Connect with us

Madhubani

मधुबनी शहर में 72 घंटे के लिए लाॅकडाउन, 7 जुलाई तक रहेंगी सभी दुकानें बंद, जानिए क्या है छूट

Published

on

मधुबनी शहर में 72 घंटे के लिए लाॅकडाउन, 7 जुलाई तक रहेंगी सभी दुकानें बंद, जानिए क्या है छूट

मधुबनी में फिर 3 दिनों तक लॉकडाउन, शहर में 5, 6 व 7 जूलाई तक दुकानें रहेंगी बंद

मधुबनी, देशज  टाइम्स ब्यूरो। मधुबनी शहर में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ते देख पूरे मधुबनी शहर में 72 घंटों के लिए लाॅकडाउन का आदेश डीएम ने  दिया है। डीएम के आदेश के अनुसार मधुबनी शहर में 5, 6 व 7 जूलाई तक शहर में लाॅकडाउन रहेगा। ऐसा पिछले चौबीस घंटे में चौदह मरीजों के मिलने के बाद किया गया है।

इस दौरान दुकानें बंद रहेंगी। जरूरी कार्य के लिए बिना मास्क लगाए घरों से निकलने वालों को पचास रूपए का जुर्माना देना पड़ेगा। वहीं, दवा व किराना दुकानों को लाॅकडाउन से बाहर रखा गया है।  सभी दुकानें बंद रहेंगी। जरूरी कार्य के लिए बिना मास्क लगाए घरों ने निकलने वालों को पचास रूपये का जुर्माना देना पड़ेगा। वही दवा, व किराना दुकानों को लाॅकडाउन से बाहर रखा गया है।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Madhubani

मधुबनी के खुटौना में पानी बहाने के विवाद में एक की पीट-पीटकर हत्या, दूसरा गंभीर

Published

on

मधुबनी के खुटौना में पानी बहाने के विवाद में एक की पीट-पीटकर हत्या, दूसरा गंभीर

खुटौना, मधुबनी देशज टाइम्स ब्यूरो। लौकहा थाना क्षेत्र के अंधारवन गांव में गुरुवार को पिटाई से एक की मौत हो गई।  दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। madhubani ke khutona me

जानकारी के अनुसार गांव के मो युसुफ एवं अन्य लोगों के यहां का बरसाती पानी बरसों से मदरसे की बगल से होकर बहता था। लेकिन कुछ दिन पहले मदरसा के सेके्रटरी ने उधर से होकर पानी बहाने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद चल रहा था।

 

इसमें मो. यूनुस व मो. इलियास गंभीर तौर पर जख्मी हो गए, जिनका खुटौना पीएचसी में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। परंतु दोनों को मधुबनी रेफर कर दिया गया। जबकि 55 वर्षीय मो. यूनुस ने रास्ते में दम तोड़ दिया। मो. इलियास को पटना रेफर कर दिया गया।madhubani ke khutona me

 

इलियास का कहना है कि घातक हथियारों से लैस लगभग तीन दर्जन लोगों ने उन लोगों के ऊपर हमला कर दिया। मृतक के बेटे मो उस्मान के बयान पर सोलह लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

क्या कहते हैं एसडीपीओ

फुलपरास की एसडीपीओ सुनीता कुमारी ने घटना की पुष्टि की है। एसडीपीओ ने बताया कि परवेज,नसीम, मंजूर व अख्तर को गिरफ्तार पुलिस ने कर लिया है। वहां बाकी अभियुक्तों की गिरफ्तार के लिए छापेमारी की जा रही है। अन्य आरोपीको भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।madhubani ke khutona me

Continue Reading

Madhubani

मधुबनी में घर-घर सेविका लेकर पहुंच रहीं सुधा दूध, 3955 आंगनबाड़ी केंद्रों के लिए 52712 पैकेट

Published

on

मधुबनी में घर-घर सेविका लेकर पहुंच रहीं सुधा दूध, 3955 आंगनबाड़ी केंद्रों के लिए 52712 पैकेट

मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। कोरोना काल में भी बच्चों के बेहतर पोषण पर ध्यान दिया जा रहा है। जिले में आंगनबाड़ी सेविका के माध्यम से सुधा दूध का पाउडर घर-घर जाकर वितरित किया जा रहा है। दूध पाउडर में मौजूद पोषक तत्व बच्चों को कुपोषण मुक्त एवं सेहतमंद बनाने में पूर्व से ही महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रहा है।

जिले में दूध वितरण की शुरुआत करते हुए प्रखंड बाल विकास परियोजना कार्यालय के माध्यम से जिले के सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर बच्चों के लिए सुधा दूध पाउडर उपलब्ध करवाया जा रहा है। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी आईसीडीएस रश्मि वर्मा ने बताया ग्रामीण इलाकों में कुपोषण की दर में कमी लाने के लिए 03 से 06 साल के बच्चों को प्रत्येक बुधवार को 150 ग्राम दूध पिलाने का प्रावधान किया गया है। कॉम्फेड द्वारा सुधा दुग्ध पाउडर की आपूर्ति की जा रही है।मधुबनी में घर-घर सेविका लेकर पहुंच रहीं सुधा दूध, 3955 आंगनबाड़ी केंद्रों के लिए 52712 पैकेट1.46 लाख से ज्यादा बच्चों को मिलेगा लाभ-

जिला कार्यक्रम पदाधिकारी ने बताया वर्तमान में जिले में 3955 आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन किया जा रहा है,जिसमें सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में 1 लाख 46 हजार बच्चों को सुधा दूध का लाभ देने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं जिले को 52712 पैकेट सुधा दूध आवंटित किया गया है।

गृहभ्रमण कर घर-घर दुध वितरित कर रही सेविका-
आईसीडीएस के जिला समन्वयक स्मित प्रतिक सिन्हा ने बताया कोरोना संक्रमण के कारण आंगनवाड़ी केंद्र बंद होने से आंगनबाड़ी सेविका द्वारा घर- घर जाकर सुधा दूध पाउडर का वितरण किया जा रहा है। प्रत्येक बच्चे को 18 ग्राम दूध पाउडर 150 मिलीलीटर शुद्व पेयजल में घोलकर पिलाने का प्रावधान किया गया है। यद्यपि,आंगनबाड़ी केन्द्रों में आने वाले बच्चों को प्रत्येक शुक्रवार को एक अंडा देने की भी व्यवस्था की गयी है। सरकार की इस पहल से कुपोषण पर लगाम लगाने में मदद मिल रही है।madhubani me ghar ghar

सीडीपीओ को दिया जा चुका है प्रशिक्षण-
जिला कार्यक्रम पदाधिकारी रश्मि वर्मा ने बताया सुधा दूध पाउडर उन बच्चों के लिए अधिक लाभप्रद हो रहा है जिन्हें आसानी से घर में दूध उपलब्ध नहीं हो पाता है। सुधा दूध पाउडर बनाने की विधि समझाने एवं लक्षित बच्चों को इसका लाभ पहुँचाने के उद्देश्य से जिले के बाल विकास कार्यक्रम पदाधिकारियों को प्रशिक्षण भी दिया गया है। साथ ही इनके माध्यम से आंगनबाड़ी पर्यवेक्षिकाओं एवं सेविकाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

कोरोना से बचाव की सेविका दे रही जानकारी-
आंगनबाड़ी सेविका द्वारा दूध बांटने के क्रम में कोविड-19 के संक्रमण से बचाव को लेकर भी लोगों को जागरूक करने तथा इससे बचाव के तरीके बताए जा रहे हैं। इससे बचाव के लिए सामाजिक दूरी, मास्क का प्रयोग, हाथों की धुलाई एवं आसपास साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।madhubani me ghar gharमधुबनी में घर-घर सेविका लेकर पहुंच रहीं सुधा दूध, 3955 आंगनबाड़ी केंद्रों के लिए 52712 पैकेट

Continue Reading

Madhubani

मधुबनी में पहले प्रेमी की ग्रामीणों ने की जमकर पिटाई फिर करवा दी नाबालिग से शादी

Published

on

मधुबनी में पहले प्रेमी की ग्रामीणों ने की जमकर पिटाई फिर करवा दी नाबालिग से शादी

मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। हरलाखी थाना क्षेत्र के कान्हरपट्टी गांव में एक प्रेमी युवक की पिटाई कर ग्रामीणों ने नाबालिग प्रेमिका से शादी भी करा दी। युवक पर आधी रात को प्रेमिका से आपत्तिजनक हालत में मिलने का आरोप है।

आरोपी युवक ने बताया, प्रेमिका के बुलाने पर तीन साथियों के साथ सोमवार की रात वह अपने गांव हुर्राही गांव से कान्हरपट्टी गांव में मिलने गया था। जहां ग्रामीणों ने उसे पकड़ कर बंधक बना लिया और जमकर पिटाई कर दी। madhubani me pahley

 

इतना ही नहीं पिटाई के दौरान युवक का सिर फोड़कर गंभीर रूप से घायल भी कर दिया। घायल युवक को अस्पताल भी नहीं जाने दिया गया। वहीं ग्रामीणों ने खुद से घायल युवक के फूटे सिर में टांके भी लगाए। जबकि मंगलवार की सुबह ग्रामीणों ने मुखिया व सरपंच की उपस्थिति में पंचायत बुलाकर घंटों तक दोनों पक्षों के बीच वार्ता के बाद लड़का और लड़की के बीच विवाह कराने का निर्णय लिया।madhubani me pahley

 

भरी पंचायत में स्थानीय मुखिया व सरपंच की उपस्थिति में नाबालिग लड़की की शादी कराने की बात पर सहमति बनी और गांव के ही प्राथमिक विद्यालय हिंदी परिसर में विवाह करा दी गई। विवाहित नाबालिग लड़की को लड़का पक्ष के साथ उसके घर भी विदा कर दिया गया। यह भी बताया जा रहा है कि कुछ स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना हरलाखी थाना में मोबाइल से फोन कर दे दी।

 

इसके बावजूद नाबालिग लड़की की शादी नहीं रुक सकी। थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि इस सबंध में शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं पंचायत के मुखिया रामएकबाल मंडल ने बताया कि ग्रामीणों ने मुझे बुलाया था लेकिन मैं वहां से तुरंत वापस आ गया, बाद में क्या हुआ मुझे पता नहीं है।madhubani me pahley

 

सरपंच ने भी बताया कि दोनों पक्षों के बीच वार्ता कराने मैं गया तो था लेकिन जब वे लोग नहीं मानें तो मैं वहां से वापस आ गया। शादी के समय मैं वहां मौजूद नहीं था। बेनीपट्टी एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच कर कार्रवाई होगी।madhubani me pahley

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.