Connect with us

Darbhanga

दरभंगा एयरपोर्ट पर बनाए जा रहे मखाना व्यंजन व मिथिला पेटिंग के लिए स्टॉल

Published

on

Stalls for Makhana dishes and Mithila Petting being made at Darbhanga Airport

डी.एम.ने की केवटी में नल जल योजना की समीक्षा
दरभंगा एयरपोर्ट पर मिथिला पेटिंग व मखाना व्यंजन स्टॉल स्थल का किया निरीक्षण
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, केवटी में कोविड-19 टीकाकरण की तैयारी का लिया जायजा

दरभंगा,  देशज टाइम्स ब्यूरो। जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. ने दरभंगा एयरपोर्ट का निरीक्षण किया। इस दौरान मखाना व्यंजन एवं मिथिला पेटिंग के लिए एयरपोर्ट पर बनाए जा रहे स्टॉल का भी उन्होंने निरीक्षण किया।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

इस दौरान उन्होंने निर्माण एजेंसी को कई निर्देश दिए। केवटी के प्रखंड कार्यालय सभाकक्ष में केवटी प्रखंड में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के अन्तर्गत क्रियान्वित महत्वकांक्षी नल-जल योजना की समीक्षा जिलाधिकारी ने की।

समीक्षा के दौरान पाया गया कि केवटी के तीन वार्डों में कार्य की प्रगति काफी धीमी है। बैठक में बताया गया कि छाछा पचाढ़ी पंचायत के मुखिया पति की ओर से (Stalls for Makhana dishes and Mithila Petting being made at Darbhanga Airport)  लगातार नल-जल योजना कार्य में व्यवधान उपस्थापित किया जा रहा है तथा वहाँ की महिला तकनीकी सहायक के साथ उन्होंने अभद्र व्यवहार भी किया है।

जिलाधिकारी डॉ. एसएम  ने केवटी के बीडीओको संबंधित मुखिया पति के विरूद्ध सरकारी कार्य में व्यवधान उत्पन्न करने एवं महिला सरकारी कर्मी के विरूद्ध अभद्र व्यवहार करने के लिए उसके विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने कोविड-19 से बचाव के लिए पहले चरण के टीकाकरण की तैयारी का जायजा लेने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, केवटी पहुंचे। गौरतलब है कि प्रथम चरण के टीकाकरण के लिए सामुदायिक (Stalls for Makhana dishes and Mithila Petting being made at Darbhanga Airport) स्वास्थ्य केन्द्र, केवटी को भी टीकाकरण केन्द्र बनाया गया है।

उन्होंने वहां उपस्थित प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से टीका रखने एवं टीकाकरण के लिए की गई व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली तथा भ्रमण कर प्रत्येक कमरे का अवलोकन किया। उन्होंने वहाँ संस्थागत (Stalls for Makhana dishes and Mithila Petting being made at Darbhanga Airport) प्रसव कराने आई महिलाओं से अस्पताल की व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली व वहां उपस्थित चिकित्सा पदाधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश दिये।

भ्रमण के दौरान उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानियाँ, भूमि सुधार उप समाहर्त्ता सदर मो. सादुल हसन, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, केवटी एवं संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

मधुबनी जेएन कॉलेेज के पूर्व प्रोफेसर, दरभंगा मनीगाछी निवासी पत्रकार डॉ.योगानंद झा का निधन

Published

on

Former journalist of Madhubani JN College, Darbhanga Manigachi resident journalist Dr.Yoganand Jha passed away

मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो । जेएन कॉलेज मधुबनी के विभागाध्यक्ष राजनीति विज्ञान के सेवानिवृत प्रोफेसर 78 वर्षीय डॉ. योगानन्द झा का रविवार को मधुबनी निवास पर निधन दिल का दौड़ा पड़ने से हो गया।

प्रो योगानंद सिंह झा दरभंगा जिला के मनीगाछी थाना क्षेत्र के ग्राम चनोर ड्योरही निवासी स्व. वेदानंद सिंह झा के सुपुत्र थे। प्रो योगानंद सिंह झा का प्रारंभिक शिक्षा ग्रामीण परिवेश में बलौर उच्च विद्यालय (Former journalist of Madhubani JN College, Darbhanga Manigachi resident journalist Dr.Yoganand Jha passed away) से हुआ।

मैट्रिक प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करने के बाद वर्ष 1960 में उनका नामांकन पटना कॉलेज पटना में कला संकाय में हुआ। वर्ष 1966 में पटना कॉलेज से राजनीति विज्ञान विभाग में स्नातकोत्तर परीक्षा उत्तीर्ण किया। उन्होने वर्ष 1967 में महिला कॉलेज कटिहार से नौकरी का शुरूआत की। वर्ष 1969 में डा झा जेएन कॉलेज मधुबनी में राजनीति विज्ञान विभागाध्यक्ष पद पर योगदान दिया।

वहीं से वर्ष 2006 में सेवानिवृत्त हुए। अपने कार्यकाल के दौरान श्री झा ने मिथिला विश्वविद्यालय से रिपब्लिक इन एंसीएन्ट इंडिया पर शोध कार्य किया। तथा पीएचडी की उपाधि हासिल किया। छात्र (Former journalist of Madhubani JN College, Darbhanga Manigachi resident journalist Dr.Yoganand Jha passed away) जीवन से ही डॉक्टर झा को नाट्य विधा में नाट्य लेखन एवं नाट्य मंचन का शौख रहा था। वे एक अच्छे नाट्य मंच के कलाकार भी रहे हैं।

पटना यूनिवर्सिटी एवं मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा उन्हें नाट्य मंचन में स्वर्ण पदक दिया गया था। डॉक्टर योगानंद सिंह झा का साहित्यिक नाम योगानंद सुधीर है। अपने विषय राजनीति विज्ञान के साथ-साथ हिंदी मैथली एवं अंग्रेजी भाषा पर उनकी पकड़ हमेशा बनी रही। वर्ष 2005 में उन्होंने ग्रीक दार्शनिक प्लेटो की पुस्तक (Former journalist of Madhubani JN College, Darbhanga Manigachi resident journalist Dr.Yoganand Jha passed away) रिपब्लिक का हिंदी में गणराज्य के नाम से अनुवाद किया। दिल्ली से शिप्रा पब्लिकेशन ने इसका प्रकाशन किया है।

वर्ष 2009 में सरसों पाही की साहित्यिक संस्था ने डॉक्टर झा द्वारा महाकवि विद्यापति द्वारा रचित पुरुष परीक्षा पुस्तक का नाट्य रूपांतरण पुस्तक कगया था। बंगाल के प्रसिद्ध साहित्यकार बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय द्वारा लिखी गई विश्व प्रसिद्ध पुस्तक आनंद मठ का मैथिली भाषा में अनुवाद किया। प्रसिद्ध पुस्तक आनंद मठ का मैथिली में अनुवाद किया। इसका प्रकाशन कला प्रकाशन वाराणसी की ओर सेे 2011 में हुआ। साथ ही 33 वर्षो तक इंडियन नेशन आर्यावर्त (Former journalist of Madhubani JN College, Darbhanga Manigachi resident journalist Dr.Yoganand Jha passed away) के वरिष्ट पत्रकार भी रहे। स्व.प्रो योगानंद सिंह झा अपनी पत्नी,दो पुत्र एवं एक पुत्री सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं।

बड़े पुत्र शरत कुमार सिंह झा पीडीकेजे कॉलेज अंधराठाढ़ी एवं द्वितीय पुत्र पत्रकार कार्तिक कुमार शामिल हैं। इधर निधन पर शोक व्यक्त करने वालों में पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा शकिल अहमद,देवेन्द्र प्रसाद यादव,सांसद अषोक यादव,विधायक समीर कुमार महासेठ,पूर्व विधायक डा फैयाल अहमद,पूर्व विधायक भावना झा,जेपी (Former journalist of Madhubani JN College, Darbhanga Manigachi resident journalist Dr.Yoganand Jha passed away)  सेनानी हनुमान प्रसाद राउत, मनोज पूर्वे,पत्रकार रामानन्द सिंह,लंबोदर झा,अमरनाथ आनन्द,महिर झा, शैलेन्द्र कुमार,हेमंत कुमार सिंह, आकिल हुसैन,रमन कुमार, फिरोज आलम, मो. नेहाल, मो. नदीम, अशोक कुमार, अजयधारी सिंह, कुमार गौरव,उदय झा, एखलाक सिद्दीकी,राम शरण साह,राजू प्रसाद,अभय झा सोनू,कल्याण कुमार आदि शामिल हैं।

Continue Reading

Darbhanga

Darbhanga City : संस्कृत विवि के सीनेट में 3.28 अरब के घाटे का बजट पारित

Published

on

Darbhanga City: Sanskrit University Senate passes budget of 3.28 billion deficit

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। संस्कृत विश्वविद्यालय में रविवार को आयोजित 44वीं सीनेट की बैठक में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए तीन अरब 27 करोड़ 17 लाख 62 हजार 822 रुपये के घाटे के वार्षिक बजट को अनुमोदित कर दिया गया।बजट में कुल प्रस्तावित खर्चे का अनुमान तीन अरब 29 करोड़ दो लाख 57 हजार 322 दर्शाया गया है।

जानकारी देते हुए पीआरओ निशिकांत ने बताया कि (Darbhanga City: Sanskrit University Senate passes budget of 3.28 billion deficit) बजट अधिकारी डॉ0 नवीन कुमार झा के अनुसार विश्वविद्यालय अनुमानित आय महज एक करोड़ 84 लाख94 हजार पांच सौ ही है।

इसमें स्ववित्त पोषित संस्थान एवम आंतरिक श्रोतों से होने वाली आय भी शामिल है। प्रशासनिक खर्चे में कमी , सरकारी अनुदान की प्राप्ति तथा आंतरिक श्रोतों में बृद्धि करके इसकी पूर्ति करने का प्रयास किया जायेगा।वहीं, बजट में वेतन मद में कुल 86 करोड़ 21 लाख 79 हजार चार रुपये खर्चे का अनुमान है जिसमें शिक्षक कोटि के लिए 66 करोड़ नौ लाख 58 हजार 867 रुपये तथा शिक्षकेतर कोटि में 20 करोड़ 12 लाख 20 हजार 137 रुपये शामिल है।

कुल सेवांत लाभ देने में 61 करोड़ 36 लाख 72 हजार 328 रुपये के खर्चे का अनुमान लगाया है। इसी तरह वेतन व पेंशन के बकाये मद में एक अरब 51 करोड़ 84 लाख 47 हजार 14रुपये दिखाया गया है।इस तरह गैर योजना मद में कुल तीन अरब सात करोड़ 55 लाख 21 हजार 246 रुपये खर्च होने का अनुमान है।अब घाटे की क्षति पूर्ति के लिए (Darbhanga City: Sanskrit University Senate passes budget of 3.28 billion deficit)अनुमोदित बजट को राज्य सरकार के समक्ष भेजा जाएगा।

 

 

Continue Reading

Darbhanga

वैशाली के युवा वकील शिव रंजन झा की हत्या से उबला दरभंगा न्यायालय, अधिवक्ताओं में आक्रोश

Published

on

vaishali ke

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। हाजीपुर व्यवहार न्यायालयउर्फ पप्पू झा की निर्मम हत्या से आहत दरभंगा के वकीलों ने शोक सभा आयोजित कर श्रद्धांजलि अर्पित किया। शनिवार को बार एसोसिएशन भवन में अधिवक्ता राजीव रंजन ठाकुर उर्फ बालाजी की अध्यक्षता में आयोजित शोक सभा में वकीलों ने स्वर्गीय शिव रंजन झा उर्फ पप्पू झा के फोटो पर पुष्पांजलि अर्पित किया।

अधिवक्ता श्री ठाकुर ने कहा कि आये दिन बिहार में अधिवक्ताओं की हत्या अपराधियों द्वारा सरेआम की जा रही है। बिहार में अपराधी बेलगाम है। न्याय दिलाने वाले अधिवक्ताओं को हत्या का शिकार होना पड़ रहा है। बिहार सरकार और संघ सरकार यथाशीघ्र अधिवक्ताओं की सुरक्षा के लिए अधिवक्ता सुरक्षा कानून बनाये। वहीं वैशाली के मृत अधिवक्ता शिव रंजन झा व पूजा के परिजन को 50,00000(पचास लाख) और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी प्रांतीय सरकार की ओर से दी जाए।

अधिवक्ता के परिवार को इस मानव निर्मित विपदा की घड़ी में ईश्वर सहने की शक्ति प्रदान करें। श्रद्धांजलि के मौके पर हीरानंद मिश्र, माया शंकर चौधरी, मनोज कुमार, कुमार उत्तम, शिव शंकर झा, मुरारी लाल केवट, रमणजी चौधरी, संतोष कुमार सिन्हा, नीरज कुमार ठाकुर, सुनील कुमार दास, प्रमोद कुमार ठाकुर, नवीन्द्रु कुमार मिश्र ने पुष्पांजलि कर श्रद्धा सुमन निवेदित किया। वही दरभंगा बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं ने एक स्वर से मांग किया कि मृतक अधिवक्ता के हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार किया जाए अन्यथा दरभंगा के वकील आंदोलन करने हेतु बाद होंगे।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: