Connect with us

News

किसान रैली में भाग लेने जा रहे सपा नेताओं को पुलिस ने रोका, किया नजरबंद

Published

on

किसान रैली में भाग लेने जा रहे सपा नेताओं को पुलिस ने रोका, किया नजरबंद

नेताओं के घर के सामने पुलिसकर्मी तैनात, प्रशासन की जिले भर में है सतर्क निगाह  

वाराणसी, देशज न्यूज। कृषि कानूनों को लेकर आन्दोलन कर रहे किसानों के समर्थन में अब समाजवादी पार्टी भी कूद गई है। उत्तर प्रदेश विधान परिषद के शिक्षक और स्नातक चुनावों में पार्टी की मिली भारी सफलता से उत्साहित कार्यकर्ता पार्टी नेतृत्व के आह्वान पर सोमवार को जिले के विभिन्न हिस्सों से किसान रैली में भाग लेने के लिए निकल पड़े।
(Police stopped SP leaders going to attend Kisan rally, unde) किसान रैली, विरोध प्रदर्शन को लेकर पहले से सतर्क जिला प्रशासन के अफसरों ने सपा के स्थानीय नेताओं को उनके आवास के निकट ही रोक लिया। और उन्हें उनके आवास में ही नजरबंद कर लिया तो कुछ को थाने में ही बैठा लिया।
 रोहनिया-बीरभानपुर से रैली में शामिल होने जा रहे प्रदेश के पूर्व राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल, पूर्व रोहनिया विधायक महेंद्र सिंह पटेल और कार्यकर्ताओं को सीओ सदर राजेश कुमार मिश्रा तथा रोहनिया थाना प्रभारी(Police stopped SP leaders going to attend Kisan rally, unde)परशुराम त्रिपाठी ने रोककर उनके घर में वापस भेज दिया। दोनों नेताओं और कार्यकर्ताओं ​के घर के सामने पुलिस ने क्यूआरटी बल(त्वरित एक्शन बल) तथा राजातालाब चौकी इंचार्ज संतोष यादव और अन्य पुलिस कर्मियों को तैनात कर दिया।
 किसान न्याय मोर्चा के नेता महेंद यादव को लालपुर-पांडेयपुर पुलिस ने उनके दौलतपुर मार्ग स्थित आवास पर नजरबंद कर दिया। कैंट पुलिस ने सिकरौल सेंट्रल जेल रोड निवासी सपा नेता मनोज यादव उर्फ गोलू,रामनगर के नेताओं को उनके आवास में वापस भेज दिया। सपा नेता राजू यादव को पान दरीबा चौकी प्रभारी मिथिलेश यादव ने बीच रास्ते में रोक लिया (Police stopped SP leaders going to attend Kisan rally, unde) और उन्हें थाने ले आये। चोलापुर के नियार बस स्टैंड से रामकिशुन यादव उर्फ विदेशी यादव ब्लॉक अध्यक्ष चोलापुर को चोलापुर पुलिस ने रोक लिया और उन्हें थाने ले आई।
  किसान पद यात्रा रैली में जा रहे प्रदेश सचिव छात्र सभा मनीष यादव और शहर दक्षिणी विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष मनोज यादव, संजय चौरसिया, सूरज सिंह, सागर कुमार को चौक थाना प्रभारी ने रोक कर (Police stopped SP leaders going to attend Kisan rally, unde) उन्हें थाने में बैठा लिया। इसके पहले किसान आंदोलन को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने रैली और पदयात्रा निकालने का आह्वान किया था।
(Police stopped SP leaders going to attend Kisan rally, unde)  रैली और विरोध प्रदर्शन को लेकर सतर्क जिला प्रशासन ने सड़कों पर फोर्स उतार दिया है। पूरे शहर में स्थानीय खुफिया इकाइयों व इलाकाई पुलिस सपा के सभी 8 विधानसभा अध्यक्षों व मंडल प्रमुखों के अलावा आंदोलनों में जाने वाले कार्यकर्ताओं, नेताओं के अलावा किसान नेताओं पर नजर बनाये हुए हैं।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

News

Rajasthan: पद से हटाने के बाद पायलट व समर्थक विधायकों को मिली पहली बड़ी जिम्मेदारी

Published

on

Rajasthan: Pilot and supporting legislators get first major responsibility after removal from post

जयपुर, देशज न्यूज। राजस्थान विधानसभा में बनी सदाचार कमेटी के सदस्यों में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने बदलाव करते हुए 3 कांग्रेस विधायकों को शामिल किया है। इस कमेटी से 3 मौजूदा सदस्य को भी हटाया गया है। अब सदाचार कमेटी में कांग्रेस विधायक और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बतौर सदस्य शामिल रहेंगे।

कुल नौ सदस्यों वाली इस कमेटी में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दीपेंद्र सिंह को सभापति बनाया गया था। दीपेंद्र सिंह पायलट खेमे के ही माने जाते हैं। वहीं, पूर्व में इस कमेटी में शामिल विधायक हरीश मीणा, रोहित बोहरा और कृष्णा पूनियां को भी हटाया गया है, जिनके स्थान पर अब इन तीनों विधायकों को लिया गया है। इन नियुक्तियों को लेकर राजस्थान (Rajasthan: Pilot and supporting legislators get first major responsibility after removal from post) विधानसभा की अधिकारिक वेबसाइट पर इस संबंध में कोई जानकारी अपडेट नहीं की गई है।
वेबसाइट के अनुसार सदाचार कमेटी में अभी भी पुराने सदस्यों की जानकारी दी जा रही है। सदाचार कमेटी में इस बदलाव की पुष्टि पूर्व मंत्री रमेश मीणा ने की है। उन्होंने बताया कि उन्हें विधानसभा कार्यालय की तरफ से बुधवार के दिन फोन आया था। पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में इसकी (Rajasthan: Pilot and supporting legislators get first major responsibility after removal from post) पुष्टि की है।
उन्होंने कहा कि विधानसभा स्पीकर को पूरा अधिकार है कि वे किसी भी कमेटी में किन्हीं विधायकों को हटाकर नए नाम जोड़ सकते हैं। उन्हें जो उचित लगा, उन्होंने किया है। हम सब मिलकर राजस्थान के लिए काम करेंगे।
यह काम करती है सदाचार कमेटी
किसी विधायक के खिलाफ शिकायत सदन के अंदर या बाहर अनैतिक व्यवहार से जुड़ जाती है, तो उसकी जांच करना सदाचार कमेटी का काम है। किसी भी विधायक के आचरण की शिकायत यदि कोई बाहरी व्यक्ति भी लिखित में करता है तो विधानसभा अध्यक्ष इस शिकायत को इस सदाचार कमेटी को सौंप सकता है।
सदाचार समिति के पास यह भी अधिकार (Rajasthan: Pilot and supporting legislators get first major responsibility after removal from post) है कि समिति अपने स्तर पर किसी भी विधायक के खिलाफ जांच कर सकती हैं। किसी भी विधायक के खिलाफ आने वाली शिकायत यदि जांच में जुटी पाई जाए तो सदाचार कमेटी शिकायतकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की भी सिफारिश कर सकती है।
Continue Reading

News

कठुआ की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान ने आतंकियों की घुसपैठ के लिए खोदी सुरंग

Published

on

(BSF detects cross-border tunnel in Kathua-Pakistan dug tunnel on the international border of Kathua for infiltration of terrorists
कठुआ, देशज न्यूज। कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर आतंकियों को भारतीय सीमा में घुसपैठ कराने के इरादे से खोदी गई एक और सुरंग मिली है। पाकिस्तान की सीमा से लगी इस सुरंग की खोज सतर्क बीएसएफ जवानों ने की है। इसके बाद जवानों ने आसपास के इलाकों में तलाशी अभियान शुरू (BSF detects cross-border tunnel in Kathua) कर दिया है।
पाकिस्तान आतंकवाद को जम्मू कश्मीर में बढ़ावा देने का हर संभव कोशिश कर रहा है। चाहे वह सीमा पार से गोलीबारी करके आतंकियों को घुसपैठ कराना हो या फिर आतंकियों को हर तरह से (Pakistan dug tunnel on the international border of Kathua for infiltration of terrorists) मदद के लिए पैसे व हथियार मुहैया कराने की बात हो। भारत के सतर्क सुरक्षाबल पाकिस्तान की हर कोशिश को नाकाम बनाते आ रहे हैं।
बुधवार को बीएसएफ के जवान रोजाना की तरह हीरानगर की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गश्त कर रहे थे तभी उन्हें बोबिया क्षेत्र में आतंकियों की घुसपैठ के लिए खोदी गई सुरंग का पता चला। (Pakistan dug tunnel on the international border of Kathua for infiltration of terrorists)  सुरंग देखते ही सतर्क जवानों (BSF detects cross-border tunnel in Kathua)  ने उच्चाधिकारियों को सूचित किया। माना जा रहा है कि इस सुरंग के जरिए आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ कर आए हैं।
बोबियां तथा इसके साथ लगते क्षेत्रों में (Pakistan dug tunnel on the international border of Kathua for infiltration of terrorists)  बीएसएफ ने सीआरपीएफ तथा (BSF detects cross-border tunnel in Kathua) पुलिस के साथ मिलकर तलाशी अभियान शुरू कर दिया है और इस दौरान लोगों की से भी पूछताछ की जा रही है।
Continue Reading

News

बोले मुनव्वर राणा-देश की संसद को गिराकर वहां खेत बना दें,आया गृहमंत्री का तंज,ये उम्र का असर

Published

on

Said Munawar Rana, demolish the Parliament of the country and make it a field there, came the stress of the Home Minister, the effect of this age
भोपाल, देशज न्यूज। अपने बयानों को लेकर अक्सर विवादों में रहने वाले शायर मुनव्वर राना एक बार फिर सुर्खियों में है। इस बाद उन्होंने एक ट्वीट कर देश की संसद को गिराकर वहां खेत बनाने की बात लिखी। इसके अलावा अनाज का भंडारण करने वाले गोदामों को भी जला देने की बात लिखी। हालांकि कुछ ही देर बाद उन्होंने अपने ट्वीट डिलीट (Said Munawar Rana, demolish the Parliament of the country and make it a field there, came the stress of the Home Minister, the effect of this age) कर दिए। वहीं मुनव्वर राणा के ट्वीट पर मप्र के सीएम शिवराज ने तंज कसा है।
मंत्री मिश्रा ने सोमवार को मीडिया से बातचीत करते हुए मुनव्वर राणा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि शायर मुनव्वर राणा जी आजकल जिस तरह की गैरजिम्मेदाराना बातें कर रहे हैं, उससे (Said Munawar Rana, demolish the Parliament of the country and make it a field there, came the stress of the Home Minister, the effect of this age) लगता है कि अब उम्र का असर हो चला है। लेकिन सरकार अब इस बात पर भी गंभीरता से विचार करेगी कि समाज में जहर घोलने का निरंतर प्रयास करने वाले तत्वों के खिलाफ क्या कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित की जा सकती है।
ममता बेनर्जी पर साधा निशाना
इस दौरान पश्चिम बंगाल की राजनीति परिस्थितियों पर प्रतिक्रिया देते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पश्चिम बंगाल में इमामों के मुखिया का बयान ममता बेनर्जी के पक्ष में जारी कराया गया है। हालांकि (Said Munawar Rana, demolish the Parliament of the country and make it a field there, came the stress of the Home Minister, the effect of this age) बंगाल का मतदाता अब ऐसे फरमानों से प्रभावित होने वाला नहीं है। वो अब विकास और सुशासन के लिए भाजपा की सरकार चाहता है।
उन्होंने टीएमसी सांसद के विवादित बयान पर कहा कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी की सीता माता पर अभद्र टिप्पणी बहुसंख्यक हिंदू समाज का अपमान है। ममता बेनर्जी की पार्टी तुष्टिकरण की राजनीति के लिए (Said Munawar Rana, demolish the Parliament of the country and make it a field there, came the stress of the Home Minister, the effect of this age) हिंदू देवी-देवताओं का अपमान करती आई है। अब ताडक़ा के पक्ष का व्यक्ति तो ऐसी ही टिप्पणी करेगा।
Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: