Connect with us

Darbhanga

विश्व के सबसे बड़े क्रॉसवर्ड प्रतियोगिता में DARBHANGA PUBLIC SCHOOL शीर्ष 16 टीमों में

Published

on

विश्व के सबसे बड़े क्रॉसवर्ड प्रतियोगिता में DARBHANGA PUBLIC SCHOOL शीर्ष 16 टीमों में

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। रविवार को राष्ट्रीय स्तर की अंतर स्कूल प्रतियोगिता ‘क्रिप्टिक क्रॉसवर्ड’ के फाइनल राउंड का आयोजन किया गया. इस प्रतियोगिता में देश भर के 1500 से भी अधिक स्कूलों ने भाग लिया था. 18 नवंबर से प्रारंभ हुए इस प्रतियोगिता में 5 राउंड के बाद 16 शीर्ष टीमों ने रविवार को हुए फाइनल राउंड में जगह बनाई।

पूरे उत्तर बिहार से दिल्ली मोड़ स्थित दरभंगा पब्लिक स्कूल (DARBHANGA PUBLIC SCHOOL) इकलौता स्कूल था जिसका चुनाव शीर्ष 16 टीम में हुआ था. दरभंगा पब्लिक स्कूल टीम का प्रतिनिधित्व 11वीं की छात्रा दिव्या कारक और 9वीं की छात्रा श्रुति झा ने किया. इससे पहले दरभंगा के सारामोहनपुर स्थित डीएवी पब्लिक स्कूल आखिरी 40 टीमों तक पहुंचने में कामयाब रही थी।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

कॉन्टेस्ट के बारे में बताते हुए दरभंगा पब्लिक स्कूल (DARBHANGA PUBLIC SCHOOL)से श्रुति और दिव्या ने बताया कि इसके प्रश्न सामान्य ज्ञान, अंग्रेजी भाषा के शब्दों पर पकड़, तर्क करने की क्षमता, तेजी से सोचने का हुनर और पहेलियों को सुलझाने के तरीकों को परखते हैं. इस उपलब्धि पर स्कूल के निदेशक विशाल गौरव ने टीम को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह के राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपनी उपस्थिति दर्ज कराना एक गौरव का क्षण है और यह बार-बार हमें यह भरोसा देता है कि दरभंगा की मिट्टी में प्रतिभा की कमी नहीं; जरूरत है तो सिर्फ मौके की।

प्रतियोगिता के बारे में बात करते हुए कॉन्टेस्ट कोऑर्डिनेटर और इंचार्ज अमिताभ रंजन ने बताया कि “सीसीसीसी” नाम से प्रचलित इस प्रतियोगिता में इस बार 110 से अधिक शहरों के स्कूलों ने भाग लिया था. कोविड के कारण इस बार प्रतियोगिता को पूरी तरह ऑनलाइन ही रखा गया था. इस प्रतियोगिता में इस साल प्रथम स्थान पर हैदराबाद की भारतीय विद्या भवन की टीम रही।

दूसरा और तीसरा स्थान क्रमशः डॉन बॉस्को स्कूल (पटना) और मदर्स इंटरनेशनल स्कूल (दिल्ली) ने प्राप्त किया. गौरतलब है कि इस प्रतियोगिता का नाम भारतीय कीर्तिमानो की किताब ‘लिम्का बुक आफ रिकॉर्ड्स’ में पहले से ही दर्ज है जबकि विश्व रिकॉर्ड की किताब ‘गिनीज बुक’ में इसको शामिल किए जाने की प्रबल संभावना है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bihar

दरभंगा के कई हिस्सों में शनिवार को बिजली रहेगी गुल, जानिए क्या है वजह

Published

on

Electricity will remain in many parts of Darbhanga on Saturday, know what is the reason

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। कल यानी शनिार को शहर के कई हिस्सों में बिजली विभाग की ओर से काम किया जाएगा। इस कारण बिजली बाधित रहेगा।

जानकारी के अनुसार, शनिवार को दोपहर 2:00 बजे पूर्वाह्न से 4:30 बजे अपराह्न तक पंडासराय उप शक्ति केंद्र से निकलने वाली 11 केवी जनरल फिडर मे खाजासराय बांध पर एलटी केबल लगाया और चार्ज किया जाएगा। इस कारण Ext DTR की एल टी और एच टी लाइन बाधित रहेगी। सुबह 10 बजे पूर्वाह्न से शाम 4:30 बजे अपराह्न तक बेला शक्ति उप केंद्र से निकलने वाली 11 केवी शिवधरा फिडर में नीम पोखर के पास एलटी केवल लगाने का कार्य होगा जिस कारण कैदराबाद दुर्गा मंदिर के पास 200 kva ext DTR की एलटी लाइन बाधित रहेगी और 11 केवी शिवधरा फिडर 2 घंटे की एचटी लाइन बाधित रहेगी।

सुबह 10 बजे पूर्वाह्न से शाम 4:30 बजे अपराह्न तक दोनार इंडस्ट्रीयल शक्ति उप केंद्र से निकलने वाली 11 केवी इंडस्ट्रीयल फिडर में शांति चौक पर ए भी केवल का काम किया जायेगा। जिस कारण एचटी (जंम्फर खोलकर) लाइन बाधित रहेगी । बाधित होने वाली एरिया- शांति चौक, शांति स्टील, दूर्गा मेंटल इत्यादि। सुबह 10:00 बजे पूर्वाह्न से 4:30 बजे अपराह्न तक बेला इंडस्ट्रीयल उप शक्ति केंद्र से निकलने वाली 11 केवी शिवधारा फिडर मे शुभंकरपुर (विद्यापति चौक) में ए बी केवल का काम किया जाएगा।

इस कारण Ext DTR की एल टी और एच टी लाइन बाधित रहेगी। दोपहर 2बजे पूर्वाह्न से शाम 4:30बजे अपराह्न तक बेला इंडस्ट्रीयल शक्ति उप केंद्र से निकलने वाली 11 केवी कटहलवारी फिडर में परमेश्वर चौक का DTR 100 kva to 200 kva में बदलने का काम किया जायेगा। (एचटी जंम्फर खोलकर ) जिस कारण आगे की एच टी लाइन बाधित रहेगी।

सुबह 11 बजे पूर्वाह्न से दोपहर 2:00 बजे अपराह्न तक बेला इंडस्ट्रीयल शक्ति उप केंद्र से निकलने वाली 11 केवी कटहलवारी फिडर में MLSM college का DTR 100 kva to 200 kva में बदलने का काम किया जाएगा। (एचटी जंम्फर खोलकर ) जिस कारण आगे की एच टी लाइन बाधित रहेगी। सुबह 10:30 बजे पूर्वाह्न से 1:30 बजे अपराह्न तक DMCH उप शक्ति केंद्र से निकलने वाली 11 केवी फिडर नंबर 1 और 3 मे फिडर केवल टर्मिनेशन और जंम्फर जोड़कर चार्ज किया जायेगा जिस कारण एच टी लाइन बाधित रहेगी।
बाधित होने वाली एरिया-DMCH हासपिटल, इंमरजेसी वार्ड, पोस्टमार्टम हाउस इत्यादि।

Continue Reading

Bihar

दरभंगा सर्जन की दिल्ली में कोरोना से मौत,पैतृक गांव मब्बी-बरही भलनी में शनिवार को पहुंचेगा शव

Published

on

Darbhanga surgeon dies in Delhi from Corona, dead body will arrive in ancestral village Mabbi-Barhi Bhalani on Saturday

सिंहवाड़ा, देशज टाइम्स ब्यूरो। दरभंगा के प्रसिद्ध सर्जन डॉ. रेयाज अहमद का दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में शुक्रवार को असमायिक निधन हो गया। वे कोविड न्यूयमोनिया से ग्रसित होकर (Darbhanga surgeon dies in Delhi from Corona, dead body will arrive in ancestral village Mabbi-Barhi Bhalani on Saturday) आईसीयू वेंटीलेटर पर थे।

वर्तमान में मधुबनी जिले के बिस्फी स्वास्थ्य केन्द्र में प्रभारी चिकित्सका पदाधिकारी पद पर कार्यरत थे। शनिवार को पैतृक गांव मब्बी ओपी थाना क्षेत्र बरही भलनी गांव के कब्रिस्तान में सिपुर्दे खाक किया जाएगा।

मौत की खबर से चिकित्सक जगत सहित इलाके में शोक की लहर दौड़ गई है। मरहूम चिकित्सक के पुत्र साबान अहमद ने देशज टाइम्स को बताया है कि दिल्ली से एम्बुलेंस के सहारे पिता (Darbhanga surgeon dies in Delhi from Corona, dead body will arrive in ancestral village Mabbi-Barhi Bhalani on Saturday) का शव गांव लाया जा रहा है।

इधर, असमायिक निधन (Darbhanga surgeon dies in Delhi from Corona, dead body will arrive in ancestral village Mabbi-Barhi Bhalani on Saturday) पर डॉ.एजाज अहमद,डॉ.इफ्तेखार अहमद, मिथिला बीएड काॅलेज के सचिव मो. अंजार अहमद, इंजीनियर उमर राजा, रेयाज अहमद, कमरे आलम, शाहीद रेजा,जदयू नेता एसरारूल हक लाडले, राजीव कुमार ने गहरी संवेदना व्यक्त की है।

यह भी पढ़ें
Madhubani: बिस्फी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सक
पदाधिकारी डॉ. रियाज अहमद का निधन, शोक में डूबी हर आंखें

Continue Reading

Bihar

सहरसा से 12 सौ रुपए में स्कार्पियो किराया कर बिरौल आए थे 3 अपराधी, FIR के बाद तीनों को जेल

Published

on

3 criminals came from Saharsa for 12 hundred rupees by renting Scorpio, after the FIR all three were jailed

बिरौल देशज टाइम्स ब्यूरो। जमालपुर थाना क्षेत्र के कदबारा में बीती शाम अज्ञात व्यक्तियों की ओर से एक नाबालिग लड़की को गलत नीयत  से  अगवा कर भागने के मामले में पुलिस ने (3 criminals came from Saharsa for 12 hundred rupees by renting Scorpio, after the FIR all three were jailed) लड़की की मां कविता देवी के बयान पर विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की है। इस दौरान पुलिस की ओर से पूछताछ के दौरान गिरफ्तार किए गए तीनों व्यक्तियों की पहचान कर ली गई है।

इसमें सहरसा जिला के सिमरी बख्तियारपुर निवासी शिवजी भगत का पुत्र मुकेश कुमार जो स्कॉर्पियो का चालक भी है, इसके अलावे सहरसा जिला के कृष्णा नगर वार्ड संख्या 23 निवासी धनिक (3 criminals came from Saharsa for 12 hundred rupees by renting Scorpio, after the FIR all three were jailed)  लाल भगत का पुत्र मुरारी कुमार तथा सदर थाना निवासी पंकज भगत का पुत्र प्रांजल कुमार के रूप में की गई है।

यह भी पढ़िए
बड़ी खबर अभी-अभी बिरौल के जमालपुर से गैंगरेप की नीयत से नाबालिग को लेकर भाग रहे तीन लड़कों को दरभंगा और सहरसा सीमा पर ग्रामीणों के सहयोग से पुलिस ने दबोचा, लड़की को लेकर भाग रहे स्कॉर्पियो भी बरामद, जानिए देर रात की पूरी रिपोर्ट

सभी आरोपियों को बिरौल स्थित व्यवहार न्यायालय में उपस्थित कर उसे पुलिस संरक्षण में बेनीपुर उपकारा भेज दिया गया है। जबकि पुलिस ने नाबालिक लड़की मोनू कुमारी का 164 का बयान अनुमंडलीय न्यायिक दंडाधिकारी के सम्क्ष कराया गया।

थानाध्यक्ष तारीक अनवर अंसारी ने देशज टाइम्स को बताया कि मोनू अपने चचरी बहन के साथ खेत से साग तोड़ कर घर आ रही थी कि सड़क किनारे स्कॉर्पियो लेकर पूर्व से घात (3 criminals came from Saharsa for 12 hundred rupees by renting Scorpio, after the FIR all three were jailed) लगा तैयार तीनों व्यक्ति ने बच्ची के मुंह पर कपड़ा डाल कर गाड़ी में बैठा कर भागने लगे। चचेरी बहन के चिल्लाने पर लोग वहां पहुंच कर उसका पीछा करना शुरू कर दिया।

संयोग अच्छा था कि स्कॉर्पियो सोहरबा घाट के निकट जाम में फंस गया, अन्यथा बच्ची के साथ कुछ भी हो सकता था। सूत्रों के मुताबिक इस घटना में उपयोग किया गया वाहन को एक घंटे के (3 criminals came from Saharsa for 12 hundred rupees by renting Scorpio, after the FIR all three were jailed)  लिए सहरसा से बिरौल आने जाने के लिए 12 सौ रुपए में किराए पर लिया गया था।घटना में उपयोग किया गया स्कॉर्पियो।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: