Connect with us

Madhubani

बिस्फी में योगी ने कहा, मोदी ने 370 समाप्त कर प्रत्येक नागरिकों को कश्मीर का अंग बनाया

Published

on

बिस्फी में योगी ने कहा, मोदी ने 370 समाप्त कर प्रत्येक नागरिकों को कश्मीर का अंग बनाया
बिस्फी में योगी ने कहा, मोदी ने 370 समाप्त कर प्रत्येक नागरिकों को कश्मीर का अंग बनाया

बिस्फी, देशज टाइम्स मधुबनी ब्यूरो। स्थानीय प्रखंड क्षेत्र के सोने लाल मुनि लाल प्लस टू उच्च विद्यालय के मैदान में उतर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज एक चुनावी सभा को संबोधित किया। इस चुनावी सभा का आयोजन राजग गठबंधन भाजपा प्रत्याशी हरिभूषण ठाकुर उर्फ बचैल के पक्ष में किया गया था।

सभा को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वे जब भी मिथिला के धरती पर आते हैं तो वह मां जानकी सीता की स्मृति लेकर आते हैं। यह हमारे लिए गौरव की बात है। देश के कोने कोने में जो भी सनातन धर्म को मानने वाले लोग हैं,वे राम और जानकी की पूजा करते हैं। कांग्रेस अपने 55 वर्ष के शासनकाल में हिंदुस्तान की सभ्यता एवं संस्कृति को मिटाने पर तुला था। आप जनता मालिक की कृपा से कांग्रेस खदेड़ दिए गए हैं।  केन्द्र में नरेंद्र भाई मोदी के नेतृत्व में सरकार बनी। जिन्होंने कश्मीर से 370 धारा समाप्त कर प्रत्येक नागरिकों के लिए भी कश्मीर भारत का अंग है,उस बात को स्पष्ट कर दिया।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

कहा, उनके ही नेतृत्व में अयोध्या में श्री राम जानकी मंदिर का निर्माण कार्य प्रारंभ हो चुका है।भाजपा सबका साथ सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास एवं सब के साथ न्याय की राह पर चल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो बोलते हैं वह करते हैं। वे जात धर्म की राजनीति नहीं करते हैं वे विकास की राजनीति करते हैं।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Madhubani

26 को आम हड़ताल, समर्थन में मधुबनी CPI ने मांगी गुलनाज को जिंदा जलाने वालों के लिए सजा

Published

on

26 को आम हड़ताल, समर्थन में मधुबनी CPI ने मांगी गुलनाज को जिंदा जलाने वालों के लिए सजा
26 को आम हड़ताल, समर्थन में मधुबनी CPI ने मांगी गुलनाज को जिंदा जलाने वालों के लिए सजा

मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से मधुबनी में वैशाली जिले की युवती गुलनाज को जिंदा जलाकर मारने की घटना के खिलाफ राज्यव्यापी प्रतिरोध मार्च निकाला गया।

स्पीडी ट्रायल चलाकर दोषियों को सजा दिलाने , पीड़ित परिवार को 25 लाख मुआवजा एवं परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की माँगों के साथ सीपीआई, अखिल भारतीय नौजवान संघ, छात्र संघ के कार्यकर्ताओं ने शहर के विभिन्य मार्गों से गुजर कर प्रतिरोध मार्च थाना चौक पर नुक्कड़ सभा में तब्लील हुआ।

नुक्कड़ सभा को सम्बोधित करते हुए सीपीआई के जिला मंत्री मिथिलेश ने कहा बिहार में कोई भी सुरक्षित नही है । क़ानून के राज्य का सपना दिखलाकर आम लोगो को अपराधियों के हवाले कर दिया गया है । बिहार पुलिस अपराध को रोकने एवं अपराधियों पर नकेल कसने में विफल रही । लचर कानून व्यवस्था से प्रशासनिक भ्रस्टाचार , दलितों-अल्पसंख्यकों एवं महिलाओं पर अत्याचार में लगातार बृद्धि हो रही है।

बिहार में माफिया राज है । कम्युनिस्ट पार्टी अपनी सांगठनिक शक्तियों को मजबूत कर निचले स्तर से जनसमस्याओं को लेकर आंदोलन तेज करेगी । सभा को पार्टी राज्य परिषद सदस्य मनोज मिश्रा ,सूर्यनारायण महतो ,लक्ष्मण चौधरी , राकेश कुमार पांडेय ,जिला कार्यकारिणी सदस्य हृदद्यकान्त झा, मोतीलाल शर्मा ,ट्रेड यूनियन की जिला सचिव सत्यनारायण राय ,नौजवान संघ के जिला सचिव सन्तोष झा , छात्र संघ के जिला सचिव विकाश झा , नंदकुमार झा सहित अन्य भी सम्बोधित किए।

26 नवंबर को केंद्रीय मजदूर यूनियनों के आह्वान पर राष्ट्रव्यापी आम हड़ताल के समर्थन में 12 बजे दिन में सीपीआई जिला कार्यालय से प्रतिरोध मार्च निकाला जाएगा।26 को आम हड़ताल, समर्थन में मधुबनी CPI ने मांगी गुलनाज को जिंदा जलाने वालों के लिए सजा

Continue Reading

Madhubani

किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा

Published

on

किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। सूर्योपासना का महापर्व छठ पूजा शनिवार को प्रात:कालीन अ‌र्घ्य के साथ काफी हर्षोल्लास के बीच संपन्न हो गया। इससे पूर्व व्रतियों द्वारा शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अ‌र्घ्य अर्पण किया गया। छठ पूजा को लेकर छठ घाटों पर भक्तिमय माहौल बना रहा। श्रद्धालु व बच्चों में काफी उत्साह देखा गया। किसी ने अपने व परिजनों के लिए आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य का आशीष मांगा।
छठ घाटों पर केला पेड़ के बीच दूधिया बल्ब व रंग-बिरंगे झालर का मनोरम छटाकिसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
शुक्रवार सांध्य अ‌र्घ्य व शनिवार प्रात:कालीन अ‌र्घ्य भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य दिया गया। शहर के विभिन्न तालाबों पर दंडवत प्रणाम कर छठ अनुष्ठान करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या काफी देखी गई। लोग इन्हें पैर छूकर प्रणाम करते रहे। प्रात:कालीन अ‌र्घ्य के बाद घाट पर व्रतियों द्वारा परिजनों व श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरण किया जाता रहा। लोग व्रतियों के हाथ से प्रसाद पाकर धन्य-धन्य होते रहे। श्रद्धालु व्रतियों के पैर छूकर आशीर्वाद लेते रहे। छठ घाटों की आकर्षक ढंग से सजावट की गई थी। दूधिया  लाइट के बीच छठ घाटों पर ध्वनि विस्तारक यंत्र से छठ पूजा की लोकगीत से माहौल भक्तिमय बना रहा। विभिन्न घाटों पर केला पेड़ के बीच दूधिया बल्ब व रंग-बिरंगे झालर मनोरम छटा के बीच आतिशबाजी के साथ छठ पर्व को लेकर लोगों में भारी उत्साह बना रहा।
भगवान भास्कर की प्रतिमा स्थापित
शहर के गंगासागर, मुरली मनोहर, महादेव मंदिर, महाराजगंज, नगर परिषद तालाब सहित अन्य तालाब घाट पर छठ घाटों पर छठ पूजा समिति द्वारा घाट की आकर्षक सजावट की व्यवस्था के बीच दूध वितरण की व्यवस्था की गई थी। वहीं, शहर के गंगासागर चौक पर सूर्य क्लब के द्वारा भव्य पंडाल में भगवान भास्कर की प्रतिमा स्थापित कर पूजा-अर्चना किया गया। यहां श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद की व्यवस्था भी की गई थी। इस कार्य में क्लब के लक्ष्मी साह, दिलीप साह, वैद्यनाथ साह, विजय कुमार सहित दर्जनों लोग जुटे रहे।किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
छठ घाट पर रही विशेष चौकसी
छठ पूजा को लेकर तालाब घाट पर किसी भी घटनाओं की आशंका के मद्देनजर पुलिस प्रशासन पूरी तरह चौकस रहा। आरक्षी अधीक्षक  डाॅ. सत्य प्रकाश व एसडीओ  ने शहर के गंगासागर तालाब में एसडीआरएफ के बोट के सहारे घाटों का निरीक्षण किया गया। बोट पर एसडीआरएफ सिपाही एसएन पांडेय, धर्मवीर कुमार, मोहन कुमार, बमबम कुमार भी सवार थे। वहीं जगह-जगह पुलिस बल तैनात किए गए थे।किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
Continue Reading

Madhubani

नदी, नहर, तालाब, सरोवरों में अर्ध्य देने की तैयारी पूरी, खरना के साथ छठ गीतों से गूंज रहीं हवाएं

Published

on

नदी, नहर, तालाब, सरोवरों में अर्ध्य देने की तैयारी पूरी, खरना के साथ छठ गीतों से गूंज रहीं हवाएं
नदी, नहर, तालाब, सरोवरों में अर्ध्य देने की तैयारी पूरी, खरना के साथ छठ गीतों से गूंज रहीं हवाएं

मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। जिला मुख्यालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोक आस्था के महान पर्व छठ को लेकर लोगों में गुरूवार को उत्साह चरम पर रहा। सूर्योपासना का चार दिवसीय महान पर्व छठ शनिवार को उदीयमान सूर्य को अर्ध्य देने के साथ सम्पन्न होना है।इलाके में छठ व्यापक स्तर पर मनाया जाता है।

यहां नदी, नहर,तालाब व सरोवरो में अर्ध्य देकर श्रद्धालु सूर्योपासना करते है। बीते वर्षो मे छठ को लेकर घाटो को सजाने-संवारने का काम पूजा समितियो के द्वारा उत्साह से किया जाता था। हलांकि इस बार कोविड19 को लेकर जारी पावंदियों के कारण नही हो पा रहा है। प्रशासनिक स्तर से लोगों से आवासीय परिसर में छठ मनाने की अपील के बाद पूजा समितियों का उत्साह चरम पर है। छठ को लेकर शहर से लेकर गांव तक धूम मचा हुआ है।

बांस के बर्तनों के साथ मिट्टी के समान आदि से हाट बजार भरे हुए है। फल-फूल से लेकर पूजन सामग्रियो तक की दुकाने काफी संख्या में लगा हुआ है। लोगों की आमदरफ्त से बाजार गुलजार है। कोरोना काल मे सीमीत परिवहन व्यवस्था के वावजूझ लोग जैसे-तैसे पर्व मनाने गांव पहुंच रहे है।

पिछले वर्ष की भांति प्रवासियों का आगमन नही हो रहा है। यहां पहुंचने वाले प्रवासियो की शिकायत है कि अपर्याप्त ट्रेन व्यवस्था को लेकर उन्हे आर्थिक नुकसान के साथ अन्य चुनौतियों का सामना करना पर रहा है। व्रतियो की आम शिकायत पूजन सामग्रियो की बढ़ती कीमतों को लेकर है। उनका कहना है कि कोरोना लाॅकडाउन को लेकर एक तो आमदनी पर प्रतिकूल असर पड़ा है।

दूसरा पूजन सामग्रियों की बढ़ती कीमतों ने परेशान कर रखा है। वावजूद इसके पर्व तो मनाना ही है। तथा तमाम चुनौतियों के बावजूद लोग आस्था में डुबकी लगाने को तैयार है। स्मरणीय है कि गुरुवार को खरना का प्रसाद ग्रहण करने के बाद व्रतियो का 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू हो गया है।

 

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: