांच कर रही SIT सदस्य हैं चंद्र प्रकाश

Published

on

UP-डीआईजी की पत्नी ने लगाई फांसी,हाथरस कांड की जांच कर रही SIT सदस्य हैं चंद्र प्रकाश
UP-डीआईजी की पत्नी ने लगाई फांसी,हाथरस कांड की जांच कर रही SIT सदस्य हैं चंद्र प्रकाश

लखनऊ, देशज न्यूज। डीआईजी चंद्र प्रकाश की पत्नी ने शनिवार को आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार, सुशांत गोल्फ सिटी इलाके में डीआईजी की 36 वर्षीय पत्नी पुष्पा प्रकाश ने सुबह करीब 11.00 बजे के आसपास फांसी लगा ली। आनन-फानन कुछ लोगों की मदद से लोहिया अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

पुष्पा प्रकाश ने फांसी लगाकर आत्महत्या क्यों की, इसकी वजह अभी तक साफ नहीं हो पाई है। न ही मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद हुआ है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है. आपको बता दें कि डीआईजी उन्नाव में तैनात हैं।

इसके अलावा हाथरस जिले के चंदपा कोतवाली इलाके की युवती की सामूहिक दुष्कर्म और मौत मामले की जांच के लिए बनी एसआईटी में चंद्र प्रकाश बतौर सदस्य हैं।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: