Connect with us

Patna

पटना से बुरी खबर: कोरोना से JDU नेता की मौत, समुदायिक रूप ले चुका कोरोना, लोग बगैर मास्क

Published

on

पटना से बुरी खबर: कोरोना से JDU नेता की मौत, समुदायिक रूप ले चुका कोरोना, लोग बगैर मास्क

पटना, देशज न्यूज। बिहार में बढ़ते कोरोना का संक्रमण से जदयू नेता सुनील कुमार की मौत हो गई है। सुनील कुमार JDU leader dies during treatment in Kovid-19 ward in Patna कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें एनएमसीएच में भर्ती कराया गया था। 

पूर्व युवा जदयू जिलाध्यक्ष सुनील कुमार JDU leader dies during treatment in Kovid-19 ward in Patna कोरोना से संक्रमित थे। वे पिछले दस दिनों से एनएमसीएच में भर्ती थे। सुनील कुमार का लगातार इलाज चल रहा था लेकिन बुधवार की रात सुनील कुमार की कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई। 

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

सुनील JDU leader dies during treatment in Kovid-19 ward in Patna फतुहा के रहने वाले थे। वह कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे। इसके बाद उन्होंने दवा खाकर खुद को बेहतर करने की कोशिश की लेकिन जब स्वास्थ्य में सुधार नहीं हो सका तो आखिर में एनएमसीएच में भर्ती कराए गए थे।

इधर, बेगूसराय में कोरोना वायरस ने आक्रमक रूप ले लिया है। अब कोरोना प्रवासी से हटकर समुदायिक रूप लेता जा रहा है। लेकिन लोग सतर्क नहीं हो रहे हैं, बाजारों में बेहिसाब भीड़ जुट रही है, लोग धड़ल्ले से बगैर मास्क के घूम रहे हैं, व्यवसायी भी इसके प्रति सतर्क नहीं हैं। बुधवार की देर रात जारी जांच रिपोर्ट में भी बेगूसराय के 16 व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

इसके साथ ही यहां संक्रमितों की संख्या 375 हो गई है। जिसमें से 313 व्यक्ति कोरोना के वायरस को हराकर अपने घर जा चुके हैं। नए संक्रमित पाए गए सभी व्यक्ति बलिया अनुमंडल क्षेत्र के 12 वर्षीय बच्चे से लेकर 70 वर्षीय वृद्ध तक है।

संक्रमितों में से डंडारी प्रखंड के आठ व्यक्ति, साहेबपुर कमाल प्रखंड के पांच व्यक्ति तथा बलिया प्रखंड के तीन व्यक्ति शामिल हैं। एक साथ 16 व्यक्ति के संक्रमित पाए जाने के बाद प्रशासनिक हलके में हड़कंप मच गया है। सभी नए प्रभावित व्यक्तियों को स्थानीय आइसोलेशन-कम-ट्रीटमेंट सेंटर में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया गया है। उनके ट्रैवल हिस्ट्री एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग कराए जा रहे हैं।

जोखिम भरे क्षेत्र (कंटेनमेंट जोन) निर्धारित कर गुरुवार को सुबह से ही बैरिकेटिंग किया जा रहा है। बता दें कि बेगूसराय में कोरोना का वायरल चेन तोड़ने के लिए जिला प्रशासन निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन करवाने के साथ-साथ सभी एहतियात बरत रही है। लेकिन लोगों की असतर्कता के कारण संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है।
हालत यह कि एसपी कार्यालय में बैठने वाले डीएसपी भी कोरोना वायरस के शिकार हो गए हैं। जिसके बाद कार्यालय में पदस्थापित 50 से अधिक अधिकारियों और कर्मियों को होम क्वारेन्टाइन में भेज दिया गया है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Patna

पटना बनेगा वुहान, गंगा किनारे फेंके इस्तेमाल पीपीई किट, कचरा चुनने वाले बच्चे ले जा रहे घर

Published

on

पटना बनेगा वुहान, गंगा किनारे फेंके इस्तेमाल पीपीई किट, कचरा चुनने वाले बच्चे ले जा रहे घर
पटना बनेगा वुहान, गंगा किनारे फेंके इस्तेमाल पीपीई किट, कचरा चुनने वाले बच्चे ले जा रहे घर

निजी अस्पतालों ने उड़ाई नियमों की धज्जियां,पटना को बुहान बनाने में जुटे हॉस्पिटल

    पटना, देशज न्यूज। एक तरफ बिहार में कोरोना का संकट लगातार गहराता जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ पटना के अस्पताल बिहार को वूहान बनाने में जुटे हुए हैं। इस्तेमाल किए गए हजारों पीपीई किट (PPE kit at Ganga bank) व मास्क राजधानी के गंगा किनारे फेंक दिये  गये  हैं  जिसके संपर्क में कई  लोग आ रहे हैं। इससे पटना में कोरोना के संक्रमण का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है।

पटना के दीघा के समीप इस्तेमाल किये  हुए हजारों पीपीई किट (PPE kit at Ganga bank) फेंके  गए हैं। जिस जगह पर यह मेडिकल कचरा फेंका गया है, उस रास्ते से सैकड़ों लोग आते-जाते हैं। इसके अलावा कबाड़ी और कचड़ा चुनने वाले बच्चे पीपीई किट को बोरे में रखकर अपने घर ले जा रहे हैं जिससे संक्रमण का खतरा और अधिक बढ़ गया है।

बताया जा रहा है कि किसी निजी अस्पताल के कर्मचारी यहां पीपीई किट को जैसे-तैसे फेंक रहे हैं। कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए पीपीई किट का कोरोना मरीज और इलाज करने वाले डॉक्टर इस्तेमाल (PPE kit at Ganga bank) कर रह रहे हैं। इसको सिर्फ एक बार इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में पटना के सैकड़ों हॉस्पिटल हैं, जिससे हजारों पीपीई किट रोज निकलता है।

पीपीई किट को बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट नियमों के तहत ही नष्ट करना है। लेकिन हॉस्पिटल (PPE kit at Ganga bank) वाले इस नियम की धज्जियां उड़ा रहे हैं। जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। बता दें कि रोज सैकड़ों कोरोना मरीज बिहार में पॉजिटिव मिल रहे है। इसमें सबसे अधिक पटना में मरीज मिले रहे हैं। पटना में 1214 कोरोना मरीज अबतक मिल चुके हैं।

Continue Reading

Patna

पटना में BJP नेता को अपराधियों ने 2 गोली मारी, दो की हत्या, बिफरीं BJP MLA ने सुशासन को घेरा

Published

on

पटना में BJP नेता को अपराधियों ने 2 गोली मारी, दो की हत्या, बिफरीं BJP MLA ने सुशासन को घेरा
पटना, देशज न्यूज। अपराधियों ने बुधवार को तीन बड़ी घटनाओं को अंजाम देते हुए दो लोगों की हत्या कर दी। वहीं, एक को जख्मी कर दिया। जख्मी दीपक पासवान भाजपा नेता (bjp) व वार्ड पार्षद हैं। उनकी पत्नी भी दानापुर से ही वार्ड पार्षद हैं। अपराधियों ने दीपक को खगौल थानाक्षेत्र के चाणक्यपुरी में अपना निशाना बनाया। उनको दो गोली मारी गई है।
स्थानीय लोगों ने उनको घटना के बाद आनन-फानन में सगुना मोड़ स्थित एक प्राइवेट नर्सिंग होम में भर्ती कराया, जहां पर उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।  घटना  की सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।
जानकारी के अनुसार, कुछ दिन पहले ही दीपक के भाई की भी अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस की जांच में पता चला था कि वह भी अपराधी था। वर्चस्व की लड़ाई में उसकी हत्या की गई है।
पुलिस को आशंका है, दीपक पर हमले के पीछे भी वर्चस्व की लड़ाई है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। भाजपा  (bjp) विधायक आशा देवी भी मामले की सूचना मिलने पर घटनस्थल पर पहुंची। उन्होंने इस घटना पर सरकार पर हमला करते हुए कहा, बिहार में कानून -व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। सुशासन कहीं भी नहीं दिखता है।
इससे पहले बुधवार की सुबह- सुबह अपराधियों ने  बाढ़ में पावर ग्रिड के पास एक युवक के सिर में गोली मारकर हत्या कर दी।  बाइक सवार दो अपराधी हत्या  के बाद हवा में फायरिंग करते हुए वहां से फरार हो गए।
मृतक की पहचान पंकज के रुप में हुई है। पंकज  पावर ग्रिड में ही काम करता था। अपराधियों ने हत्या क्यों की इसके कारण  नहीं चल पाया है। इस घटना से आक्रोशित लोग सड़क जाम कर अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। पुलिस के हस्तक्षेप पर परिजनों ने  सड़क से शव हटाया।
तीसरी घटना शेखपुरा की है। कारे गांव के  उमेश महतो की अपराधियों ने  बुधवार को चाकू मारकर हत्या कर दी । उमेश महतो का  अरियरी थाना क्षेत्र के लच्छना गांव से शव मिला है। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है।
Continue Reading

Patna

यह मुसीबत अभी रुकने वाली नहीं…बुधवार को बिहार में वज्रपात से फिर 12 की मौत

Published

on

यह मुसीबत अभी रुकने वाली नहीं...बुधवार को बिहार में वज्रपात से फिर 12 की मौत

दस दिनों में 200 से अधिक लोगों ने गंवाई जान

पटना, देशज न्यूज बिहार में कोरोना वायरस के संक्रमण के साथ जगह-जगह  वज्रपात का कहर लगातार जारी है आसमान से रोज मौत बरस रही है 

वज्रपात की चपेट में आने से बुधवार को राज्य में कुल 12 लोगों की (12 die in lightning) मौत हो गई है। जिन 12 लोगों की मौत हुई है, उनमें बेगूसराय में 7, भागलपुरमुंगेरकैमूरजमुई और गया में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

गौरतलब है कि विगत दस दिनों में पूरे बिहार में वज्रपात से 200 से भी अधिक लोगों की जान जा चुकी है। विगत 25 जून को एक दिन में ही कुल 107 लोगों को वज्रपात में जान गंवानी पड़ी थी। यह मुसीबत अभी रुकने वाली नहीं है 

नेपाल से सटे जिलों उत्तर और मध्य बिहार के लिए मौसम विभाग (12 die in lightning) द्वारा चेतावनी जारी की गई है बता दें कि वज्रपात की जानकारियों से लैस एक ऐप भी लांच किया गया है, जिसमें सभी जानकारियां उपलब्ध हैं

 लोगों से अपील भी की गई है कि इस ऐप को डॉउनलोड कर लें (12 die in lightning) ताकि मौसम सम्बन्धी सारी जानकारी मिलती रहे मौसम विभाग की चेतावनी के बाद आपदा प्रबंधन विभाग ने भी (12 die in lightning) बारिश के वक्त लोगों को घरों से न निकलने की अपील की है

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.