Connect with us

Delhi

इस बार खूब सताएगी गर्मी, चटकने लगी धूप, दिल्ली ने तोड़ा 15 सालों का रिकॉर्ड, मप्र में फरवरी में ही 36.9 डिग्री सेल्सियस पहुंचा तापमान

Sunshine in Madhya Pradesh, temperature reaches 36.9 degree

दिल्ली में मौसम का मिजाज काफी बदला चुका है। दिल्ली में बीते 15 साल में फरवरी महीने में बुधवार सबसे गर्म दिन रहा। मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि बुधवार को अधिकतम तापमान 32.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार सुबह मौसम गर्म रहने के साथ ही उमस भरा रहा और हवा में Sunshine in Madhya Pradesh, temperature reaches 36.9 degree  आर्द्रता का स्तर 100 फीसदी तक दर्ज किया गया। वहीं, न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक रहा।

वर्तमान में मध्य प्रदेश में कोई मौसम सिस्टम के सक्रिय नहीं है। वातावरण में नमी नहीं रहने से मौसम शुष्क बना हुआ है। साथ ही हवा का रुख भी दक्षिणी और उत्तर-पूर्वी हो रहा है। इससे राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के अधिकतर इलाकों में दिन और रात के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। धूप में तल्खी महसूस होने लगी है। वहीं रात में भी गर्मी का असर दिखने लगा है।

दिल्ली के मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक है। वहीं हवा में आर्द्रता का स्तर 100 फीसदी दर्ज कियाSunshine in Madhya Pradesh, temperature reaches 36.9 degree गया।’ अधिकतम तापमान मंगलवार को 31.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। आईएमडी के आंकड़ों के मुताबिक, फरवरी में पिछली बार सबसे अधिक तापमान 2006 में दर्ज किया गया जब पारा 34.1 डिग्री सेल्सियस रहा था। साल 2009 से 2020 के बीच फरवरी के महीने में सबसे अधिक पारा 2017 में 32.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। आंकड़ों के मुताबिक, फरवरी 2020 में अधिकतम तापमान 27.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, 2019 में 28.1 और 2018 में 32 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

वहीं, मध्यप्रदेश में बुधवार को प्रदेश में सबसे अधिक तापमान 36.9 डिग्री सेल्सियस खरगोन में दर्ज किया गया। गुरुवार को गर्मी के तेवर और तीखे होने की संभावना है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मौसम Sunshine in Madhya Pradesh, temperature reaches 36.9 degree का मिजाज अभी तीन-चार दिन तक इसी तरह का बने रहने की संभावना है।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान और उससे लगे उत्तर भारत में सक्रिय है। हालांकि इनके प्रभाव से वर्तमान में प्रदेश में हवा का रुख दक्षिणी बना हुआ है। वातावरण में नमी भी मौजूद नहीं है। इससे मौसम पूरी तरह शुष्क बना हुआ है। इससे राजधानी भोपाल सहित मध्य प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने लगी है।
मौसम विज्ञानियों के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के असर से उत्तरी पाकिस्तान पर एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। इससे हवाओं का रुख बदल गया है। बुधवार को राजधानी में दिन का पारा 33 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की Sunshine in Madhya Pradesh, temperature reaches 36.9 degree  संभावना है। बुधवार को न्यूनतम तापमान 14.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो कि सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक रहा।
गुरुवार को न्यूनतम तापमान में भी एक डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने के आसार हैं। इससे फिलहाल तापमान में बढ़ोतरी भी जारी रहेगी। इस सिस्टम के उत्तर भारत से आगे बढऩे पर शुक्रवार से न्यूनतम तापमान में कुछ गिरावट होने की संभावना है। फरवरी अंत तक मध्य प्रदेश में दिन का पारा 35 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के आसार है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply