Connect with us

Darbhanga

पूरे देश में चर्चित दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय पंचांग 2020-21 उतरा बाजार में

Published

on

पूरे देश में चर्चित दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय पंचांग 2020-21 उतरा बाजार में
  • कुलपति ने ऑनलाइन किया विश्वविद्यालय पंचांग का विमोचन
  • शुभ मुहूर्त व तिथि का अब आसानी से होगा निर्धारण
  •  पर्व-त्योहारों के समय को लेकर ऊहापोह हुआ खत्म

    दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय से प्रकाशित पूरे देश में चर्चित विश्वविद्यालय पंचांग 2020-21 का गुरुवार को गूगल मीट एप्प के जरिए कुलपति प्रो. राजेश सिंह ने ऑनलाइन विमोचन किया। (poorey desh me charchit darbahnga)

    इस तरह कोरोना संक्रमण काल के कारण पंचांग प्रकाशन में हो रहे थोड़े विलम्ब से उत्पन्न ऊहापोह खत्म हो गया और वर्षों से विश्वसनीय विश्वविद्यालय पंचांग अब आमजनों के लिए बाजार में बिक्री के लिए सुलभ हो जाएगा।(poorey desh me charchit darbahnga)

ऑनलाइन विमोचन के मौके पर विश्ववविद्यालय के लगभग सभी पदाधिकारी एप्प के माध्यम से जुड़े रहे। कुलपति प्रो. सिंह ने सभी को बधाई देते हुए कहा, विपरीत समय के बावजूद विश्वविद्यालय ने पंचांग का प्रकाशन कर ऐतिहासिक कार्य किया है। पंचांग सामग्री के समायोजन में लगे सभी विद्वानों को भी उन्होंने धन्यवाद दिया। (poorey desh me charchit darbahnga)

डीन प्रो. शिवकांत झा ने विश्वविद्यालय पंचांग की महत्ता एवम सर्वकालिक उपयोगिता पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि सभी तरह के मांगलिक आयोजनों एवम शुभ मुहुर्त की गणना में यह पंचांग सर्वोत्तम है। समय -काल -तिथि की विवरणी व इसके उपयोग को पंचांग में सर्वसुलभ किया गया है। प्रो. झा ने पंचांग प्रकाशन में आ रही प्रशासनिक बाधाओं को हरसंभव दूर करने के लिए कुलपति के प्रति आभार व्यक्त किया।

उपकुलसचिव निशिकांत ने बताया, माह आश्विन के अधिमास यानी मलेमास होने के कारण इस बार पंचांग के कुल 46 पेज रखे गए हैं। इसकी डुप्लीकेसी न हो इसके लिए विश्वविद्यालय का होलोग्राम भी पंचांग के मुख्य पृष्ठ पर चिपकाया गया है। पंचांग प्रकाशन की जिम्मेदारी स्थानीय गुल्लोंबाड़ा के बाला जी ऑफसेट प्रेस को दी गई है। (poorey desh me charchit darbahnga)

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

1978 से विश्वविद्यालय पंचांग का प्रकाशन जारी है। मूलतः मिथिला की संस्कृति व परम्पराओं को आधार मानकर पंचांग में शुभ मुहूर्त व तिथि का निर्धारण किया जाता है। पंचांग की व्यापकता देश-विदेश तक फैली हुई है। इसके विमोचन से पर्व त्योहारों के समय-तिथि को लेकर चल रही उहापोह की स्थिति अब खत्म हो गयी है। (poorey desh me charchit darbahnga)

पूरे देश में चर्चित दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय पंचांग 2020-21 उतरा बाजार में

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

kusheshwarasthan

कुशेश्वरस्थान में सरकारी गेहूं की कालाबाजारी का भंडाफोड़, जविप्र दुकानों की हालत का पर्दाफाश

Published

on

कुशेश्वरस्थान में सरकारी गेहूं की कालाबाजारी का भंडाफोड़, जविप्र दुकानों की हालत का पर्दाफाश

कुशेश्वरस्थान रिपोर्टर, बिरौल आनुमंडल डेस्क, देशज टाइम्स। बीडीओ रत्नेश्वर कुमार ने शुक्रवार की देर शाम कालाबाजारी में बेचने जा रहे एक ट्रैक्टर टॉली पर रखे सरकारी गेहूं को जब्त कर प्रखंड मुख्यालय ले आए। जहां इस मामले की जांच करने का निर्देश उन्होंने एमओ को दिया।

जानकारी के अनुसार हरिनगर पंचायत अन्तर्गत आसो गांव से गेहूं से भरा ट्रैक्टर बिक्री के लिए किसी थौक विक्रेता की दुकान जा रहा था। इसी दौरान गुप्त सूचना मिलने पर बीडीओ श्री कुमार ने पुलिस बल के साथ कटवाराघाट पहुंच कर गेहूं से भरा ट्रैक्टर को पकड़ लिया।kusheshwarasthan me

 

ट्रैक्टर चालक से पूछताछ करने पर उसने बताया कि सभी गेहूं हरिनगर पंचायत के जनवितरण प्रणली के विक्रेता दिनेश्वर सिंह का है। बीडीओ श्री कुमार ने गेहूं सहित ट्रैक्टर को प्रखंड कार्यालय लाकर इसकी सूचना एमओ श्री प्रकाश को दिया। बीडीओ ने बताया कि एमओ के जांचोपरांत आगे की कार्रवाई की जाएगी। तत्काल ट्रेक्टर चालक को हिरासत में रखा गया है। kusheshwarasthan me

Continue Reading

Bihar

दरभंगावासी नहीं देख पाएंगें झंडोत्तोलन मगर नेहरू स्टेडियम में सुबह 9.05 लहरा उठेगा तिरंगा

Published

on

दरभंगावासी नहीं देख पाएंगें झंडोत्तोलन मगर नेहरू स्टेडियम में सुबह 9.05 लहरा उठेगा तिरंगा

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्य समारोह का आयोजन स्थानीय नेहरू स्टेडियम, लहेरियासराय (पोलो मैदान) में होगा। आयुक्त प्रातः 9:05 बजे झंडोत्तोलन करेंगे। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बीएमपी/डीएपी/दंगा प्रशिक्षित बल/जिला साधारण बल/गृह रक्षा वाहिनी व फायर ब्रिगेड का सामूहिक परेड का आयोजन होगा।

जानकारी के अनुसार, इसके बाद  8:35 बजे पूर्वाहन वरीय पुलिस अधीक्षक, 8:40 बजे पूर्वाह्न जिलाधिकारी, 8:45 बजे पूर्वाह्न पुलिस महानिरीक्षक, मिथिला प्रक्षेत्र व 8:50 बजे पूर्वाह्न आयुक्त का आगमन होगा। सभी आगंतुक अतिथियों का परेड समादेशक उचित सम्मान के साथ करेंगे। 9.05 बजे पूर्वाह्न में झंडोत्तोलन किया जाएगा।

सरकार के विशेष सचिव मंत्रिमंडल सचिवालय बिहार पटना ने कोविड-19 के प्रकोप के मद्देनजर स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजन के लिए जारी पत्र के आलोक में इस वर्ष परेड में एनसीसी व स्काउट को शामिल नहीं किया गया है।

साथ ही स्वतंत्रता सेनानियों, वरिष्ठ नागरिकों व दंडाधिकारियों के लिए बनाए जाने वाले दीर्घा को इस बार विलोपित कर दिया गया है। क्योंकि, इस बार आम जनता, विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों व अन्य संस्थानों के छात्र-छात्राओं, महिलाओं एवं आगंतुकों को आमंत्रित नहीं किया गया है।

झंडोत्तोलन के पश्चात राष्ट्रीय गान का आयोजन व बीएमपी/डीएपी/दंगा प्रशिक्षित बल/जिला साधारण बल/गृह रक्षा वाहिनी एवं फायर ब्रिगेड की ओर से परेड किया जाएगा। इसके बाद आयुक्त का अभिभाषण होगा। बीएमपी के एक प्लाटून, डीएपी के एक प्लाटून, दंगा प्रशिक्षित बल के एक प्लाटून, जिला साधारण बल के एक प्लाटून, गृह रक्षा वाहिनी के एक प्लाटून व फायर ब्रिगेड एक प्लाटून की ओर से राष्ट्रीय सलामी दी जाएगी।darbhangabashi nahi

मुख्य समारोह के उपरांत 9:45 बजे पूर्वाह्न आयुक्त कार्यालय में झंडोत्तोलन किया जाएगा। पूर्वाह्न 10:00 बजे पुलिस महानिरीक्षक, मिथिला प्रक्षेत्र कार्यालय में, 10:15 बजे पूर्वाह्न समाहरणालय में, 10:25 बजे पूर्वाह्न वरीय पुलिस अधीक्षक कार्यालय, 10:35 बजे पूर्वाह्न उप विकास आयुक्त कार्यालय, 10:45 बजे पूर्वाह्न अनुमंडल पदाधिकारी कार्यालय सदर, 11:15 बजे पूर्वाह्न जिला परिषद व 11:20 बजे पूर्वाह्न पुलिस लाइन में झंडोत्तोलन किया जाएगा।darbhangabashi nahi

 

Continue Reading

SINGHWARA

सिंहवाड़ा के गुरु, गणित मर्मज्ञ रामकरण के घर पहुंचे मुखिया सुधीर, सौंपे नम आंखों से पत्नी को चेक

Published

on

सिंहवाड़ा के गुरु, गणित मर्मज्ञ रामकरण के घर पहुंचे मुखिया सुधीर, सौंपे नम आंखों से पत्नी को चेक

सिंहवाड़ा के गुरु, गणित मर्मज्ञ रामकरण के घर पहुंचे मुखिया सुधीर, सौंपे नम आंखों से पत्नी को चेकसिंहवाड़ा, देशज टाइ म्स ब्यूरो। वो शिक्षक थे। एक ऐसे शिक्षक जिससे छात्र भय खाते थे। मगर उनके मृदुभाषी स्वर से स्पंदित भी हो उठते थे। वो गणित के सिंहवाड़ा के ऐसे गुरु थे जिनकी भरपाई वर्तमान पीढ़ी के लिए बेहद कठिन।

उनका अचानक से समाज के बीच से जाना काफी दु:खद रहा। कोरोना ने हमसे हमारे समाज से एक ऐसे बुद्धिजीविता से भरपूर गुरु को हमसे छीन लिया जिसकी भरपाई असंभव। देशज टाइम्स उनके प्रति सच्ची श्रद्धाजंलि अर्पित करते उस राहत से अभीभूत है जो लेकर आज शुक्रवार को दक्षिणी पंचायत के मुखिया सुधीर कांत मिश्र उनके परिजनों के पास पहुंचे।singhwara ke guru

जानकारी के अनुसार, सिंहवाड़ा प्रखंड के सिंहवाड़ा दक्षिण पंचायत के रामपुरा ग्राम के रामकरण चौधरी जिनकी हाल ही में कोरोना से मौत हो गई थी उनकी आश्रित पत्नी मीना कुमारी को स्थानीय मुखिया सुधीर कांत मिश्र की पहचान पर मुख्यमंत्री राहत कोष से ₹400000 का चेक हस्तगत कराया गया।singhwara ke guruसिंहवाड़ा के गुरु, गणित मर्मज्ञ रामकरण के घर पहुंचे मुखिया सुधीर, सौंपे नम आंखों से पत्नी को चेक

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.