Connect with us

Bihar

बिरौल में बरुणा-रसियारी जर्जर सड़क के खिलाफ फूटा गुस्सा, बीच सड़क पर धानरोपनी

Published

on

बिरौल देशज टाइम्स ब्यूरो। प्रखंड क्षेत्र के बरुणा-रसियारी (एसएच 88) निर्माणाधीन सड़क की दयनीय स्थिति को लेकर शनिवार को मध्य विद्यालय मजरगाही के सामने जर्जर सड़क पर धानरोपनी कर विरोध जताया। (biraul me baruaa-rasiyari jarjaar shrak)

सड़क की निर्माण एजेंसी सी एंड सी गत दस वर्षों से लेट लतीफी चाल के कारण इस सड़क की बंदा चौक से मजरगाही तक दुर्गति बना रखी हैl एक किमी की दूरी में इस सड़क पर निर्माण कार्य नहीं होने से यहां बने गढ्ढे झील में तब्दील हो चुका है। (biraul me baruaa-rasiyari jarjaar shrak)

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

इसके कारण कभी भी इन गड्ढों में वाहनों के पलट जाने की संभावना बनी रहती है। आठ सौ करोड़  की प्रक्कलित राशि से निर्माणाधीन 115 किलोमीटर लंबी इस सड़क में 07 किमी जगन्नाथपुर चौक से पीर बकसपुर तक बिरौल प्रखंड के क्षेत्रधीन है। इसमें गौड़ा से मजरगाही के बीच एक किमी की दूरी में सड़क निर्माण कार्य निर्माण एजेंसी की हठधर्मिता के कारण नहीं हो पाया है। (biraul me baruaa-rasiyari jarjaar shrak)

सड़क की दुर्दशा को देखकर स्थानीय लोगों ने इस समस्या की ओर सरकार का ध्यान आकृष्ट करने के लिए सड़क पर धनरोपनी कर विरोध व्यक्त किया। इसका नेतृत्व मानवाधिकार संरक्षण प्रतिष्ठान के जिला अध्यक्ष प्रदीप कुमार चौधरी ने किया। (biraul me baruaa-rasiyari jarjaar shrak)

साथ ही संबंधित विभाग को चेतावनी देते ग्रामीणों ने कहा, इसकी मरम्मत कार्य जल्द शुरू नहीं होने पर लोगों को आंदोलन के लिए सड़क पर उतरने को मजबूर होना पड़ेगा। (biraul me baruaa-rasiyari jarjaar shrak)

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

वैशाली के युवा वकील शिव रंजन झा की हत्या से उबला दरभंगा न्यायालय, अधिवक्ताओं में आक्रोश

Published

on

vaishali ke

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। हाजीपुर व्यवहार न्यायालयउर्फ पप्पू झा की निर्मम हत्या से आहत दरभंगा के वकीलों ने शोक सभा आयोजित कर श्रद्धांजलि अर्पित किया। शनिवार को बार एसोसिएशन भवन में अधिवक्ता राजीव रंजन ठाकुर उर्फ बालाजी की अध्यक्षता में आयोजित शोक सभा में वकीलों ने स्वर्गीय शिव रंजन झा उर्फ पप्पू झा के फोटो पर पुष्पांजलि अर्पित किया।

अधिवक्ता श्री ठाकुर ने कहा कि आये दिन बिहार में अधिवक्ताओं की हत्या अपराधियों द्वारा सरेआम की जा रही है। बिहार में अपराधी बेलगाम है। न्याय दिलाने वाले अधिवक्ताओं को हत्या का शिकार होना पड़ रहा है। बिहार सरकार और संघ सरकार यथाशीघ्र अधिवक्ताओं की सुरक्षा के लिए अधिवक्ता सुरक्षा कानून बनाये। वहीं वैशाली के मृत अधिवक्ता शिव रंजन झा व पूजा के परिजन को 50,00000(पचास लाख) और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी प्रांतीय सरकार की ओर से दी जाए।

अधिवक्ता के परिवार को इस मानव निर्मित विपदा की घड़ी में ईश्वर सहने की शक्ति प्रदान करें। श्रद्धांजलि के मौके पर हीरानंद मिश्र, माया शंकर चौधरी, मनोज कुमार, कुमार उत्तम, शिव शंकर झा, मुरारी लाल केवट, रमणजी चौधरी, संतोष कुमार सिन्हा, नीरज कुमार ठाकुर, सुनील कुमार दास, प्रमोद कुमार ठाकुर, नवीन्द्रु कुमार मिश्र ने पुष्पांजलि कर श्रद्धा सुमन निवेदित किया। वही दरभंगा बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं ने एक स्वर से मांग किया कि मृतक अधिवक्ता के हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार किया जाए अन्यथा दरभंगा के वकील आंदोलन करने हेतु बाद होंगे।

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा कोर्ट पहुंचा कोरोना, दो चपरासी, ग्यारह लिपिक मिले पॉजिटिव, मचा हड़कंप

Published

on

darbhanga court

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। जाड़े की मौसम में दरभंगा व्यवहार न्यायालय कर्मियों में बढ़ते कोरोना संक्रमण से न्यायालय परिसर में लोगों के बीच बेचैनी बढ़ गई है।तथाकथित संभ्रांत लोगों का कहना है, बिहारी और गरीबों को कोरोना कुछ नहीं बिगाड़ेगा को शुक्रवार को आने वाला संक्रमण रिपोर्ट ने असत्य साबित कर दिया है। दरभंगा में शुद्ध बिहारियों और गरीब पृष्ठभूमि के लोगों को भी कोरोना ने अपने चपेटे में ले लिया है।

व्यवहार न्यायालय दरभंगा में दो चपरासी और ग्यारह किरानी का कोरोना जांच रिपोर्ट पोजिटिव पाये जाने से कोरोना विस्फोट की चर्चा शनिवार को अदालत प्रांगण में छाई रही। बढंते कोरोना संक्रमण से चिन्तित बरीय अधिवक्ता जीतेन्द्र नारायण झा ने कहा कि गत दस माह से अदालतों में नाम मात्र को जमानत कार्य होने से अदालतों में न्यायिक कार्य ठप्प पड़ा है।आवश्यकता है कि न्यायिक पदाधिकारियों, वकीलों, न्यायालय कर्मचारियों, अधिवक्ता लिपिकों, कोर्ट प्रांगण में कार्यरत टंककों, मुद्रांक बिक्रेताओं को यथा शीध्र प्रथमिकता सूची में रखकर टीकाकरण लगाया जाए।

लोक अभियोजक नसीरुद्दीन हैदर ने कहा कि न्यायालय एक ऐसा स्तम्भ है ,जहां गरीब से अमीर तक के लोगों को न्याय पाने के लिए आना पड़ता है।ऐसे संवेदनशील स्थलों पर न्यायिक कार्य से जूड़े लोगों को यथाशीघ्र टीकाकरण करने की जरुरत है।

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा में कोरोना से जंग शुरू, आम लोग अब हराएंगें,DM ने कहा, हम सफलता के साथ आगे बढ़ेंगे

Published

on

darbhanga-me-corona-se

खास बातें
टीका लेने वालों में रहा उत्साह का माहौल
अवलोकन में टिका लेने वाले पूर्णतः सामान्य दिखें

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। पूरे विश्व को अपनी प्रकोप के चपेट में लेने वाला कोविड-19 (कोरोना वायरस) से बचाव व सुरक्षा के लिए इजाद किये गए टीका का आज आम लोगों में प्रयोग बिल्कुल सफल दिखा। अवलोकन कक्ष में सभी सामान्य दिखें।

जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. ने अपने कर-कमलों से डी.एम.सी.एच. के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में बनाये गये टीकाकरण केन्द्र का फीता काटकर दरभंगा जिले में टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। डीएमसीएच. के चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील कुमार गुप्ता को वहाँ पहला टीका लगाया गया। इसके बाद दूसरा टीका लगवाने वाले वहीं के डॉ. ओम प्रकाश रहें एवं तीसरा टीका डीएमसीएच के स्टोर कीपर मो0 इब्राहिम को लगाया गया। लगभग 30 मिनट तक वे तीनों ऑब्जर्वेशन में रहें और वे तीनों बिल्कुल सामान्य दिखें। इस अवसर पर सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में उत्सव का माहौल रहा। टीका लेने वालों की कतार लगी रही।

इस अवसर पर संवाददाताओं को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि पूरे देश में प्रधानमंत्री द्वारा एवं बिहार में मुख्यमंत्री द्वारा टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है। दरभंगा में डी.एम.सी.एच. से इस कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है। इस अवसर पर उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि उनके समक्ष तीन लोगों को टीका लगाया गया, वे तीनों ऑब्जर्वेशन में बिल्कुल सामान्य दिखें। इस तरह कोविड-19 का टीका सफल रहा। जिस वायरस से हम विगत 08 महीने से परेशान थे, जीवन की गतिविधियाँ असामान्य हो गयी थीं, अब खुशी है कि इस टीकाकरण के बाद हम पुनः सामान्य जीवन में लौट जाएंगे। लेकिन, अभी भी कोविड-19 से सुरक्षा व बचाए के लिए जारी गाइडलाइन का पालन करते रहना जरूरी है। मास्क, सामाजिक दूरी एवं सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहना है। क्योंकि, प्रथम टीकाकरण के बाद पुनः 28 वें दिन उसी व्यक्ति को दूसरी बार टीका लगाया जाएगा और उसके 15 दिनों के बाद उस व्यक्ति के शरीर में पूर्णतः कोरोना का प्रतिरोधक क्षमता तैयार होता है। इसलिए सुरक्षा के उपाय अभी जरूरी है।

उन्होंने कहा कि आज प्रथम चरण के टीकाकरण में स्वास्थ्य कर्मियों, स्वास्थ्य संस्थाओं के सफाई कर्मी, एम्बुलेंस चालक एवं चिकित्सकों का टीकाकरण किया जा रहा है। दूसरे चरण में फ्रन्ट लाईन वर्कर, जिनमें नगर निकाय के सफाई कर्मी, पुलिस बल, सेना के जवान, राजस्व एवं ग्रामीण विभाग के कर्मियों/पदाधिकारियों का टीकाकरण किया जाएगा। तीसरे चरण में 50 वर्ष से ऊपर वाले एवं समस्याग्रस्त लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। जल्द ही आम लोगों को भी टीका लगाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में दरभंगा के 10 सत्र स्थलों (टीकाकरण केन्द्र) पर टीकाकरण किया जा रहा है। प्रत्येक टीकाकरण केन्द्र पर 100-100 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्हें मैसेज भेजा जा चुका है, जो छूट जाएगे, उन्हें बाद में बेहद अफसोस होगा, इसलिए लोगों से अपील है कि वे अपना टीकाकरण निश्चित रूप से करा लें।

इस अवसर पर डी.एम.सी.एच. के प्राचार्य डॉ. एच.एन. झा, सिविल सर्जन डॉ. संजीव कुमार सिन्हा, उप निदेशक, जन सम्पर्क नागेन्द्र कुमार गुप्ता, अनुमण्डल पदाधिकारी सदर राकेश गुप्ता, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी अमरेन्द्र कुमार मिश्र, डी.पी.एम. (हेल्थ) विशाल कुमार, विश्व स्वास्थ्य संगठन के डॉ. वाशव राज, यू.एन.डी.एफ. के पंकज कुमार, यूनिसेफ के ओंकार चन्द्र व अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।
इसके उपरांत जिलाधिकारी दूसरे टीकाकरण केन्द्र पारस हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। वहाँ सुधाकर मिश्र, अजय कुमार दुबे एवं विजय कुमार पासवान को टीका लगाया जा चुका था। वे अवलोकन कक्ष में बिल्कुल सामान्य रूप से बैठे थे।

जिलाधिकारी डॉ.एसएम ने वहाँ की व्यवस्था का अवलोकन किया तथा अवलोकन कक्ष में कुर्सी की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये। इस अवसर पर सभी पदाधिकारी मौजूद थे।इसके उपरांत जिलाधिकारी ने तीसरे टीकाकरण केन्द्र आर.बी. मेमोरियल हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। वहाँ रूबी, लाल बाबु यादव और अर्पणा कुमारी को टीका लगाया जा चुका था। वे सभी अवलोकन कक्ष में सामान्य रूप से बैठे थे। जिलाधिकारी ने वहाँ की व्यवस्था का भी अवलोकन किया। इस पर अवसर उपरोक्त सभी पदाधिकारी उपस्थित थे।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: