Connect with us

Darbhanga

प्रधानमंत्री मोदी का दीवाना, उनके हर कार्यक्रम में चाय की केटली व संपूर्ण शरीर पर भाजपा का झंडा पेंट कर खड़ा रहने वाले संतोष के निधन पर उनके असहाय आश्रितों तक 51 हजार की सहायता राशि लेकर सिरहुल्ली पहुंचे डॉ. रंगनाथ ठाकुर, कहा, भाजपा को ऐसा कार्यकर्ता नसीब नहीं होगा

Published

on

प्रधानमंत्री मोदी का दीवाना, उनके हर कार्यक्रम में चाय की केटली व संपूर्ण शरीर पर भाजपा का झंडा पेंट कर खड़ा रहने वाले संतोष के निधन पर उनके असहाय आश्रितों तक 51 हजार की सहायता राशि लेकर सिरहुल्ली पहुंचे डॉ. रंगनाथ ठाकुर, कहा, भाजपा को ऐसा कार्यकर्ता नसीब नहीं होगा

कमतौल, देशज न्यूज। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के फैन प्रधानमंत्री के सम्पूर्ण कार्यक्रम में अपने हाथ में चाय के केटली लिए बगल के गैलरी में खड़ा रहने वाले अविस्मरणीय, देवदुर्लभ, समर्पित कार्यकर्ता संतोष झा के असामयिक निधन से संपूर्ण भाजपा परिवार मर्माहत है। इधर, कोरोना एक्शन टीम के सदस्य डॉ. रंगनाथ ठाकुर ने सिंहवाड़ा प्रखंड के टेकटार पंचायत के सिरहुल्ली गांव स्थित संतोष झा की पत्नी के मायके में पहुंच कर उनको 51 हजार रुपया नकद राशि देकर आर्थिक मदद पहुंचाई है। मौके पर पीड़ित परिवार के प्रति रंगनाथ ठाकुर ने संवेदना व्यक्त करते कहा कि मर्माहत हूं,अश्रुपूरित भावपूर्ण श्रद्धाजंलि अर्पित करता हूं।
​​​​​​​

डॉ.रंगनाथ ठाकुर ने कहा, ऐसा कार्यकर्ता हमने अबतक नही देखा, जो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम पर अपनी जीवन दान दे दिया। संतोष के निधन से उसकी परिवार सड़क पर आ गया है। पार्टी को चाहिए उसकी बच्ची व पत्नी की मदद को लेकर आगे आए, चूंकि किसी भी पार्टी का कार्यकर्ता ही रीढ़ होता है।

उन्होंने कहा, भाजपा व प्रधानमंत्री का  ऐसा दीवाना  कार्यकर्ता संतोष जो आर्थिक रूप से सबल नहीं थे लेकिन जूनून ऐसा था कि ठंडी हो या गर्मी ,मौसम अनूकूल हो या प्रतिकूल  भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तर भारत हो या सुदूर क्षेत्र जहॉं भी रैली होती थी ,वहॉं स्वयं के ख़र्चे पर पहुंच पीएम के गैलरी के पास खड़े होकर अपने सम्पूर्ण शरीर को पेंट कर एक हाथ में चाय के केटली तो दूसरे हाथ में भाजपा का झंडा लहराते हुए चाय बाले प्रधानमंत्री की पुष्टि करते दिखते थे।

डॉ. ठाकुर ने कहा, दो छोटी-छोटी पुत्री के साथ बिधवा पत्नी अब सड़क पर आ गई है जिसे रहने को सर पर  छत तो दूर अब झोपड़ी भी नसीब नहीं है, जिसे मदद करने को लेकर रविवार को सबसे पहले पहुंचे डॉ. ठाकुर ने बताया कि संतोष ऑटो चलाकर तीस वर्षीय पत्नी नीतू देवी व दो पुत्री दस वर्षीय नीता कुमारी व छह वर्षीय अराध्य कुमारी की भरण-पोषण करते थे। वह मुख्य रूप से समस्तीपुर जिला के खानपुर थाना क्षेत्र केखतुआह गांव के रहने वाले थे। वहां उनको घर नहीं था, दरभंगा में एक किराए के छोटे से घर मे भाड़ा पर रहते थे।उन्होंने बताया, मोदी भक्त संतोष  प्रधानमंत्री के हर कार्यक्रम में परिवार की परवरिश की बिना चिंता किए हुए अपने खर्च पर सम्पूर्ण शरीर को भाजपा के रंग में रंग कर हाथ के एक चाय की केटली व भाजपा की झंडा लिए हुए प्रधानमंत्री की कार्यक्रम में शामिल होकर सुर्खियों बंटोरते रहते थे। यही कारण है कि संतोष की मौत के बाद पत्नी व दो पुत्री आज रोटी कपड़ा और मकान के लिए तरस रही है। इस कारण वह दरभंगा की डेरा, समस्तीपुर की ससुराल छोड़ कर सिरहुल्ली स्थित अपने मायके में पिता के यहां शरणार्थी बनकर जीने को मजबूर है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Benipur

बेनीपुर में मां जगदंबा हॉल्ट नवादा में गाड़ियों के ठहराव की उग्र हुई मांग, आमरण सत्याग्रह शुरू, अब दरभंगा पर होगा हल्ला बोल

Published

on

बेनीपुर में मां जगदंबा हॉल्ट नवादा में गाड़ियों के ठहराव की उग्र हुई मांग, आमरण सत्याग्रह शुरू, अब दरभंगा पर होगा हल्ला बोल

बेनीपुर। मां जगदंबा हॉल्ट नवादा, बेनीपुर के प्रांगण में गाड़ियों के ठहराव के लिए आमरण सत्याग्रह शुरू हो गया है। संघर्ष समिति सदस्यों की ओर से निर्णय किया गया कि 14 फरवरी को निष्पादित समझौता पत्र के शर्तों के अनुरूप रेल प्रशासन की ओर से अभी तक न ही ठहराव की घोषणा की गयी न ही कोई कार्रवाई से अवगत करवाया गया है।

रेल प्रशाशन अपने लिखित आश्वाशन,समझौता का उल्लंघन कर जनहित को बाधित कर रहा है।

Continue Reading

Benipur

बेनीपुर में माघी पूर्णिमा पर त्रिमुहानी संगम, भूतनाथ मंदिर, कमला तट, नार बांध में कमला स्नान के साथ बलि प्रदान और मुंडन का दिनभर चला दौर, संतान सुख की प्राप्ति के लिए दांपत्य गांठ की दिखी मिठास

Published

on

बेनीपुर में माघी पूर्णिमा पर त्रिमुहानी संगम, भूतनाथ मंदिर, कमला तट, नार बांध में कमला स्नान के साथ बलि प्रदान और मुंडन का दिनभर चला दौर, संतान सुख की प्राप्ति के लिए दांपत्य गांठ की दिखी मिठास

बेनीपुर। माघी पूर्णिमा के अवसर पर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न नदियों में स्नान करने को श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। खासकर क्षेत्र के त्रिमुहानी संगम तट, भूतनाथ मंदिर परिसर कमला तट एवं नार बांध में कमला स्नान के साथ साथ लोगों ने मंदिरों में पूजा अर्चना की। साथ  ही दो दिवसीय मेला का भव्य आयोजन किया गया है।

पूर्णिमा के अवसर पर आज सुबह पौ फटने से पूर्व श्रद्धालुओं की कमला में डुबकी लगाने की होड़ लगी रही।

Continue Reading

Bihar

दरभंगा में आइसा की हुंकार-19 लाख रोजगार, मांग रहा है युवा बिहार, 1 मार्च को विधानसभा का घेराव करेगें बेरोजगार छात्र-युवा

Published

on

दरभंगा में आइसा की हुंकार-19 लाख रोजगार, मांग रहा है युवा बिहार, 1 मार्च को विधानसभा का घेराव करेगें बेरोजगार छात्र-युवा

दरभंगा। 19 लाख रोजगार, मांग रहा युवा बिहार, नए बिहार के तीन आधार- शिक्षा स्वास्थ्य रोजगार, बिहार के सभी विवि में कुलपति, कुलसचिव के तरह ही सभी अधिकारी के पदों पर कमीशन से बहाली किया जाए।

जिसमें सुनिश्चित किया जाय कि कार्यरत प्रोफेसर उसमेंना हो। ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दूरस्थ शिक्षा निदेशालय को पुनः मान्यता दिलाने के लिए विधान सभा से प्रस्ताव पारित करा कर यूजीसी को भेजा जाए, तथा उसे बिहार का खुला विवि घोषित किया जाए।

 

Continue Reading

लोकप्रिय

%d bloggers like this: