Connect with us

Bihar

रविवार की रात 12:40 तक पूर्णिमा, क्यों होलिका दहन का शुभ मुहूर्त है शाम 6:37 बजे से 8:56 बजे तक ही, जानिए क्या है मिथिलांचल के विद्वान पंडितों की राय

रविवार की रात 12:40 तक पूर्णिमा, होलिका दहन का शुभ मुहूर्त शाम 6:37 बजे से 8:56 बजे तक, जानिए क्या है मिथिलांचल के विद्वान पंडितों की राय

पटना,28 मार्च। राजधानी पटना समेत पूरे बिहार में रविवार को होलिका दहन का शुभ मुहूर्त रविवार को शाम 6:37 बजे लेकर रात 8:56 बजे तक है। मिथिलांचल के विद्वान आचार्य पंडित जलंधर ओझा ने बताया कि होली के एक दिन पहले होलिका दहन का विधान है। होलिका दहन से पहले विधि-विधान से पूजा-अर्चना की जाती है। उसके बाद निर्धारित मुहूर्त में होलिका में आग लगाई जाती है। उन्होंने बताया कि होलिका दहन का मुहूर्त 28 मार्च रविवार को शाम 6:37 बजे लेकर रात 8:56 बजे तक है। इस दौरान होलिका दहन करना ज्‍यादा शुभ होगा।

उन्होंने बताया कि इस साल होलिका दहन के पहले रविवार को दिन में ही 1:33 बजे भद्रा समाप्त हो जाएगी। पूर्णिमा तिथि रविवार रात में 12:40 बजे तक रहेगी। शास्त्रों के अनुसार भद्रा रहित पूर्णिमा तिथि में होलिका दहन होता है। इस तरह रात्रि 12.40 बजे तक हांलिका दहन किया जा सकता है। राजधानी पटना के राजापुर स्थित सियाबिहारी कुंज ठाकुरबाड़ी के महंत पंडित नागेंद्र दास का कहना है कि रविवार की रात 12:40 तक पूर्णिमा है। होलिका का दहन हमेशा पूर्णिया में ही होना चाहिए। उनका कहना है कि होलिका दहन कई जगहों पर अपनी स्थानीय परंपराओं के आधार पर किया जाता है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply