Connect with us

Darbhanga

सदियों का सपना साकार, मिथिला के रेल इतिहास में नई उपलब्धि,दरभंगा से खुली इलेक्ट्रिक ट्रेन

Published

on

सदियों का सपना साकार, मिथिला के रेल इतिहास में नई उपलब्धि,दरभंगा से खुली इलेक्ट्रिक ट्रेन

दरभंगा,देशज टाइम्स ब्यूरो।  रेलवे के ऐतिहासिक सफर के लगभग डेढ शताब्दी बाद एक जून को आखिरकार वो दिन भी आया, जब मिथिला में इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। इसी कड़ी में सोमवार को पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन दरभंगा से नई दिल्ली के लिए रवाना हुई। गार्ड ने दरभंगा-नई दिल्ली बिहार संपर्क क्रांति स्पेशल ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इलेक्ट्रिक ट्रेन की सौगात पाकर मिथिलांचल के लोगों के खुशियोंं का ठिकाना नहीं है।

मौके पर ट्रेन के लोको पायलट उमा शंकर पोद्दार ने कहा कि दरभंगा से इलेक्ट्रिक ट्रेन का परिचालन शुरू हुआ है। समस्तीपुर-जयनगर रुट का इलेक्ट्रिफिकेशन होने के बाद इस रूट से पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन नई दिल्ली के लिए बिहार संपर्क क्रांति स्पेशल ट्रेन को ले जाते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है।
सदियों का सपना साकार, मिथिला के रेल इतिहास में नई उपलब्धि,दरभंगा से खुली इलेक्ट्रिक ट्रेनसाथ ही इलेक्ट्रिक इंजन लगने से ट्रेन की स्पीड बढ़ने के साथ-साथ गंतव्य तक पहुंचने में भी कम समय लगेगा। जबकि इस इलेक्ट्रिक ट्रेन से यात्रा करने वाले नौशाद आलम कहते हैंं, वे भारत सरकार के साथ-साथ खासकर रेल मंत्री पीयूष गोयल को इसके लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हैं। जिन्होंने मिथिलावासियोंं के वर्षों पुरानी मांग को आज पूरा कर दिखाया है।
साथ ही दरभंगा से चली पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन से यात्रा करने के अनुभूति रोमांचित नौशाद ने कहा कि यह दिन उनके जीवन में हमेशा यादगार रहेगा।
जानकारी के अनुसार, 17 अप्रैल 1874 को दरभंगा में पहली ट्रेन आई थी। वैसे जहाँ तक मिथिला और उत्तर बिहार में रेल लाइन बिछवाने का सवाल है, तो इसका श्रेय दरभंगा राज को जाता है। बताते चलेेंं कि 1874 में ट्रेनों का चलन शुरू होने के बाद मिथिलांचल के रेल इतिहास में दूसरा महत्वपूर्ण पड़ाव तब आया, जब 2 फरवरी 1996 को दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड को मीटर गेज से ब्रॉड गेज में बदल कर ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ।
इसका उद्घाटन तत्कालीन रेल राज्यमंत्री सुरेश कलमाडी ने किया था। फिलहाल इस रेलखंड के दोहरीकरण का काम तेजी से चल रहा है। जिसको अगले कुछ महीनों में पूरा कर लिए जाने की संभावना है।
हालांकि इतने सारे परिक्रमाओं के बाद बिहार और मिथिला में रेलवे के विकास के परिप्रेक्ष्य में पूर्व रेलमंत्री स्व ललित नारायण मिश्र का जिक्र न हो, तो लिखी गई यह ईबारत अधूरी-अधूरी सी ही लगेगी। जिन्होंने मिथिला में रेल के विकास के लिए बड़ा सपना देखा था। लेकिन उनके असामयिक निधन से यह सपना अधूरा रह गया।
अब जब मिथिला के रेल इतिहास में नई उपलब्धियां जुड़ गई हैं, तो लोग उन्हें कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए बरबस ही कहते देखे गए,ललित बाबू का सपना साकार हुआ।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

सीएम कॉलेज में स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की द्वितीय आंतरिक परीक्षा 1 से 14 दिसंबर के बीच

Published

on

सीएम कॉलेज में स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की द्वितीय आंतरिक परीक्षा 1 से 14 दिसंबर के बीच
सीएम कॉलेज में स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की द्वितीय आंतरिक परीक्षा 1 से 14 दिसंबर के बीच

मुख्य बातें
स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की द्वितीय आंतरिक परीक्षा 1 से 14 दिसंबर के बीच, प्रधानाचार्य की अध्यक्षता में सी एम कॉलेज के विभागाध्यक्षों की महत्वपूर्ण बैठक, स्नातकोत्तर की आंतरिक परीक्षा में छात्रों की सहभागिता अनिवार्य- प्रो. विश्वनाथ, कोरोना काल में भी परीक्षा,नामांकन व अन्य कार्यं को संपन्न कराने वालों को प्रधानाचार्य का साधुवाद

दरभंगा, देशज टाइम्स। सीएम कॉलेज (cm college drbhanga) के प्रधानाचार्य प्रो. विश्वनाथ झा की अध्यक्षता में महाविद्यालय के सभी विभागाध्यक्षों की एक महत्वपूर्ण बैठक संपन्न हुई।

इसमें प्रो. इंदिरा झा,प्रो. सैयद एहतेशामुद्दीन, प्रो. गिरीश कुमार,प्रो. दिवाकर कुमार, डॉ. रूपेंद्र झा, प्रो. रागिनी रंजन, डॉ. प्रभात कुमार चौधरी,डॉ. नीरज कुमार,डॉ. मो1 जिया हैदर,डॉ. वासुदेव साह,डॉ. आर एन चौरसिया,डॉ. सुरेश पासवान,प्रो. मंजू राय, प्रो. ललित शर्मा, प्रधान सहायक विपिन कुमार सिंह व लेखापाल सृष्टि चौधरी समेत अन्य उपस्थित थे।सीएम कॉलेज में स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की द्वितीय आंतरिक परीक्षा 1 से 14 दिसंबर के बीचबैठक में सर्वसम्मति से तय हुआ, स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर (सत्र 2019-20)की द्वितीय आंतरिक परीक्षा (2nd CIA) आगामी 1 से 14 दिसंबर के बीच पूर्वाह्न 7:45 से 9:00 बजे के बीच महाविद्यालय में आयोजित की जाएगी।

अंग्रेजी,अर्थशास्त्र,राजनीति विज्ञान, मैथिली,समाजशास्त्र, हिंदी,गणित,उर्दू तथा मनोविज्ञान की परीक्षा 1 से 7 दिसंबर तक होगी,जबकि वाणिज्य एवं इतिहास की परीक्षा 8 से 14 दिसंबर,2020 के बीच आयोजित की जाएगी।विस्तृत विवरण महाविद्यालय के सूचना पट्ट पर उपलब्ध कराया गया है।

(cm college drbhanga) प्रधानाचार्य प्रो. विश्वनाथ झा ने देशज टाइम्स को बताया, इस आंतरिक परीक्षा में छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य है, क्योंकि अनुपस्थित छात्रों की परीक्षा बाद में नहीं ली जाएगी। उन्होंने कोरोना महामारी काल में भी परीक्षा, मूल्यांकन,नामांकन, अन्य कार्य के लिए शिक्षकों व कर्मचारियों को धन्यवाद दिया।सीएम कॉलेज में स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की द्वितीय आंतरिक परीक्षा 1 से 14 दिसंबर के बीच

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा में भ्रष्टाचार रोकने अब निकलेगा उड़नदस्ता, प्रखंड-थाना पर नहीं चलेगी मनमर्जी-लेटलतीफी

Published

on

दरभंगा में भ्रष्टाचार रोकने अब निकलेगा उड़नदस्ता, प्रखंड-थाना पर नहीं चलेगी मनमर्जी-लेटलतीफी
दरभंगा में भ्रष्टाचार रोकने अब निकलेगा उड़नदस्ता, प्रखंड-थाना पर नहीं चलेगा मनमर्जी-लेटलतीफी

मुख्य बातें
मुख्य सचिव ने कोरोना को लेकर की ऑनलाइन मीटिंग, मद्यनिषेध को सरजमीं पर लागू करने के दिए निर्देश, भ्रष्टाचार निवारण के लिए जिला स्तर पर गठित होगा उड़नदस्ता, दाखिल खारिज व आरटीपीएस सेवाओं में लेट-लतीफी करने वालों पर होगी सख़्त कार्रवाई,धान अधिप्राप्ति को लेकर निदेश जारी

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाने, मद्य निषेध कानून को सरजमीं पर सख्ती से लागू करने, भ्रष्टाचार निवारण को जिला स्तर पर निगरानी के लिए उड़नदस्ता का दल गठित करने व प्रखंड,अंचल व थानों में आमजन के काम में लेटलतीफी व धान अधिप्राप्ति को लेकर मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बिहार के सभी कमिश्नर, आईजी, डीआईजी, जिलाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक के साथ ऑनलाइन बैठक की।

बैठक में पुलिस महानिदेशक बिहार श्री एस के सिंघल, अपर मुख्य सचिव, गृह विभागआमिर सुबहानी, प्रधान सचिव, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, विवेक सिंह, प्रधान सचिव, स्वास्थ्य विभाग प्रत्यय अमृत, सचिव, खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण विभाग श्री विनय कुमार, सचिव, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग जितेंद्र श्रीवास्तव शामिल हुए।दरभंगा में भ्रष्टाचार रोकने अब निकलेगा उड़नदस्ता, प्रखंड-थाना पर नहीं चलेगी मनमर्जी-लेटलतीफीबैठक में सचिव, खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने बताया कि धान की अधिप्राप्ति 23 नवंबर से प्रारंभ करना है। सामान्य धान की कीमत 1865 रुपये प्रति क्विंटल (17 प्रतिशत मॉइश्चर से कम रहने) पर की जाएगी। उन्होंने कहा कि सहकारिता विभाग ने 333000 किसानों का निबंधन किया है।

धान की अधिप्राप्ति पैक्स एवं व्यापार मंडल (जो काली सूची में नहीं हो) की ओेर से किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बिहार में 5198 पैक्स एवं 225 व्यापार मंडल कार्यरत हैं। धान की अधिप्राप्ति का लक्ष्य विगत वर्ष की तुलना में डेढ़ गुना अधिक रखा जा रहा है। इसके लिए जिला स्तर पर मिलर को चिन्हित करने की जरूरत है।

सीएमआर कलेक्शन अनुमंडल स्तर पर किया जाएगा। इस वर्ष सभी मिल एवं गोदाम की जीपीएस मैपिंग होगी। जिला स्तर पर निबंधित किसान का सत्यापन जरूरी है। चावल मिल का सत्यापन नवंबर 2020 तक कर लिया जाए एवं सीएमआर सेंटर दिसंबर के अंत तक खुल जाए। सभी जिलाधिकारी को अतिशीघ्र जिला टास्क फोर्स की बैठक करा लेने का निर्देश दिया गया।

सचिव, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग ने नल- जल योजना के अंतर्गत शेष कार्य कराने हेतु सभी जिलाधिकारी से अनुरोध किया।
मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारी को कोविड-19 से सुरक्षा एवं बचाव को लेकर पुनः विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए, खासकर दुकानों एवं वाहनों में मास्क की चेकिंग फिर से प्रारंभ करने का निर्देश दिया। Lप्रधान सचिव, स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी कि आरटीपीसीआर टेस्ट को बढ़ाने की कार्रवाई की जा रही है।

भ्रष्टाचार निवारण को लेकर जिला स्तर पर अपर समाहर्त्ता के नेतृत्व में उड़नदस्ता दल का गठन करने का निर्देश दिया गया तथा निगरानी विभाग एवं जिला स्तरीय निगरानी के दूरभाष नम्बर का प्रचार प्रसार कराने के निर्देश दिए गए।

आरटीपीएस काउंटर के माध्यम से दी जाने वाली सेवाओं में बिचौलियों की दखलंदाजी की समीक्षा की गई, मुख्य सचिव ने कहा कि इस प्रकार की जानकारी मिल रही है कि आरटीपीएस सेवाओं में लेटलतीफी की जा रही है। इसके लिए जिला स्तर से वरीय उप समाहर्ता को नोडल पदाधिकारी बनाने के निर्देश दिए जो प्रत्येक सप्ताह में एक दिन आरटीपीएस काउंटर का निरीक्षण करें।

वहां के लोगों से फीडबैक प्राप्त करें। जहाँ बिचौलियों की जानकारी मिले वहां त्वरित कार्रवाई करें तथा कौन सी सेवा समय पर नहीं दी जा रही है इसकी समीक्षा करें।

उन्होंने कहा कि लोक शिकायत निवारण की सुनवाई के दौरन पदाधिकारी को स्वंय उपस्थित रहना है न कि कनीय पदाधिकारी एवं कर्मियों को, यह सुनिश्चित कराने को कहा गया।

भूमि विवाद निपटारा के लिए प्रत्येक शनिवार को थाना स्तर पर अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारी की बैठक प्रारंभ कराने के निर्देश दिए गए।
शराबबंदी को लेकर की गई समीक्षा में चौकीदार को आसूचना संग्रह करने के लिए कर्तव्य पर लगाने का निर्देश दिया गया। उन्होंने कहा कि यदि मद्यनिषेध में किसी पदाधिकारी की लापरवाही मिलती है तो उसके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी तथा वैसे थाना प्रभारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए गए जिनके क्षेत्र में शराब व्यापार के पुख़्ता सबूत मिलते हैं। उन्होंने सभी वरीय पदाधिकारी को सप्ताह में 3 दिन क्षेत्र भ्रमण कर निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

ऑनलाइन बैठक में एनआईसी, दरभंगा से आयुक्त मयंक बरवड़े, जिलाधिकारीडॉ. त्यागराजन एसएम, वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम, सिविल सर्जन डॉ. संजीव कुमार, डीएमसीएच अधीक्षक डॉ. मणि भूषण शर्मा, उप निदेशक जनसंपर्क नागेंद्र कुमार गुप्ता, डीपीएम विशाल कुमार उपस्थित थे।दरभंगा में भ्रष्टाचार रोकने अब निकलेगा उड़नदस्ता, प्रखंड-थाना पर नहीं चलेगी मनमर्जी-लेटलतीफी

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा पोलो मैदान में दो मंजिला ऑडिटोरियम का निर्माण कार्य जल्द होगा पूरा, DM ने दिए टास्क

Published

on

दरभंगा पोलो मैदान में दो मंजिला ऑडिटोरियम का निर्माण कार्य जल्द होगा पूरा, DM ने दिए टास्क

दरभंगा पोलो मैदान में दो मंजिला ऑडिटोरियम का निर्माण कार्य जल्द होगा पूरा, DM ने दिए टास्कदरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरा। दरभंगा के पोलो मैदान अवस्थित बहुचर्चित व बहुप्रतीक्षित निर्माणाधीन ऑडिटोरियम का निरीक्षण डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने सोमवार को किया।

मौके पर डीएम डॉ.एसएम ने निरीक्षण के दौरान ऑडोटोरियम भवन निर्माण कार्य की बारीकी से अवलोकन करते हुए अतिशीघ्र निर्माण कार्य पूरा करने के निर्देश भवन निर्माण निगम के कार्यपालक अभियंता को दिया।दरभंगा पोलो मैदान में दो मंजिला ऑडिटोरियम का निर्माण कार्य जल्द होगा पूरा, DM ने दिए टास्कजानकारी के अनुसार, 11 करोड़ रुपए की लागत से दो मंजिला ऑडिटोरियम का निर्माण भवन निर्माण निगम की ओर से पोलो मैदान में कराया जा रहा है। इसके भूतल पर 600 दर्शकों की क्षमता वाला एक ऑडिटोरियम तथा 2 दर्शक दीर्घा का निर्माण किया जा रहा है। इसके प्रथम तल पर एक आकर्षक आर्ट गैलरी बनाया जा रहा है।

कार्यपालक अभियंता, भवन निर्माण निगम, दरभंगा ने बताया कि जनवरी, 2021 तक ऑडिटोरियम भवन का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। कार्य बहुत तेजी से चल रहा है।
दरभंगा पोलो मैदान में दो मंजिला ऑडिटोरियम का निर्माण कार्य जल्द होगा पूरा, DM ने दिए टास्क

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: