Connect with us

Bihar

भागलपुर-हावड़ा के बीच चलेंगी पहली प्राइवेट ट्रेन, फ्लाइट जैसी यात्रियों का स्वागत करेंगी होस्टेस

Published

on

भागलपुर-हावड़ा के बीच चलेंगी पहली प्राइवेट ट्रेन, फ्लाइट जैसी यात्रियों का स्वागत करेंगी होस्टेस
पाकुड़,देशज न्यूज। भागलपुर से हावड़ा के बीच चलने वाली पहली प्राइवेट के परिचालन पर अंतिम मुहर लग गई है। सप्ताह में सातों दिन चलने वाली ट्रेन का मेंटनेंस भागलपुर में ही निजी हाथों में होगा।
इसके मद्देनजर कोचिंग यार्ड डिपो में अलग से पिट लाइन आवंटित की जाएगी। रेलवे मंत्रालय ने इसके संबंध में पूर्व रेलवे मुख्यालय को पत्र भेजा गया है। (Private train will start between Bhagalpur and Howrah)
जानकारी के मुताबिक भागलपुर-हावड़ा के बीच चलने वाली प्राइवेट ट्रेन भागलपुर रात 10 बजे पहुंचेगी और सुबह में खुलेगी। ऐसे में यार्ड में कौन सी पिट खाली रहती है। पिट लाइन विद्युतीकृत है या नहीं ऐसी कई जानकारियां अगस्त तक मांगी गई है। मेंटनेंस कर्मी टूल बॉक्स सहित अन्य संसाधन भी निजी होंगे।(Private train will start between Bhagalpur and Howrah)
वहीं निविदा प्रक्रिया इसी साल शुरू होने की बात कही गई है, जिसके तहत  रिक्वेस्ट फॉर क्वॉलिफिकेशन का काम सितंबर 2020 तक फाइनल करना है। मार्च 2021 में निविदा खुलेगी, जिसमें  संबंधित एजेंसी या कंपनियों की निविदा खुलेगी। कंपनी का बैक ग्राउंड देखा जाएगा। इसके बाद ही ट्रेन एलॉट की जाएगी।(Private train will start between Bhagalpur and Howrah)
रेलवे ने प्राइवेट ट्रेन परिचालन के लिए संपूर्ण देश को 12 कलस्टरों  में बांटा है, जिसके तहत हावड़ा को कलस्टर-छह में रखा गया है। भागलपुर-हावड़ा के बीच चलने वाली पहली प्राइवेट ट्रेन का परिचालन साहिबगंज-रामपुरहाट-वर्धवान के रास्ते होगा और 425 किमी की दूरी सवा आठ घंटे में पूरी होगी।(Private train will start between Bhagalpur and Howrah)
इसका ठहराव भागलपुर-हावड़ा के बीच किन-किन स्टेशनों पर होगी, किराया क्या होगा इस पर निर्णय निविदा के बाद लिया जाएगा।वैसे प्रस्तावित ट्रेन की रफ्तार अधिकतम 160किमी प्रति घंटे रहने की बात कही गई है। रेलवे के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार प्राइवेट ट्रेन का रखरखाव का काम कम से कम सात हजार किमी पर होगी। (Private train will start between Bhagalpur and Howrah)
जबकि ट्रेन में लोको पायलट, सहायक लोको पायलट और गार्ड रेलवे के होंगे। टिकटिंग, पार्सल और अन्य व्यावसायिक कामकाज के अलावा यात्री सुविधाओं का जिम्मा नीजी तौर पर होगा। संचालन कर्ता रेलवे को बोगियों के एवज में ट्रांसपोर्टेशन चार्ज देगा। साथ ही फ्लाइट की तर्ज पर इसमें सफर करने वाले यात्रियों का स्वागत होस्टेस करेगी।(Private train will start between Bhagalpur and Howrah)

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

एनएच 57 मनीगाछी के राजे टोल प्लाजा के नजदीक कार ने बाइक को रौंदा, 1 की मौत, दूसरा गंभीर

Published

on

एनएच 57 मनीगाछी के राजे टोल प्लाजा के नजदीक कार ने बाइक को रौंदा, 1 की मौत, दूसरा गंभीर
एनएच 57 मनीगाछी के राजे टोल प्लाजा के नजदीक कार ने बाइक को रौंदा, 1 की मौत, दूसरा गंभीर
दरभंगा, देशज टाइम्स न्यूज। मनीगाछी एन एच -57 राजे टोल प्लाजा पर कार व बाइक की टक्कर में शनिवार को एक बाइक सवार की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। वहीं, दूसरा बाइक सवार बुरी तरह जख्मी है। तत्काल लोगों ने उसे डीएमसीएच में भर्ती कराया है जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।
जानकारी के अनुसार, हादसा उस समय हुआ जब पटना से पूर्णिया जा रहे कार सवार ने बाइक के अचानक से मोड़ देने से उसमें सीधी टक्कर मार दी जिससे एक की मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, एन एच -57 राजे टोल प्लाजा के पीछे पानी टंकी के नजदीक कार के चालक ने कट पर खड़ी एक मोटरसाइकिल में ठोकर मार दी।
ठोकर लगने से मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों में से एक की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। दूसरा गंभीर रूप से जख्मी है, जिन्हेंं एंबुलेंस से तत्काल डीएमसीएच इलाज के लिए भेजा गया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।
मौके पर पुलिस को कार सवार पूर्णिया के दिनेश सिंह ने बताया, वह सभी पटना से अपने परिवार सहित कार से अपने घर पूर्णिया जा रहे थे। इसी बीच दुर्घटना स्थल के कट के नजदीक दो बाइक सवार खड़े थे। अचानक बाइक मोड़ देने के कारण टक्कर हो गई। बाइक को बचाने में कार भी कुछ दूर तक घिसट गई लेकिन तब तक हादसा हो चुका था।
Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा में निर्वाची पदाधिकारियों ने कहा, हम आपकी मदद करने के लिए आए हैं

Published

on

दरभंगा में निर्वाची पदाधिकारियों ने कहा, हम आपकी मदद करने के लिए आए हैं

चुनाव की तैयारी को लेकर निर्वाची पदाधिकारियों के साथ  बैठक, सामान्य प्रेक्षकगण भी हुए शामिल

दरभंगा, देशज टाइम्स न्यूज7 बिहार चुनाव की तैयारी को लेकर समाहरणालय परिसर अवस्थित अंबेडकर सभागार में जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम की अध्यक्षता व प्रेक्षकगण की उपस्थिति में सभी निर्वाची पदाधिकारियों एवं सभी कोषांग के नोडल पदाधिकारियों के साथ मैराथन बैठक की गई।

बैठक को संबोधित करते विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र बेनीपुर, अलीनगर व दरभंगा ग्रामीण के सामान्य प्रेक्षक पाटिल राजेश प्रभाकर ने कहा कि हम यहां निर्वाचन कार्य में आपकी मदद करने के लिए आए हैं, चुनाव कार्य में सबका सहयोग जरूरी होता है। इसमें काम ससमय निष्पादित करने की आवश्यकता होती है।दरभंगा में निर्वाची पदाधिकारियों ने कहा, हम आपकी मदद करने के लिए आए हैं

10 वर्ष पहले के चुनाव और अब के चुनाव में बहुत बदलाव आ गया है, अब हर कार्य में तकनीक का उपयोग किया जाता, नॉमिनेशन भी ऑनलाइन किया जा सकता है, सोशल मीडिया इतनी एक्टिव है कि छोटी से छोटी चूक भी तुरंत प्रसारित होकर नेशनल लेवल पर प्रसारित हो जाती है।

उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन के सभी कार्यों के लिए लिखित निर्देश दिए गए हैं, फिर भी आपको यदि कहीं कठिनाई होती हो तो निर्वाची पदाधिकारी या वरीय पदाधिकारी से बात कर जानकारी ले लें। उन्होंने कहा कि मतदान केंद्रों पर कोई कमी ना रह पाए, इसका अवलोकन सेक्टर पदाधिकारी कर ले। बीएलओ, आशा, सेविका को उनके दायित्व के संबंध में पूर्व में ही जानकारी देनी होगी।

कोविड-19 को लेकर भी प्लानिंग करनी होगी। उन्होंने कहा कि 80 वर्ष से ऊपर के एवं पीडब्ल्यूडी मतदाताओं की सुविधा प्रदान के लिए भी सोचना होगा। उन्होंने कहा कि यदि कोई भी आपके पास निर्वाचन कार्य से संबंधित सहायता के लिए आता है तो उसे तुरंत रिस्पॉन्स दें। जैसे देश की रक्षा के लिए जवान जिस तरह बॉर्डर पर योगदान देते हैं उसी प्रकार हम निर्वाचन का कार्य कर लोकतंत्र को मजबूती प्रदान करने में अपना योगदान देते हैं।

बैठक को संबोधित करते हुए विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र दरभंगा, हायाघाट व बहादुरपुर के पर्यवेक्षक भरत यादव ने कहा कि चुनाव लोकतंत्र का महापर्व है, इस बार कोविड-19 की चुनौती भी है, निर्वाचन प्रक्रिया में उसका पालन कराना पड़ेगा, हमारे कर्मी भी सुरक्षित रहें यह भी हमें ध्यान रखना होगा। उन्होंने कहा कि मतदान केंद्रवार व कोविड किट्स बंट जाए।दरभंगा में निर्वाची पदाधिकारियों ने कहा, हम आपकी मदद करने के लिए आए हैं

मतदाता मास्क लगाकर बूथ पर आएं। मतदाता द्वारा प्रयोग किए गए ग्लव्स का समुचित ढंग से डिस्पोजल हो, साथ ही जो भी कोविड वेस्ट है उसे उसी दिन उसका संग्रह हो जाए। यह सुनिश्चित करवाना होगा।

काउंटिंग कर्मियों का ट्रेनिंग एडवांस में हो जाए वोटर स्लिप ससमय बँट जाए। उन्होंने सुझाव दिया कि मतगणना में ज्यादा से ज्यादा मास्टर ट्रेनर को काउंटिंग सुपरवाइजर बनाया जाए, काउंटिंग के 1 दिन पूर्व पूर्वाभ्यास भी करा लिया जाए।

cVigil पर प्राप्त शिकायतों का ससमय निष्पादन हो तथा सभी मतदान केंद्रों पर हेल्पलाइन नंबर 1950 को भी अंकित करा दिया जाए,ताकि किसी को कोई जानकारी प्राप्त करनी हो तो 1950 से निर्वाचन से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा सभी निर्वाची पदाधिकारियों से 13 बिंदुओं पर उनके द्वारा मतदान के लिए कराई गई तैयारी की जानकारी ली गई। जिनमें मतदान केंद्रों पर की गई तैयारी, जिनमें रैंप, शौचालय,पेयजल, शेड, 6 फीट की दूरी पर गोलाकार का चिह्न, मतदान केंद्र का सैनिटाइजेशन,आशा/एएनएम की प्रतिनियुक्ति, नए ईपिक का वितरण, रैली के लिए अनुमति प्रदान करने की व्यवस्था, cVigil पर प्राप्त शिकायतों का निष्पादन, डिस्पैच सेंटर की तैयारी की स्थिति, मतदाता पर्ची के वितरण की स्थिति, 12-D में प्राप्त आवेदन की स्थिति, आपराधिक मामलों में संबंधित अभ्यर्थियों द्वारा विज्ञापन प्रकाशन करने की स्थिति, कुशेश्वरस्थान, गौड़ाबौराम के पानी वाले क्षेत्रों में नाव की व्यवस्था, क्यूआरटी को सेक्टर से टैग करने की स्थिति के संबंध में जानकारी ली गई।

सभी निर्वाची पदाधिकारियों द्वारा बारी-बारी से अपने अपने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए की गई तैयारी से इन बिंदुओं से संबंधित जानकारी दी गई।जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि सभी बूथ पर पर्याप्त फर्नीचर की व्यवस्था रहे तथा वहां के प्रधानाध्यापक मतदान तिथि के 2 दिन पहले चाबी लेकर उपस्थित रहें। यह जिला शिक्षा पदाधिकारी सुनिश्चित करेंगे।

सभी निर्वाची पदाधिकारी अपने स्तर से पर्दानशीं महिलाओं की पहचान के लिए महिला कर्मियों की प्रतिनियुक्ति कर लें, 250 रुपये प्रति कर्मी की दर से संबंधित बीडीओ भुगतान करेंगे। उन्होंने कहा कि सभी मतदान केंद्रों पर प्रकाश की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए।

उन्होंने कुशेश्वर स्थान एवं गौड़ाबौराम विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी को पर्याप्त नाव की व्यवस्था करने तथा पोलिंग पार्टी एवं पीसीसीपी को नाव से पहुंचाने की योजना बना लेने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी नावों के लिए जिला परिवहन पदाधिकारी से स्वच्छता प्रमाण पत्र प्राप्त कर ली जाए, ताकि अंतिम समय में किसी प्रकार की परेशानी पीसीसीपी या मतदान कर्मियों को ना हो सके।बैठक में केवटी व जाले के सामान्य प्रेक्षक भूपेंद्र सिंह, डीडीसी श्री तनय सुल्तानिया, नगर आयुक्त मनेश कुमार मीणा व सभी कोषांग के पदाधिकारीगण उपस्थित थे।दरभंगा में निर्वाची पदाधिकारियों ने कहा, हम आपकी मदद करने के लिए आए हैं

Continue Reading

Madhubani

मधुबनी प्राथमिक शिक्षा निदेशक मार्गदर्शन मांगने से नाराज, नौ को हाई कोर्ट में अगली सुनवाई

Published

on

मधुबनी प्राथमिक शिक्षा निदेशक मार्गदर्शन मांगने से नाराज, नौ को हाई कोर्ट में अगली सुनवाई
मधुबनी प्राथमिक शिक्षा निदेशक मार्गदर्शन मांगने से नाराज, नौ को हाई कोर्ट में अगली सुनवाई

मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने निर्धारित मामले में मार्गदर्शन मांगने को गंभीरता से लिया है। इस कार्रवाई को अनावश्यक विलंब की कार्यसंस्कृति मानते हुए प्रतिवेदन देने को कहा है।

सेवानिवृत्त बीइओ उमेश बैठा को सेवांत लाभ देने और अन्य सुविधाएं दिये जाने को लेकर उच्च न्यायालय में दर्ज मामला को लेकर यह हालत उत्पन्न हुई है। उच्च न्यायालय में विभाग द्वारा प्रतिशपथ पत्र दायर नहीं किये जाने पर प्रतिकूल कार्रवाई की आशंका से विभाग के वरीय अधिकारी सहमे हुए है।

इस हालत में निदेशक ने मधुबनी डीपीओ स्थापना व डीइओ को जिम्मेवार बताया है। दरअसल में सेवानिवृत बीईओ की ओर से दायर वाद का मामला जिले के शिक्षा विभाग के अधिकारियों की परेशानी को लगातार बढ़ा रहा है।

जानकारी के अनुसार, इसी मामले में सात अक्टूबर को दरभंगा के आरडीडी ने डीईओ पर प्रपत्र क गठित कर विभागीय कार्रवाई के लिए निदेशक को भेज दिया है। अब इस मामले में निदेशक प्राथमिक शिक्षा डा. रणजीत कुमार सिंह ने डीईओ नसीम अहमद को कई जरूरी निर्देश दिया है।

मामले में बरती गयी लापरवाही के आलोक में प्रतिवेदन 27 अक्टूबर तक उपलब्ध कराने को कहा है। ससमय या पूर्ण तथ्यों का प्रतिशपथ पत्र दायर नहीं किए जाने के कारण विभाग के वरीय पदाधिकारी के समक्ष होने वाले प्रतिकूल परिस्थिति की पूरी जिम्मेवारी डीईओ की होगी एवं डीईओ के विरूद्ध विभागी कार्रवाई की बाध्यता होगी।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: