Connect with us

Patna

आपस में भिड़ गए सुशील मोदी और तारकिशोर प्रसाद के ड्राइवर, जानिए पूरा माजरा

Published

on

आपस में भिड़ गए सुशील मोदी और तारकिशोर प्रसाद के ड्राइवर, जानिए पूरा माजरा

मोदी के ड्राईवर ने उप मुख्यमंत्री की पार्किंग में खड़ी कर दी थी गाड़ी
तारकिशोर के ड्राईवर की आपत्ति पर सुरक्षाकर्मियों ने हटाई मोदी की गाड़ी

पटना, देशज न्यूज। बिहार विधानसभा में  सोमवार को तब एक अजीबोगरीब स्थिति उत्पन्न हो गई जब गाड़ी लगाने को लेकर बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और मौजूदा उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के ड्राइवर आपस में ही भिड़ गए बिहार विधानसभा में मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने सुशील मोदी की गाड़ी को वहां से निकाल दिया और उसे जनरल पार्किंग में भेज दिया।Modis and Tarkishor drivers clashed in vidhansabha ।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,


दरअसल, बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित होने के बाद सर्टिफिकेट लेने बिहार विधानसभा पहुंचे थे जब उनकी गाड़ी विधानसभा में आई तब उनके ड्राइवर ने सुशील मोदी को पोर्टिको में उतारा और गाड़ी सीधे ले जाकर बिहार  उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के लिए निर्धारित पार्किंग स्थल पर लगा दिया था जब सुशील मोदी के ड्राइवर ने गाड़ी को डिप्टी सीएम की पार्किंग में लगायाउसके कुछ ही देर बाद ही उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद की गाड़ी भी वहां आ गई

 जब तारकिशोर प्रसाद के ड्राइवर ने सुशील मोदी की गाड़ी सामने देखी तो उसने आपत्ति जताई उसने सुशील मोदी के ड्राइवर से कहा कि यह जगह उपमुख्यमंत्री की गाड़ी पार्क करने के लिए हैइस दौरान वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी भी पहुंच गए, जिन्होंने आनन-फानन में सुशील मोदी की गाड़ी को वहां से हटा दिया जब जगह खाली हुई तब उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद की गाड़ी वहां लगाई जा सकी।Modis and Tarkishor drivers clashed in vidhansabha ।

क्या है विधानसभा में पार्किंग का नियम
दरअसल, बिहार विधानसभा में गाड़ी की पार्किंग के लिए भी नियम बनाये गए हैं नियमानुसार विधानसभा के मुख्य पद पर रहने वाले लोगों की गाड़ियां लगती हैं जो नियम हैउसके मुताबिक पोर्टिको की दाईं तरफ विधानसभा अध्यक्ष और मुख्यमंत्री की गाड़ी लगाई जाती है वहीं, दूसरी ओर विधानसभा पोर्टिको की बाएं तरफ उप मुख्यमंत्री की गाड़ी लगती हैजहां आज भूल से सुशील मोदी के ड्राइवर ने उनकी गाड़ी लगा दी थी जिसे बाद में हटाकर जनरल पार्किंग में भेज दिया गया।Modis and Tarkishor drivers clashed in vidhansabha ।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bihar

Mauryalok Complex: पटना मौर्यालोक कॉम्पलेक्स में लगी आग, कोई हताहत नहीं

Published

on

Fire in Mauryalok Complex, no casualties

पटना, देशज न्यूज। राजधानी पटना की ह्र्दयस्थली शॉपिंग कॉम्प्लेक्स ‘मौर्यालोक’ में बुधवार सुबह अचानक आग लग गई। आग कॉम्प्लेक्स के प्रथम तल पर स्थित फोटो स्टूडियो और  सिद्धार्थ ट्रैवल एजेंसी में लगी।अचानक आग लगने से कॉम्प्लेक्स समेत आसपास के क्षेत्रों  में अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलने ( Fire in Mauryalok Complex, no casualties) पर फायर ब्रिगेड की टीम पांच गाड़ियों के साथ मौके पर पहुंची। इसके बाद स्थानीय दुकानदारों की मदद से फायर ब्रिगेड की टीम ने आग पर काबू पाया।

बंद फोटो स्टूडियो और ट्रैवल एजेंसी के मालिक अभिनव और अनिल सिंह ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ऊपर की दुकान में पानी का लीकेज था,जिससे शॉट सर्किट हुआ है और आग लगी है। अभिनव ने कहा कि स्टूडियो में रखे सभी सामान जलकर खाक हो गए। ट्रैवल एजेंसी के ऑनर अनिल सिंह ने कहा कि सुबह अचानक दुकान में आग लगने की सूचना मिली।

इसके बाद फायर ब्रिगेड की मदद से आग पर काबू पा लिया गया। आग लगने से एजेंसी के अंदर रखे ग्राहकों के वाउचर, ट्रेन व फ्लाइट की टिकटें और अन्य जरूरी कागजात जलकर खाक हो गए। ( Fire in Mauryalok Complex, no casualties)  इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक्स सामान और फर्नीचर भी जल गए। ट्रैवल एजेंसी के मालिक घटना में लाखों के संपत्ति की नुकसान की बात कह रहे हैं।

मौर्यालोक कॉम्प्लेक्स में 150 से अधिक दुकानें हैं। यहां के दुकानदारों का कहना है समय पर आग पर काबू पा लिया गया, जिसके चलते बड़ा हादसा टल गया। अगर आग फैलती तो आसपास के ( Fire in Mauryalok Complex, no casualties) दुकानों को भी अपने जद में ले लेती।

Continue Reading

Bihar

पटना में नियोजित शिक्षक अभ्यार्थियों पर पुलिस ने चटकाई लाठी, 12 अभ्यर्थी जख्मी

Published

on

Police lathi on teacher candidates employed in Patna

पटना, देशज न्यूज। नियोजित शिक्षक अभ्यर्थी संगठन, बिहार टीईटी -2017/सीटीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थी की ओर से आंदोलन के दूसरे दिन मंगलवार को (Police lathi on teacher candidates employed in Patna) प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

प्राथमिक शिक्षक नियोजन प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरी करने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थी दोपहर बाद धरना स्थल के गेट पर आकर नारेबाजी करने लगे। इसके बाद पुलिस द्वारा लाठीचार्ज किया गया। लाठीचार्ज के दौरान करीब 12 अभ्यर्थी घायल हो गये। घायल अभ्यर्थियों को गर्दनीबाग अस्पताल में भर्ती करवाया (Police lathi on teacher candidates employed in Patna) गया है।

एनआईओएस डीएलएड शिक्षक संघ बिहार के अध्यक्ष सूरज गुप्ता ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हम लोग शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे थे। हमने चार दिनों के धरना प्रदर्शन के लिए प्रशासन से अनुमति ली थी। हम लोग शांतिपूर्ण बैठे थे। तभी पुलिस आकर लाठीचार्ज करने लगी। पुलिस प्रशासन ने धरना स्थल के दोनों गेट को (Police lathi on teacher candidates employed in Patna) बंद करके लाठीचार्ज किया है।

उल्लेखनीय है कि धरना स्थल पर आज सुबह से ही अभ्यर्थियों द्वारा नारेबाजी और मांग पूरा करने को लेकर प्रदर्शन चल रहा था। दोपहर दो बजे धरना स्थल के गेट पर कुछ अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन तेज कर दिया। इसके बाद पुलिस ने दोनों गेट बंद करके लाठीचार्ज शुरू किया। धरना स्थल से सभी अभ्यर्थियों को हटाया गया। प्रदेश भर के(Police lathi on teacher candidates employed in Patna) टीईटी अभ्यर्थी 18 जनवरी से गर्दनीबाग धरना स्थल पर आंदोलनरत है। आज आंदोलन का दूसरा दिन था।

Continue Reading

Bihar

बिहार में अब स्कूली बच्चों को जीविका दीदी उपलब्ध कराएंगी पोशाक, अनुदान अब सीधे परिजनों को

Published

on

Now Bihar will provide livelihood to the school children

खास बातें
बिहार विधानसभा का बजट सत्र 19 फरवरी से
-नक्सली व आतंकी वारदातों में मारे जाने वाले लोगों के परिजनों को अब किश्तों में मिलेगी अनुदान की राशि
-राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में कुल 18 एजेंडों पर लगी मुहर

पटना, देशज न्यूज। बिहार विधानमंडल का बजट सत्र 19 फरवरी से 24 मार्च तक चलेगा। बजट सत्र के दौरान वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट पेश किया जाएगा। सरकार 22 फरवरी को बिहार का बजट पेश करेगी। 19 फरवरी को विधानसभा के एक्सटेंशन भवन में दोनों सदनों की  संयुक्‍त बैठक होगी। दोनों सदनों (Now Bihar will provide livelihood to the school children) को राज्यपाल फागू चौहान संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे।

मंगलवार को राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में इसके साथ कुल 18 प्रस्तावों को स्वीकृत स्वीकृति प्रदान की गई है। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव  संजय कुमार ने कहा कि राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को मुख्यमंत्री बालिका, बालक पोशाक योजना के (Now Bihar will provide livelihood to the school children) तहत प्रति वर्ष दो पोशाक देने का प्रावधान किया गया है। पोशाक योजना के लिए मुख्यमंत्री बालिका पोशाक योजना, मुख्यमंत्री शताब्दी पोशाक योजना संचालित है।

संजय कुमार ने कहा कि राज्य सरकार ने मंत्रिमंडल की बैठक में फैसला लिया है कि स्कूली छात्र-छात्राएं को अब ग्रमीण जीविकोपार्जन प्रोत्साहन समिति, उद्योग विभाग के तहत उद्यमिता विकास संगठन से संबद्ध क्लस्टर के माध्यम से अगले सत्र से दो सेट सिली हुई स्‍कूल यूनिफॉर्म की खरीद कर दी जाएगी। मंत्रिमंडल ने शिक्षा विभाग के इस प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी है। स्कूली बच्चों के पोशाक अब जीविका दीदी तैयार करेंगी। अबतक छात्र-छात्राओं को पोशाक के लिए (Now Bihar will provide livelihood to the school children) सीधे उनके बैंक खाते में सरकार की तरफ से राशि मुहैया कराई जाती थी।

प्रमुख सचिव ने कहा कि नीतीश सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना की चर्चा अन्य राज्यों में भी हुई है और सरकार इसे अपनी सबसे सफल योजनाओं में से एक मानती है। लेकिन अब इसमें बदलाव किया जा (Now Bihar will provide livelihood to the school children) रहा है। अब राशि की बजाए सिले हुए पोशाक ही छात्र-छात्राओं को मुहैया कराए जाएंगे और यह सब कुछ चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा।

राज्य मंत्रिमंडल ने आतंकवादी, नक्सलवादी हिंसा और दंगे में मारे जाने वाले व्यक्ति के परिजनों को मिलने वाला पांच लाख रुपये का अनुदान अब किस्तों में मिलेगा। 50 प्रतिशत राशि परिजन के सेविंग (Now Bihar will provide livelihood to the school children)अकाउंट में सीधे जमा होगा जबकि बाकी शेष राशि सावधि खाते में जमा की जाएगी।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: