Connect with us

Darbhanga

सिंहवाड़ा थाना मास्क अभियान में सुस्त, DM ने कहा, होमआइसोलेशन में नहीं होनी चाहिए कोई मौत

Published

on

सिंहवाड़ा थाना मास्क अभियान में सुस्त, DM ने कहा, होमआइसोलेशन में नहीं होनी चाहिए कोई मौत

कोरोना को लेकर डीएम डॉ.त्यागराजन एसएम ने की ऑनलाइन बैठक, प्रतिदिन मास्क अभियान चलाने का दिया निर्देश, पचास वर्ष से ऊपर वाले पर विशेष नजर रखने का निर्देश, घेराव व पथराव करने वालों की करें गिरफ्तारी :एसपी.

दरभंगा, देशज न्यूज। डीएम डॉ. त्यागराजन एस.एम. की अध्यक्षता में कार्यालय प्रकोष्ठ से कोरोना को लेकर ऑनलाइन बैठक हुई। डीएम  ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी,पुलिस उपाधीक्षक, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, बीडीओ, सीओ व थानाध्यक्ष को संबोधित करते कहा, होम आइसोलेशन वाले पचास वर्ष से ऊपर के व्यक्तियों पर विशेष नजर रखी जाए।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

 

उनके यहां प्रतिदिन चिकित्सा कर्मी पीपीई. किट्स में जाकर उन्हें देखते रहें। होम आइसोलेशन वाले एक भी व्यक्ति की मृत्यु नहीं होनी चाहिए। साथ ही उनके निकट संपर्क रहने वाले पर भी विशेष नजर रखी जाए।

 

बाढ़ से घिरे गांव के लिए खासकर कुशेश्वरस्थान पूर्वी व किरतपुर अंचल में वोट एम्बुलेंस की व्यवस्था रखी जाए। अनुमंडल पदाधिकारी, बिरौल को इसे सुनिश्चित कराने का निदेश दिया गया। बैठक में डीपीएम की ओर से बताया गया, कुशेश्वरस्थान पूर्वी में 01 वोट एम्बुलेंस की व्यवस्था की गयी है।

डीएम डॉ.एसएम ने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को विटामिन -सी व मल्टीविटामिन टेबलेट का वितरण सुनिश्चित करवाने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी अनुमंडल पदाधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक, बीडीओ, सीओ व थानाध्यक्ष को लगातार मास्क अभियान चलाते रहने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा, ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता लाने की विशेष आवश्यकता है। इसके लिए प्रतिदिन मास्क अभियान चलाते रहें। उन्होंने कहा, बीडीओ व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी अपने क्षेत्र में खास करके कोरोना वाले क्षेत्र में लगातार माइकिंग कराते रहें, ताकि लोगों में जागरूकता बनी रहें।

 

 

उन्होंने कहा, कई थानों में मास्क अभियान की स्थिति संतोषप्रद नहीं है। इसमें भालपट्टी, हायाघाट, कमतौल, मोरो, केवटी, सिंहवाड़ा, अलीनगर, बिरौल व कुशेश्वरस्थान पूर्वी शामिल हैं। उन्होंने संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी व पुलिस उपाधीक्षक को इन थानों के मास्क अभियान का प्रतिदिन अनुश्रवण करने का निर्देश दिया।

 

उन्होंने कहा, केयर इंडिया ने अपने रिसर्च में बताया गया है, अगले चरण में कोरोना का संक्रमण ग्रामीण क्षेत्रों में होगा और ग्रामीण क्षेत्र में जब संक्रमण होगा, तो बड़े पैमाने पर होगा। इसलिए ग्रामीण क्षेत्र में जागरूकता व मास्क अभियान लगातार चलाने की जरूरत है। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए मास्क और सामाजिक दूरी के अलावा व कोई उपाय नहीं है। बीडीओ जनप्रतिनिधियों का सहयोग लें। पंचायतवार जागरूकता समिति बनाकर ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार जागरूकता अभियान चलाएं।

 

इसके साथ ही कंटेनमेंट जोन पर भी विशेष नजर रखी जाए। कंटेनमेंट जोन का समुचित ढंग से घेराबंदी की जाए। वहां प्रतिबंधित क्षेत्र का बैनर लगाया जाए। होम आइसोलेशन वाले से उनके घर में उपलब्ध कमरों के बारे में निश्चित रूप से जानकारी प्राप्त कर ली जाए। अगर उनके घर में कमरे नहीं हैं तो प्रखंड आइसोलेशन सेंटर में उन्हें रखा जाए।

 

बाढ़ राहत को लेकर कई अंचलों में घेराव व पथराव किया गया। उन्होंने कहा, चुनाव के मद्देनजर राजनैतिक उद्देश्य के लिए लोगों को उकसा कर व गुमराह कर ऐसा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जहां बाढ़ नहीं आई है, वहां के लोगों को भी राजनैतिक उद्देश्य से उकसाकर घेराव एवं पथराव करवाया जा रहा है।

उन्होंने सभी बीडीओ व सीओ ऐसे मामले में तुरंत प्राथमिकी दर्ज कराने एवं दोषी व्यक्ति की गिरफ्तारी कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अगर किसी को अपनी मांग रखनी है, तो उचित तरीके से अपनी माँग रख सकते हैं, लेकिन हंगामा करना, पथराव करना व सड़क जाम करना गैर-कानूनी है।

बैठक में सभी थानाध्यक्ष को संबोधित करते  नगर पुलिस अधीक्षक योगेन्द्र कुमार ने कहा,कि मास्क अभियान के विरूद्ध थानों की ओर से जुर्माना संकलन संतोषजनक नहीं है। पिछले दिनों में इसमें गिरावट आई है। सभी थाने प्रतिदिन कम से कम तीन स्थल पर मास्क अभियान चलाएं।

पुलिस महानिरीक्षक, मिथिला प्रक्षेत्र, दरभंगा की ओर से भी सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को इसके लिए निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा, मास्क अभियान में जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग लिया जाए। सभी थाने के गाड़ियों में माइक लगा हुआ है, उससे मास्क अभियान का प्रचार कराया जाए।

उन्होंने सभी थाना प्रभारी को कहा, अंचलाधिकारियों की ओर से घेराव व पथराव के लिए जिनके विरूद्ध भी प्राथमिकी दर्ज कराई गई है, उनकी गिरफ्तारी की जाए। यदि वे गिरफ्तार नहीं हो रहे हैं, तो कोर्ट से गैर-जमानतीय वारंट प्राप्त किया जाए।singhwara thana masqe

बैठक में सहायक समाहर्त्ता प्रियंका रानी, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी अजय कुमार, सिविल सर्जन डॉ. संजीव कुमार सिन्हा, अनुमंडल पदाधिकारी सदर राकेश कुमार गुप्ता, वरीय उप समाहर्त्ता राहुल कुमार, डीपीएम.(हेल्थ) विशाल कुमार व संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।singhwara thana masqe

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SINGHWARA

सिंहवाड़ा-सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में लटकती मिली मुजफ्फरपुर के युवक की लाश

Published

on

सिंहवाड़ा-सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में लटकती मिली मुजफ्फरपुर के युवक की लाश
सिंहवाड़ा-सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में लटकती मिली मुजफ्फरपुर के युवक की लाश

सिंहवाड़ा, देशज न्यूज। स्थानीय थानाक्षेत्र के सनहपुर मध्य विद्यालय स्थित बुद्धि गाछी में मुजफ्फरपुर जिले कटरा थानाक्षेत्र के लखनपुर निवासी स्व. योगेन्द्र महतो के पुत्र जगदीश महतो  की लाश पेड़ से लटकी मिली है। इससे पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। शव आम के पेड़ से लटकते देख आसपास के लोगों ने शोर मचाया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पेड़ से उतारकर आगे की कार्रवाई में जुटी। लाश को तत्काल पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेजा है।

जानकारी के अनुसार, जगदीश की पत्नी मायके में रहना चाहती थी। इसको लेकर जगदीश लगातार परेशान रहता था। वहीं, कई बार दोनों में विवाद भी हुआ था। शुक्रवार की सुबह लोगों ने आम के पेड़ से शव को झूलते देखा।

ग्रामीणों ने घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को जानकारी दी। आशंका जताई जा रही है कि गुरुवार की रात युवक ने आत्महत्या कर ली। स्थानीय लोगों के अनुसार युवक पारिवारिक विवाद के कारण मानसिक तनाव में था।

पुलिस के अनुसार जगदीश की शादी चार वर्ष पहले हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही पत्नी ससुराल छोड़कर मायके चली गई। इस कारण से वह तनाव में रहता था। गांव में ही मजदूरी कर जीवन यापन करता था। इस बीच उसके द्वारा आत्महत्या किए जाने की सूचना से लोग आश्चर्य में हैं। थानाध्यक्ष अमित कुमार ने शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया है।

पुलिस परिवार समेत आसपास के लोगों से पूछताछ में जुटी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत के कारण स्पष्ट हो जाएंगे।

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान

Published

on

दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। बिहार विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव के तहत 22 अक्टूबर को दरभंगा जिला में कराए गए मतदान का प्रतिशत   सामने आने के बाद कोरोना के बीच लोगों का उत्साह दिखा।
1.शिक्षक -70.40 प्रतिशत,
2. स्नातक -53.59 प्रतिशत

जानकारी के अनुसार, विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव के अंतर्गत 05 दरभंगा/ स्नातक शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए कराए गए मतदान का प्रतिशत जिला वार प्रतिवेदन। दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान
दरभंगा
1.शिक्षक -70.40 प्रतिशत,
2. स्नातक -53.59 प्रतिशत
समस्तीपुर
1.शिक्षक -74.00 प्रतिशत,
2. स्नातक -55.00प्रतिशत
मधुबनी
1.शिक्षक -69.69 प्रतिशत,
2. स्नातक -52.00 प्रतिशत
बेगुसराय
1.शिक्षक -89.92 प्रतिशत,
2. स्नातक -53.15 प्रतिशत
कुल औसत 05 दरभंगा निर्वाचन क्षेत्रदरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान
1.शिक्षक -75.83प्रतिशत,
2. स्नातक -53.44 प्रतिशत

वहीं, दरभंगा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए मधुबनी में 23, दरभंगा में 32, समस्तीपुर में 24 व बेगूसराय में 20 कुल 99 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। दरभंगा स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में कुल 141 मतदान केंद्र हैं, जिनमें 102 मुख्य मतदान केंद्र व 39 सहायक मतदान केंद्र शामिल हैं।

मधुबनी में 24 मुख्य मतदान केंद्र व 8 सहायक मतदान केंद्र, दरभंगा में 34 मुख्य मदान केंद्र व 10 सहायक मतदान केंद्र, समस्तीपुर में 24 मुख्य मतदान केंद्र व 9 सहायक मतदान केंद्र व बेगूसराय में 20 मुख्य मतदान केंद्र व 12 सहायक मतदान केंद्र हैं।दरभंगा शिक्षक 70.40, स्नातक 53.59 फीसद के साथ निष्पक्ष-शांतिपूर्ण मतदान

Continue Reading

Jaley

जाले में मां-बेटी के साथ खेत में दुष्कर्म,पहले बेटी को किया अगवा फिर बचाने गई मां की लूटी इज्जत

Published

on

जाले में मां-बेटी के साथ खेत में दुष्कर्म,पहले बेटी को किया अगवा फिर बचाने गई मां की लूटी इज्जत
जाले में मां-बेटी के साथ खेत में दुष्कर्म,पहले बेटी को किया अगवा फिर बचाने गई मां की लूटी इज्जत

दरभंगा,देशज टाइम्स ब्यूरो। जाले थाना क्षेत्र के एक गांव में मां-बेटी दोनों के साथ दुष्कर्म की वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई है। बेटी को अगवा कर खेत में दुष्कर्म कर रहे लोगों ने वहां बेटी को बचाने पहुंची मां पर चाकू से पहले हमला किया फिर उसे भी हवस का शिकार बना लिया।

घटना के बाद से पूरा इलाका आग बबूला है। क्षेत्र के लोग आक्रोशित हैं। वहीं, दोषियों को जल्द सजा मिले इसकी मांग तेज हो गई है। पुत्री व मां के साथ दुष्कर्म होने की घटना से इलाके हड़कंप है। मामले को लेकर पीडि़ता ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसमें गांव के सरफे आलम, कमरे आलम सहित पांच लोगों को आरोपित किया गया है।

बताया जाता है, गांव के ही कुछ लोग महिला की नाबालिग बेटी को उठाकर ले गए। जब उसे इसकी जानकारी मिली तो उसने पीछा किया। खेत में उसकी बच्ची के साथ आरोपी दुष्कर्म कर रहे थे।

जब मां ने इसका विरोध किया तो आरोपी ने उसे भी पकड़ लिया। उसपर चाकू से हमला कर दिया और बाद में उसके साथ भी दुष्कर्म किया।मां की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे  रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

स्थानीय पुलिस अब इस पूरे मामले को जमीन व सड़क विवाद से जोड़कर तीसरा एंगिल बना रही है। वैसे, प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पुलिस का कहना है, पीड़िता व  आरोपियों के बीच वर्षों से सड़क को लेकर विवाद चल रहा है। इस कारण पुलिस पूरे मामले की सत्यता जानने में जुटी है।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: