Connect with us

SINGHWARA

आइएएस, डॉक्टर, इंजीनियर का सपना लिए परचम लहरा रहे सिंहवाड़ा के नौनिहाल

Published

on

आइएएस, डॉक्टर, इंजीनियर का सपना लिए परचम लहरा रहे सिंहवाड़ा के नौनिहाल

आइएएस, डॉक्टर, इंजीनियर का सपना लिए परचम लहरा रहे सिंहवाड़ा के नौनिहाल सिंहवाड़ा,देशज टाइम्स ब्यूरो। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से आयोजित मैट्रिक परीक्षा के परिणाम आने के साथ एक बार फिर प्रखंड क्षेत्र के छात्रों ने बेहतर परिणाम लाकर परचम लहराया है।

क्षेत्र के भपुरा निवासी स्व. आसिम उर्फ भोला व स्व. शकीला खातून के छोटे पुत्र अतीकुल्लाह ने 415 अंक लाकर परिवार का नाम रौशन किया है। अतीकुल्लाह के माता पिता का देहांत हो चुका है, उसकी परवरिश सौतेली मां रजिया खातून कर रही हैं। वह आईपीएस ऑफिसर बनना चाहता है। उसके आगे की पढ़ाई की जिम्मेदारी सेव लाइव फाउंडेशन ने लेने का एलान किया है।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

वहीं, उसी गांव के नंदलाल कुमार ने 405 अंक व मो. मोअज्जम ने 337 अंक प्राप्त कर गांव का नाम रौशन किया है।  हयातपुर निवासी मो. अमजद व गृहणी तबस्सुम परवीन के पुत्र ऐनान ने 420 अंक लाए हैं।

भगवतीपुर के अशरफ अली व नासरा प्रवीण की पुत्री कहकेशां तरन्नुम ने 382 अंक लाकर माता-पिता का नाम रौशन किया है। राजो सनहपुर के अनवर अली की पुत्री सुमैया नाज ने 399 अंक लाकर गांव का नाम रौशन किया है।

आइएएस, डॉक्टर, इंजीनियर का सपना लिए परचम लहरा रहे सिंहवाड़ा के नौनिहालभरवाड़ा के शंभु साह व गुड़िया देवी की पुत्री वर्षा कुमारी को 403 अंक प्राप्त हुए हैं। वह इंजीनियर बनकर देश की सेवा करना चाहती है। वहीं सम्राट अशोक जनकल्याण समूह भारत के संस्थापक संजय कुमार कुशवाहा ने देशज टाइम्स को बताया कि विश्वनाथ पट्टी गांव के रौशन कुमार ने 441 अंक,नितेश कुमार ने 418 अंक,राहुल कुमार ने 412 अंक लेकर पूरे इलाके का मान बढ़ाया है।

सफल हुआ छात्र छात्राओं का कहना है कि जो व्यक्ति अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित होंगे, सफलता उनकी कदम चूमेगी। इनमें से कइयों ने डॉक्टर, इंजीनियर व आइएएस बनने का सपना संजोया है।आइएएस, डॉक्टर, इंजीनियर का सपना लिए परचम लहरा रहे सिंहवाड़ा के नौनिहाल

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SINGHWARA

सिंहवाड़ा की ज्योति दिखेगी सिल्वर स्क्रीन पर,अगस्त में रिलीज होगी ज्योति की फिल्म आत्मनिर्भर

Published

on

सिंहवाड़ा की ज्योति दिखेगी सिल्वर स्क्रीन पर,अगस्त में रिलीज होगी ज्योति की फिल्म आत्मनिर्भर

सिंहवाड़ा, देशज टाइम्स ब्यूरो। अब सिंहवाड़ा की बेटी फिल्मों में काम करेगी। जी हां, यह बेटी है ज्योति कुमारी। यह वही ज्योति है जो लॉकडाउन में अपने चोटिल पिता मोहन पासवान को हरियाणा के गुरुगाम से साइकिल पर बैठाकर 1200 किमी का सफर तय कर दरभंगा लायी थी। अब यही बेटी कहानी बनकर  सिल्वर स्क्रीन पर दिखेगी।

जानकारी के अनुसार, ज्योति की फिल्म का नाम है आत्मनिर्भर। वी मेक फिल्मंज’ कंपनी के प्रोडक्शन हाउस के तले बन रही इस फिल्म में नायिका का किरदार असल जीवन में नायिका रही ज्योति कुमारी ही निभाएगी। फिल्म अगस्त तक रिलीज हो जाएगी।

ज्योति पर फिल्म शाइन कृष्णा, मिराज, फिरोज व साजिद नांबियार ने मिलकर बना रहे हैं। निर्देशन कृष्णा करेंगे। फिल्म में ज्योति की कहानी में दर्शक देखेंगे आखिर कैसे व किस परिस्थिति में एक पंद्रह साल की किशोरी गर्मी की तपिश को झेलती लॉकडाउन के मौसम में इतनी लंबी दूरी अपने पिता के साथ जद्दोजहद में कैसे तय करती है। फिलहाल फिल्म को लेकर ज्योति के गांव सिरहुल्ली में भी खुशी का माहौल है वहीं सिंहवाड़ा समेत संपूर्ण मिथिलांचल को अपनी बेटी पर नाज है।

 

Continue Reading

SINGHWARA

सिंहवाड़ा में हुई अनोखी शादी, इधर बरात उधर हाकिमों की हां…ना…फिर कैसे बजे शहनाई जानिए

Published

on

सिंहवाड़ा में हुई अनोखी शादी, इधर बरात उधर हाकिमों की हां...ना...फिर कैसे बजे शहनाई जानिए

सिंहवाड़ा, देशज टाइम्स ब्यूरो। ऐसी शादी सिंहवाड़ा ने पहले नहीं देखी। यह अनोखी शादी थी। पहले दुल्हन नाबालिग ठहरी मामला फंसा तो बालिग हो गई और फिर शहनाई बजाई गई। दरअसल हुआ यूं, इसमे प्रशासन को भी हस्तक्षेप करना पड़ा। बाद में प्रशासन से अनुमति के बाद फेरे लगे और शादी के मंगलगीत गूंजे और बारातियों का स्वागत मिठाई के साथ हुई।

जानकारी के अनुसार, सनहपुर गांव में लड़की वाले के घर बारात गई। तब तक बीडीओ सिद्धार्थ कुमार, सिंहवाड़ा थानाध्यक्ष अमित कुमार, मुखिया अमृत कुमार चौरसिया के साथ चाइल्ड लाइन के लोग भी पहुंच गए।


विवाह
के लिए बने पंडाल, भोजन, मड़वा की शोभा देखकर सभी हतप्रभ थे यही सोचा जा रहा था आगे होगा क्या मगर शादी हुई। कैसे यह जानिए। लड़की के बालिग नाबालिक होने के संबंध में जन्म प्रमाण पत्रों की जांच की जाने लगी। पहले जानकारी यह थी, दुल्हन सनहपुर माध्यमिक विद्यालय में नौंवी कक्षा की छात्रा है।

चाइल्ड लाइन की टीम जांच में जुटी रही। बात में सनहपुर हाई स्कूल से लड़की की जन्म तिथि 8 जुलाई 2004 मालूम पड़ने पर मामला दरभंगा प्रशासन के पास पहुंच गया फिर थानाध्यक्ष, बीडीओ सहित कई अधिकारी हरकत में आए। लड़की वाले ने नगर निगम दरभंगा की 18 जून 20 को निर्गत प्रमाण पत्र पेश किया।


इसके
अनुसार लड़की की जन्म तिथि 7 जून 2001 है। दोनों जन्म प्रमाण पत्र में अंतर देख लड़की का आधार कार्ड देखा गया। इसमें भी जन्मतिथि 2001 अंकित है। जांच चल ही रही थी इसी बीच बरात के पहुंचने से मामला गरमा गया। अधिकारियों ने जैसे तैसे लड़की के बालिग होने की बात कहकर शादी की अनुमति दी। फिर शहनाई बजी मंगलगान गाए गए और धूमधाम से शादी हुई। मगर विवाद अभी भी कायम है। मामला आधार कार्ड व अन्य कागजात में छेड़छाड़ में  फंसा है।

Continue Reading

SINGHWARA

मुखिया हो तो ममता चौधरी जैसी,सिंहवाड़ा का रामपुरा बना स्वच्छता में टॉपर,दिल्ली में होंगी पुरस्कृत

Published

on

मुखिया हो तो ममता चौधरी जैसी,सिंहवाड़ा का रामपुरा बना स्वच्छता में टॉपर,दिल्ली में होंगी पुरस्कृत

सिंहवाड़ा, देशज टाइम्स ब्यूरो। सिंहवाड़ा प्रखंड के रामपुरा पंचायत की मुखिया ममता चौधरी ने स्वच्छता का अलख जगा दिया है। उन्होंने गांधी की राह उस सपने का साकार कर दिखाया है जिसे कभी देश की खातिर गांधी ने सपना देखा था। स्वच्छता की ऐसी तस्वीर पूरे दरभंगा जिले में और कहीं नहीं है तभी तो राष्ट्रीय स्तर पर स्वच्छता का पुरस्कार लेने अब  मुखिया ममता चौधरी दिल्ली जाएंगीं, जहां दो अक्टूबर को उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। पूरी रिपोर्ट…देशज टाइम्स पर

पंडित दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तीकरण स्वच्छता को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर रामपुरा पंचायत का चयन किया गया है। इस आश्य की अधिसूचना संबंधी पत्र दिल्ली सरकार के पंचायती राज निदेशालय ने जारी करते राज्य सरकार को भेजी है।

दरभंगा जिला से एकमात्र रामपुरा पंचायत को गौरवान्वित होने का अवसर मिलेगा। इससे पंचायत ही नहीं बल्कि इलाके में हर्ष का माहौल है।यह पुरस्कार स्वच्छता अभियान के जागरूकता व रामपुरा पंचायत को पूर्ण ओडीएफ घोषित होने के बाद डीएम की ओर से सम्मानित होने के उपरांत चयन किया गया है।

दो अक्टूबर यानी गांधी जयंती के अवसर पर मुखिया ममता चौधरी को दिल्ली में प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। पंचायत स्तर पर शुक्रवार को आयोजित सम्मान समारोह में जिला परिषद सदस्य ओमप्रकाश ठाकुर ने राष्ट्रीय स्तर पर पंचायत को पुरस्कार के लिए चयन की प्रसन्नता व्यक्त कर मुखिया ममता चौधरी व पूर्व मुखिया सुधीर चौधरी को मेमोंटो प्रदान कर सम्मानित किया।

राष्ट्रीय स्तर पर चयन की सूचना पर मुखिया महासंघ के प्रखंड अध्यक्ष लालबाबू यादव, विश्वनाथ पासवान उर्फ भोला जी, सुधीर कांत मिश्र, शबाना अमजद, मगफेरत प्रवीण, रमेश भगत, अमृत चौरसिया, पिंकी देवी, राजकुमारी देवी, आरती देवी, लाल पासवान, ममता देवी, महेश महतो, अनीता देवी, सरपंच जनार्दन तिवारी, राजन चौधरी, उपसरपंच मुन्ना चौबे, पंसस गणेश चौबे, मुकेश तिवारी ने हर्ष व्यक्त किया है।सांसद डॉ.अशोक कुमार यादव, विधायक जीवेश कुमार ने केंद्र सरकार को पंचायत की उपलब्धि पर सम्मान देने के लिए साधुवाद दिया है।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.