Connect with us

Patna

मुंबई से लौटी पटना पुलिस, कहा जो सबूत मेरे पास है वह रिया को दोषी ठहराने के लिए काफी

Published

on

मुंबई से लौटी पटना पुलिस, कहा जो सबूत मेरे पास है वह रिया को दोषी ठहराने के लिए काफी
पटना, देशज न्यूज। सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की जांच करने मंबई गई बिहार पुलिस गुरुवार को पटना लौट आयी। 4 सदस्यों वाली टीम  27 जुलाई को मुंबई पहुंची थी। पटना पहुंचने पर टीम ने दावा किया है कि जो सबूत उन्हें चाहिए थे, वे उन्हें मिल गए हैं। रिया ही नहीं दिशा के आत्महत्या मामले में भी हमें काफी सारे ठोस सबूत हाथ लगे हैं।
पटना लौटने पर  पुलिस टीम ने दावा किया कि सुशांत रिया चक्रवर्ती से इतना परेशान हो गए थे कि वह अब मुंबई में नहीं रहना चाह रहे थे।
पटना पुलिस को अपनी जांच में इस बात के अहम सुराग हाथ लगे हैं। हिमाचल प्रदेश में उन्होंने रहने का फैसला कर लिया था। इसके लिए उन्होंने तैयारी भी पूरी कर ली  थी लेकिन, इससे पहले उनकी मौत हो गई। Patna police returned from Mumbai after 11 days
पांच दिन में रिया ने किया 25 बार कॉल
पटना पुलिस ने बताया कि  रिया की वजह से परेशान सुशांत इसी साल जनवरी  में चंडीगढ़ गए थे। वह अपनी बहन के पास 20 से 24 जनवरी तक रहे। मुंबई में रहकर बिहार पुलिस की टीम ने सुशांत की कॉल डिटेल निकाली थी। इससे पता चला कि उन 5 दिनों में रिया ने 25 बार सुशांत को कॉल किया और मुंबई लौटने का दबाव बनाया। पुलिस सूत्र के अनुसार, सुशांत ने पिछले साल नवंबर में ही अपने परिवार से मदद मांगी थी। उसने जब नए नंबर लिए तो उस वक्त भी अपने परिवार से बचा लेने को कहा था। लेकिन सुशांत और इसके परिवार के बीच अक्सर रिया चक्रवर्ती आ जाती थी।Patna police returned from Mumbai after 11 days
टीम के साथ आईजी ने किया रिव्यू
मुंबई से 11 दिन बाद पटना लौटी पुलिस टीम दोपहर में सेंट्रल रेंज के आईजी संजय सिंह के पास पहुंची। टीम के साथ आईजी ने मुंबई में चली जांच और जुटाए गए सबूतों को लेकर काफी देर तक रिव्यू किया। हर एक प्वाइंट पर टीम के साथ आईजी की बात हुई। आईजी ने कहा कि मुंबई में रहने के दौरान वे लगातार अपनी टीम के साथ संपर्क में थे। उन्होंने स्पष्ट कहा कि जांच में जो तथ्य और सबूत सामने आए हैं उस बारे में वे कुछ भी अभी  नहीं बतायेंगे । मामला सीबीआई को जा चुका है। इसलिए कुछ भी कहना सही नहीं होगा। लेकिन, इतना पक्का है कि पटना पुलिस को 11 दिनों में जो सबूत मिले हैं वह रिया को दोषी ठहराने के लिए काफी है।Patna police returned from Mumbai after 11 days

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Patna

पप्पू यादव ने 30 साल के महापाप को खत्म करने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन PDA

Published

on

पप्पू यादव ने 30 साल के महापाप को खत्म करने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन PDA

पटना, देशज न्यूज। जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने चंद्रशेखर आजाद की अध्यक्षता वाली आजाद समाज पार्टी, एमके फैजी के नेतृत्व वाली सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी यानी एसटीपीआई व बीपीएल मातंग की बहुजन मुक्ति पार्टी को शामिल करते हुए सोमवार को प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन यानी पीडीए PDA बनाने का ऐलान किया है।

गठबंधन का ऐलान करते यादव ने इसे मानवतावादी, सबको लेकर चलने वाला गठबंधन बताया। कहा,दो दिनों के बाद कॉमन कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने की भी घोषणा करूंगा जो  30 सालों के महापाप को समाप्त करने के लिए बनाया जाएगा।

कहा, उनकी बात राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा से भी हो रही है, उनका भी इस गठबंधन में स्वागत है। दो दिनों में इस गठबंधन में और पार्टियां शामिल होंगी।  लोजपा व कांग्रेस को भी गठबंधन में शामिल होने की दावत देते यादव ने एनडीए व महागठबंधन दोनों को निशाना बनाया।

पप्पू ने कहा, समय आ गया है अब तीस साल के महापाप का खात्मा बिहार में जरूरी है। उन्होंने सीएम नीतीश पर हमला करते कहा, उन्होंने कोरोना व लॉकडाउन के दौरान गुजरात व दिल्ली में लाचार बिहारियों की मदद नहीं की। उन्होंने नीतीश कुमार पर रघुवंश बाबू के अपमान का भी आरोप लगाया। कहा, नीतीश कुमार लाश पर राजनीति कर रहे हैं।

Continue Reading

Patna

पटना में इस बार दुर्गापूजा पर रोक, न बनेंगे पंडाल न लगेगा कोई मेला, घर में लोग पूजा को मजबूर

Published

on

पटना में इस बार दुर्गापूजा पर रोक, न बनेंगे पंडाल न लगेगा कोई मेला, घर में लोग पूजा को मजबूर
पटना में इस बार दुर्गापूजा पर रोक, न बनेंगे पंडाल न लगेगा कोई मेला, घर में लोग पूजा को मजबूर

पटना, देशज न्यूज। इसबार दुर्गापूजा पूरी तरह से फीका रहने की उम्मीद है। लोग घरों में ही पूजा करने को मजबूर हो जाएंगें। कारण, पटना प्रशासन से जो जानकारी छनकर निकल रही है उसमें कोरोना को देखते हुए इसबार पूजा पर पूरी तरह रोक रहेगी। वहीं, पंडाल व मेला लगाने पर भी पाबंदी लगा दी गई है।

जानकारी के अनुसार, पटना प्रशासन ने दुर्गा पूजा को लेकर बड़ा फैसला लेते हुए कोरोना काल में इसबार पंडालों के लगाने पर रोक लगा दी है। इस फैसले के बाद मां की आराधना सिर्फ घरों में ही हो पाएगी।

पटना प्रशासन ने पूजा पंडाल व मेले के आयोजन पर रोक लगा दी है। इससे इस बार लोग घरों में मां भगवती की पूजा करेंगे। हर साल की तरह इस साल न तो पंडाल सजेंगे ना ही प्रतिमाएं स्थापित की जाएंगी।

पटना प्रशासन ने जानकारी देते बताया है, केंद्र सरकार के निर्देश पर ऐसा किया गया है। निर्देश के मुताबिक किसी भी आयोजन में सौ से अधिक लोग इकट्ठा नहीं हो सकते हैं। अगर मेला लगा व पंडाल बनाए गए तो नियम का पालन नहीं हो पाएगा।

इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने पूजा पंडाल व मेला की इजाजत नहीं दी है। यही नहीं, इस दौरान चुनाव भी पूजा पंडाल नहीं लगने के बाद अब प्रशासन पूरी तरह चुनाव की तैयारियों पर फोकस कर पाएगी।

Continue Reading

Patna

जेडीयू में शामिल हुए पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, CM नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता

Published

on

जेडीयू में शामिल हुए पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, CM नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता
जेडीयू में शामिल हुए पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, CM नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता

पटना, देशज न्यूज। पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय रविवार को जदयू में शामिल हो गए। उन्होंने पटना स्थित मुख्यमंत्री आवास में सीएम नीतीश कुमार से पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

चुनाव से पहले नौकरी से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने के बाद श्री पांडेय जदयू में आए हैं। पिछले कई दिनों से जेडीयू में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे थे। हालांकि उनके भाजपा में भी जाने की अटकलें लगी थी मगर आज  उन्होंने विधिवत जेडीयू की सदस्यता लेकर राजनीति में उतरने का पूरा मन दिखाया।

इससे पूर्व शनिवार को उनकी सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद ही जेडीयू में जाने की चर्चा तेज हो गई थीं। हालांकि उस समय यह तय नहीं हुआ था, किस दिन जेडीयू में शामिल होंगे।

वहीं,श्री पांडेय के लोकसभा उपचुनाव लड़ने की भी चर्चाएं चल रही हैं। इसको लेकर भी पांडेय ने किसी तरह की संभावना से इनकार किया था। पांडेय ने कहा था,चुनाव लड़ने को लेकर उन्होंने फिलहाल कोई रणनीति नहीं बनाई है। डीजीपी पद से रिटायरमेंट लेने के बाद कहा था, नीतीश कुमार ने उन्हें स्वतंत्र रूप से काम करने दिया, इसीलिए वे जेडीयू कार्यालय में उन्हें धन्यवाद देने गए थे, लेकिन रविवार की सुबह  जेडीयू की सदस्यता लेकर उन्होंने परिपक्व राजनीतिक होने का भी परिचय दे दिया।

 

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: