Connect with us

Darbhanga

तो क्या यह राजद के अंदर की बेचैनी है…या इसे ओमप्रकाश खेड़िया का प्रेशर पॉलिटिक्स माना जाए

Published

on

तो क्या यह राजद के अंदर की बेचैनी है...या इसे ओमप्रकाश खेड़िया का प्रेशर पॉलिटिक्स माना जाए
तो क्या यह राजद के अंदर की बेचैनी है...या इसे ओमप्रकाश खेड़िया का प्रेशर पॉलिटिक्स माना जाए

मनोरंजन, देशज टाइम्स ब्यूरो। दरभंगा शहरी विधानसभा अखाड़ा बन गया है। यहां दो दिग्गज आपस में भिड़ेंगे। एक दिग्गज की टिकट कट गई। अब वहां से उसी कोण से प्रेशर पॉलिटिक्स शुरू है।

यह प्रेशर पॉलिटिक्स चुनाव के वक्त थोड़ा ज्यादा ही मुखर हो जाती है, यह बिहार की रग-रग में है। यहां की मिट्‌टी में रचा-बसा है। यहां जन्म के साथ अगर कोई शिक्षा बच्चों को मिलती है तो वह है तिकड़म, और जो राजनीति करेंगे उनमें तिकड़मबाजी तो कूट-कूट कर भरी ही मिलती है।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

ताजा मामला, सीधे राजद से जुड़ा है। राजद ही नहीं भाजपा-जदयू हर दल दरभंगा के दस विधानसभा सीटों पर कुछेक को छोड़कर उम्मीदवारों को बदल रहे हैं या बदल चुके हैं। मगर, दरभंगा शहरी विधानसभा सीट पर परंपरागत भाजपा के संजय सरावगी हैं तो वहीं, इसबार ओमप्रकाश खेड़िया सामने नहीं हैं। उनके बदले हायाघाट के पुराने विधायक अमरनाथ गामी को राजद ने लालटेन जलाने के लिए उतारा है।तो क्या यह राजद के अंदर की बेचैनी है...या इसे ओमप्रकाश खेड़िया का प्रेशर पॉलिटिक्स माना जाएपिछली दफा खेड़िया बेहद कम अंतरों से हारे थे, लिहाजा उन्हें उम्मीद थी, पार्टी उन्हें इसबार किस्मत के अखाड़े में उतारेगी मगर ऐसा हो ना सका। उन्हें टिकट नहीं मिली, यह सभी जानते हैं। ऐसे में उसी दिन से, खेड़िया ग्रुप का प्रेशर पॉलिटिक्स शुरू हो गया। यह वही खेड़िया हैं और यह वहीं भाजपा के धुरंधर हैं जो नगर निगम चुनाव में बूथ पर ही आपसी प्रेम का बखूबी इजहार कर चुके हैं वह भी सार्वजनिक। उस शोले की कहानी आज भी है मगर जय-वीरू और गब्बर बदल गए हैं। इसबार गब्बर भाजपाई नहीं बल्कि खुद अपने पार्टी के अधिकृत हैं जिन्हें पार्टी ने सिंबल सौंपा है। मगर, सं….जय के वीरू इसबार खुद खेड़िया बनेंगे ऐसा संकेत पहले ही दिन से दिखने लगा है जब वर्तमान विधायक के एक समर्थक के फेसबुक पर समर्थन का टैग दिखा।

तो क्या यह राजद के अंदर की बेचैनी है...या इसे ओमप्रकाश खेड़िया का प्रेशर पॉलिटिक्स माना जाए

अब वह पढ़िए जो आपको पढ़ना जरूरी है, यह रिलीज इसकी एक पंक्ति में ही छुपा है..

दरभंगा के पूर्व महापौर व राजद के वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश खेड़िया को दरभंगा शहरी विधानसभा से टिकट नहीं दिए जाने से राजद के कार्यकर्ता खासे नाराज हैं । रविवार से पूरे दिन राजद नेता ओमप्रकाश खेड़िया के घर पार्टी कार्कर्ताओं के आने का सिलसिला जारी रहा। पार्टी कार्यकर्ताओं ने राजद आलाकमान के इस फैसले के प्रति अपनी नाराजगी दर्ज करते कहा, श्री खेड़िया पिछले पैंतीस वर्षों से राजद के समर्पित कार्यकर्ता रहें हैं।तो क्या यह राजद के अंदर की बेचैनी है...या इसे ओमप्रकाश खेड़िया का प्रेशर पॉलिटिक्स माना जाए

ऐनवक्त पर पार्टी का टिकट बाहर से आकर पार्टी में आनेवाले उम्मीदवार को दिया जाना सामान्य कार्यकर्ताओं के मनोबल को तोड़ने वाला निर्णय हैं । पार्टी कार्यकर्ताओं ने श्री खेड़िया को भरोसा दिलाया,हम सभी आपके सभी निर्णयों के साथ हैं। श्री खेड़िया ने भी पार्टी कार्यकर्ताओं के इस आत्मीय सहानुभुति को आत्मसात करते उनलोगों से कहा, आपलोगों का मेरे प्रति यही स्नेह मेरा असली टिकट है।

शीघ्र ही मैं अपने निर्णय से आपलोगों को अवगत कराउंगा। उन्होंने कहा, मैंने शुरु से ही दरभंगावासियों की सेवा की है और आगे भी करता रहूंगा । श्री खेड़िया से आकर मिलने वालों में नगर अध्यक्ष वरुण महतो ,  नारद जी , १-४७ वार्ड अध्यक्ष ,महासचिव , पंचायत अध्यक्ष व भी राजद के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

ऐसे में सवाल जब देशज टाइम्स ने पूछा…
देशज टाइम्स ने श्री खेड़िया से पूछा क्या आप निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। इस पर श्री खेड़िया ने कोई जवाब नहीं दिया….। ऐसे में, सवाल अनेक हैं। सवाल कई पूछे जाएंगें। मगर…?

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

दरभंगा में वाहन चेकिंग में 01 करोड़ 04 लाख 66 हजार 100 रूपए का जुर्माना,135 पर CCA

Published

on

दरभंगा में वाहन चेकिंग में 01 करोड़ 04 लाख 66 हजार 100 रूपए का जुर्माना,135 पर CCA
दरभंगा में वाहन चेकिंग में 01 करोड़ 04 लाख 66 हजार 100 रूपए का जुर्माना,135 पर CCA

दरभंगा, देशज टाइम्स न्यूज। बिहार विधान सभा आम निर्वाचन, 2020 के अवसर पर विधि-व्यवस्था बनाये रखने, शांतिपूर्ण, निष्पक्ष व भयमुक्त वातावरण में मतदान व मतगणना की प्रक्रिया सम्पन्न कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन की ओर से गैर-कानूनी गतिविधियों में संलिप्त/आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों के विरूद्ध लगातार निरोधात्मक कार्रवाई की जा रही है। एफ.एस.टी. एवं एस.एस.टी. द्वारा क्षेत्र भ्रमण कर लगातार दबिश बनायी जा रही है।

जानकारी के अनुसार, वाहनों की सघनता से जांच कर गैर-कानूनी आवाजाही पर निगरानी रखी जा रही है। वाहनों की जाँच में अबतक 01 करोड़ 04 लाख 66 हजार 100 रुपए जुर्माना की वसूली की गयी है।

वहीं, पुलिस की ओर से 19248.195 लीटर शराब जब्त की गई है। आपराधिक प्रवृत्ति के 105 व्यक्तियों के विरूद्ध गैर जमानती वारंट निर्गत किया गए हैं। वहीं 135 लोगों के विरूद्ध सी.सी.ए. के तहत कार्रवाई की गई है, जिन्हें अपने थाने क्षेत्र से इतर के थाने में रोज हाजिरी लगानी होगी या अन्य थाना क्षेत्र में रहना होगा।

कुल 11 हजार 559 व्यक्तियों से बंध पत्र भरवाया गया है। मतदान तिथि के लिए कुल 235 भेद्द टोले की पहचान हुई है, जहाँ के 1651 व्यक्ति ऐसे चिन्ह्ति किये गए हैं जिसके द्वारा गड़बड़ी फैलायी जाने की आशंका है, उन्हें बॉन्ड डाउन किया गया है। साथ ही थानों द्वारा 1222 शस्त्रों का सत्यापन किया गया एवं 379 शस्त्र जमा करवाये गए हैं।

Continue Reading

SINGHWARA

सिंहवाड़ा-सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में लटकती मिली मुजफ्फरपुर के युवक की लाश

Published

on

सिंहवाड़ा-सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में लटकती मिली मुजफ्फरपुर के युवक की लाश
सिंहवाड़ा-सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में लटकती मिली मुजफ्फरपुर के युवक की लाश

सिंहवाड़ा, देशज न्यूज। स्थानीय थानाक्षेत्र के सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में मुजफ्फरपुर जिले कटरा थानाक्षेत्र के लखनपुर निवासी स्व. योगेन्द्र महतो के पुत्र जगदीश महतो  की लाश पेड़ से लटकी मिली है। इससे पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। शव आम के पेड़ से लटकते देख आसपास के लोगों ने शोर मचाया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पेड़ से उतारकर आगे की कार्रवाई में जुटी। लाश को तत्काल पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेजा है।

जानकारी के अनुसार, जगदीश की पत्नी मायके में रहना चाहती थी। इसको लेकर जगदीश लगातार परेशान रहता था। वहीं, कई बार दोनों में विवाद भी हुआ था। शुक्रवार की सुबह लोगों ने आम के पेड़ से शव को झूलते देखा।

ग्रामीणों ने घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को जानकारी दी। आशंका जताई जा रही है कि गुरुवार की रात युवक ने आत्महत्या कर ली। स्थानीय लोगों के अनुसार युवक पारिवारिक विवाद के कारण मानसिक तनाव में था।

पुलिस के अनुसार जगदीश की शादी चार वर्ष पहले हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही पत्नी ससुराल छोड़कर मायके चली गई। इस कारण से वह तनाव में रहता था। गांव में ही मजदूरी कर जीवन यापन करता था। इस बीच उसके द्वारा आत्महत्या किए जाने की सूचना से लोग आश्चर्य में हैं। थानाध्यक्ष अमित कुमार ने शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया है।

पुलिस परिवार समेत आसपास के लोगों से पूछताछ में जुटी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत के कारण स्पष्ट हो जाएंगे।

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान

Published

on

दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। बिहार विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव के तहत 22 अक्टूबर को दरभंगा जिला में कराए गए मतदान का प्रतिशत   सामने आने के बाद कोरोना के बीच लोगों का उत्साह दिखा।
1.शिक्षक -70.40 प्रतिशत,
2. स्नातक -53.59 प्रतिशत

जानकारी के अनुसार, विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव के अंतर्गत 05 दरभंगा/ स्नातक शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए कराए गए मतदान का प्रतिशत जिला वार प्रतिवेदन। दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान
दरभंगा
1.शिक्षक -70.40 प्रतिशत,
2. स्नातक -53.59 प्रतिशत
समस्तीपुर
1.शिक्षक -74.00 प्रतिशत,
2. स्नातक -55.00प्रतिशत
मधुबनी
1.शिक्षक -69.69 प्रतिशत,
2. स्नातक -52.00 प्रतिशत
बेगुसराय
1.शिक्षक -89.92 प्रतिशत,
2. स्नातक -53.15 प्रतिशत
कुल औसत 05 दरभंगा निर्वाचन क्षेत्रदरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान
1.शिक्षक -75.83प्रतिशत,
2. स्नातक -53.44 प्रतिशत

वहीं, दरभंगा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए मधुबनी में 23, दरभंगा में 32, समस्तीपुर में 24 व बेगूसराय में 20 कुल 99 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। दरभंगा स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में कुल 141 मतदान केंद्र हैं, जिनमें 102 मुख्य मतदान केंद्र व 39 सहायक मतदान केंद्र शामिल हैं।

मधुबनी में 24 मुख्य मतदान केंद्र व 8 सहायक मतदान केंद्र, दरभंगा में 34 मुख्य मदान केंद्र व 10 सहायक मतदान केंद्र, समस्तीपुर में 24 मुख्य मतदान केंद्र व 9 सहायक मतदान केंद्र व बेगूसराय में 20 मुख्य मतदान केंद्र व 12 सहायक मतदान केंद्र हैं।दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: