Connect with us

Darbhanga

PM मोदी ने दरभंगा में कहा, लालू के लाल तेजस्वी से जरा बचके, ये जंगलराज के युवराज हैं

Published

on

PM मोदी ने दरभंगा में कहा, लालू के लाल तेजस्वी से जरा बचके, ये जंगलराज के युवराज हैं
PM मोदी ने दरभंगा में कहा, लालू के लाल तेजस्वी से जरा बचके, ये जंगलराज के युवराज हैं

मनोरंजन ठाकुर, राज मैदान दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो।
———————————————–

पीएम नरेंद्र मोदी राज मैदान में पूरे मूड में दिखे। मंच पर आते ही, अपने अंदाज में लोगों का अभिवादन किया और फिर लालू के युवराज को लालटेन लेकर खोजा कहा,  वो दल जो बिहार के उद्योगों को बंद करने के लिए बदनाम हैं, जिनसे निवेशक कोसों दूर भागते हैं, वो लोग बिहार के लोगों को विकास के वायदे कर रहे हैं।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

प्रधानमंत्री आरजेडी के चुनावी वादे को लेकर खूब बरसे। कहा, सरकारी नौकरी तो छोड़िए, इन लोगों के आने का मतलब है, नौकरी देने वाली प्राइवेट कंपनियां भी बिहार से भाग जाएंगी। इतना ही नहीं, पीएम मोदी ने तेजस्वी यादव को जंगलराज का युवराज करार दिया।

पीएम मोदी ने कहा, वो दल जिन्होंने बिहार को अराजकता दी। कुशासन दिया। वो फिर मौका खोज रहे हैं। जिन्होंने बिहार के नौजवानों को गरीबी व पलायन दिया, सिर्फ अपने परिवार को हजारों करोड़ का मालिक बना दिया, वो फिर मौका चाहते हैं। वो दल जो बिहार के उद्योगों को बंद करने के लिए बदनाम हैं, जिनसे निवेशक कोसों दूर भागते हैं। वो लोग बिहार के लोगों को विकास के वायदे कर रहे हैं। सरकारी नौकरी तो छोड़िए, इन लोगों के आने का मतलब है, नौकरी देने वाली प्राइवेट कंपनियां भी बिहार से भाग जाएंगी।

पीएम मोदी ने कहा, आप कल्पना कर सकते हैं, एक तरफ महामारी हो और साथ ही जंगलराज वाले राज करने आ जाएं तो ये बिहार के लोगों पर दोहरी मार की तरह हो जाएगा। जंगलराज के युवराज से बिहार की जनता पुराने ट्रैक रिकॉर्ड के आधार पर और क्या अपेक्षा कर सकती है।

पीएम मोदी ने यह भी कहा, इस बार बिहार का चुनाव बहुत ही असाधारण परिस्थिति में हो रहा है। कोरोना की वजह से, आज पूरी दुनिया चिंता में है, मुश्किल में है. महामारी के इस कठिन समय में बिहार को स्थिर सरकार बनाए रखने की जरूरत है, विकास को, सुशासन को सर्वोपरि रखने वाली सरकार की जरूरत है।

मोदी ने कहा, अपना काम, अपना कारोबार करने वालों के साथ इन लोगों का जो बर्ताव रहा है, उसे तो बिहार के लोग कभी नहीं भूल सकते। रंगदारी दी तो बचेंगे, नहीं तो किडनैपिंग इंडस्ट्री का कॉपीराइट तो उन लोगों के पास ही है। इसलिए इनसे सावधान रहना है।

कहा, इन दलों की राजनीति झूठ, फरेब और भ्रम पर आधारित है। इन लोगों के पास बिहार के विकास का न ही कोई रोडमैप है और न ही कोई अनुभव। वो दल जिन्होंने बिहार को अराजकता दी, कुशासन दिया वो फिर मौका खोज रहे हैं।जिन्होंने बिहार के नौजवानों को गरीबी और पलायन दिया, सिर्फ अपने परिवार को हजारों करोड़ का मालिक बना दिया, वो फिर मौका चाहते हैं।

पीएम मोदी ने कहा, ये चुनाव आने वाले दशक में, इस सदी में बिहार के भविष्य को तय करेगा। आपका एक वोट ये तय करेगा कि आत्मनिर्भरता का संकल्प लेकर निकले भारत में बिहार की भूमिका क्या होगी? आपका एक वोट तय करेगा कि आत्मनिर्भर बिहार का लक्ष्य कितनी तेज़ी से हम पूरा कर पाएंगे।

पीएम मोदी ने कहा, कोरोना के गंभीर दौर से हम गुजर रहे हैं। ऐसे में ये समय हवा-हवाई बातें करने वालों को नहीं, बल्कि जिनके पास अनुभव है, जो बिहार को एक गहरे अंधेरे से निकालकर यहां लाए हैं। उन्हें दोबारा चुनने का है। आप कल्पना कर सकते हैं, एक तरफ महामारी हो और साथ ही जंगलराज वाले राज करने आ जाएं तो ये बिहार के लोगों पर दोहरी मार की तरह हो जाएगा।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Darbhanga

बोले दरभंगा के वकील-देश को बनाना है प्रभुत्व-संपन्न,समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य

Published

on

बोले दरभंगा के वकील-देश को बनाना है प्रभुत्व-संपन्न,समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य
बोले दरभंगा के वकील-देश को बनाना है प्रभुत्व-संपन्न,समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। भारत को एक संपूर्ण प्रभुत्व-संपन्न, समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य की स्थापना की परिकल्पना साकार करने व जीवन में आत्मसात करने के संकल्प के साथ दरभंगा बार एसोसिएशन भवन में अधिवक्ताओं ने एक स्वर में अधिकार की रक्षा का संकल्प दोहराया।

गुरुवार को अधिवक्ता रमणजी चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित इस संविधान दिवस कार्यक्रम का संचालन जिला विधि प्रकोष्ठ का संयोजक वकील अमरनाथ झा ने किया। कार्यक्रम में शामिल सभी वकीलों ने भारत के संविधान का प्रस्तावना पढ़कर अपने जीवन में आत्मसात करने का संकल्प लिया। समारोह को संबोधित करते  श्री चौधरी ने कहा कि  विश्व के सभी देशों के सामाजिक व्यवस्था का संचालन संविधान के दायरे में किया जाता है।

इसी परिपेक्ष्य में स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात 26 नवंबर 1949 को  भारत का संविधान को अंगीकृत, अधिनियमित और आत्मार्पित किया गया था। संविधान विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत में सबसे बड़ा संविधान  के माध्यम से भारत को एक संपूर्ण प्रभुत्व-संपन्न, समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य की स्थापना की परिकल्पना साकार हुई थी।

संविधान के माध्यम से हमें कुछ मौलिक अधिकार प्राप्त है। वहीं संविधान के 42वें संशोधन अधिनियम,1976 धारा 11 द्वारा संविधान के भाग 4 क के अन्तर्गत अनुच्छेद 51 क में मूल कर्तव्य 10 मूल कर्तव्य  अन्त:स्थापित की गई एवं 86 संबोधन अधिनियम 2002 के तहत 11कर्तव्य जोड़ा गया। हम सभी अपने अधिकारों के साथ-साथ  11 मूल मौलिक कर्तव्यों का भी निर्वहन करें। धन्यवाद ज्ञापन श्री झा ने किया।

आयोजित कार्यक्रम में जितेंद्र नारायण झा, राजीव रंजन ठाकुर, उज्जवल गोस्वामी, संतोष कुमार झा, भवनाथ मिश्रा, संतोष कुमार सिन्हा, चंदा वर्मा, माया शंकर चौधरी, मनोज कुमार, प्रमोद कुमार ठाकुर, मनोज कुमार झा, शशिभूषण प्रसाद सिंह समेत दर्जनों अधिवक्ता मौजूद थे।बोले दरभंगा के वकील-देश को बनाना है प्रभुत्व-संपन्न,समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य

Continue Reading

Darbhanga

केंद्र सरकार की जन-श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ बीमा कर्मियों का प्रदर्शन, नारेबाजी

Published

on

केंद्र सरकार की जन-श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ बीमा कर्मियों का प्रदर्शन, नारेबाजी
केंद्र सरकार की जन-श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ बीमा कर्मियों का प्रदर्शन, नारेबाजी

केंद्र सरकार की जन-श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ बीमा कर्मियों का प्रदर्शन, नारेबाजीदरभंगा, देशज न्यूज। केंद्रीय श्रम संगठनों के आह्वान पर अखिल भारतीय बीमा कर्मचारी संघ के बैनर तले भारतीय जीवन बीमा निगम के सभी तृतीय व चतुर्थ वर्गी कर्मी एक दिवसीय हड़ताल पर रहे। उन्होंने केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों व श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की।

वहीं बीमा कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करते हुए प्रमुख मांगों के समर्थन में प्रस्तावित आईपीऔ को वापस लेने, नई आर्थिक नीतियों को वापस केंद्र सरकार की जन-श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ बीमा कर्मियों का प्रदर्शन, नारेबाजीलेने,पब्लिक सेक्टर के निजीकरण का विरोध, श्रम कानूनों में संशोधन का विरोध, नई पेंशन नीति को वापस कर पुरानी पेंशन नीति को पुन: लागू करने समेत अन्य मांगों के समर्थन में नारे लगाए।

शाखा कार्यालय के समक्ष हड़ताल के दौरान धरने पर बैठे कर्मियों को आधार सचिव संजय कुमार, मनीष कुमार सिंह, शिव कुमार महतो, अरविदं कुमार, संदीप कुमार, अविनाश मिश्रा, उदित कुमार व अन्य नेताओं ने संबोधित किया।केंद्र सरकार की जन-श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ बीमा कर्मियों का प्रदर्शन, नारेबाजी

Continue Reading

Darbhanga

दरभंगा में मिली लखीसराय के युवक की लाश, हत्या की आशंका, बाइक, मोबाइल बरामद

Published

on

दरभंगा में मिली लखीसराय के युवक की लाश, हत्या की आशंका, बाइक, मोबाइल बरामद
दरभंगा में मिली लखीसराय के युवक की लाश, हत्या की आशंका, बाइक, मोबाइल बरामद

दरभंगा, darbhanga देशज टाइम्स ब्यूरो। लखीसराय के युवक मनीष कुमार सिंह की हत्या कर शव को लहेरियासराय इलाके में फेंक दिया गया है। स्थानीय पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी है। मौके से पुलिस ने एक बाइक व मोबाइल बरामद किया है। फिलहाल हत्या व आत्महत्या या फिर हादसे में मौत इसको लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है।

पुलिस कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है। जानकारी के अनुसार,  लहेरियासराय  एकमी के शास्त्रीनगर मोहल्ला में एक युवक की लाश मिली। सड़क किनारे पड़ी इस लाश को देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। लाश मिलने की जानकारी से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। घटना की जानकारी मिलते ही प्रशिक्षु आईएएस विवेक शर्मा स्थल पर पहुंचे।

वहीं, युवक की पहचान लखीसराय के शिवदानी सिंह के पुत्र मनीष कुमार सिंह के रूप में हुई। बताया जाता है, मनीष लखीसराय रैक प्वाइंट से बालू, गिट्‌टी लोड करवाने निकले थे। घटनास्थल से बाइक व सैलफोन बरामद हुआ है। फिलहाल, पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया गया है।

पुलिस ने बताया, मनीष एक परिचित के यहां भी गया था। फिलहाल पुलिस आगे कुछ भी बताने से परहेज कर रही। मामले की जांच चल रही है।मनीष शास्त्री नगर मोहल्ला स्थित एक परिवार से बराबर मिलने जाता था। गुरुवार की सुबह भी उसके वहां जाने की सूचना है। इस स्थिति में उसकी हत्या हुई है अथवा स्वभाविक मौत इसकी जांच की जा रही है। लोग इसे हत्या की घटना से भी जोड़कर देख रहे हैं। हालांकि, मनीष के शरीर पर जख्म के निशान नहीं मिलने से पुलिस परेशान है। बताया गया है कि पुलिस संबंधित परिवार से पूछताछ करने की तैयारी में है। मनीष के स्वजनों को घटना की जानकारी दी गई है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: