Connect with us

Darbhanga

दरभंगा में वाहन चेकिंग, 01 करोड़ 09 लाख 70 हजार 600 का लगा जुर्माना,135 पर CCA

Published

on

दरभंगा में वाहन चेकिंग, 01 करोड़ 09 लाख 70 हजार 600 का लगा जुर्माना,135 पर CCA
दरभंगा में वाहन चेकिंग, 01 करोड़ 09 लाख 70 हजार 600 का लगा जुर्माना,135 पर CCA

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। चुनाव के मौके पर विधि-व्यवस्था बनाये रखने व शांतिपूर्ण, निष्पक्ष, भयमुक्त वातावरण में मतदान व मतगणना की प्रक्रिया सम्पन्न कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन की ओर से गैर-कानूनी गतिविधियों में संलिप्त/आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों के विरूद्ध लगातार निरोधात्मक कार्रवाई की जा रही है। एफएसटी व एसएसटी की ओर से क्षेत्र भ्रमण कर लगातार दबिश बनायी जा रही  है।

वाहनों की सघनता से जांच कर गैर-कानूनी आवाजाही पर निगरानी रखी जा रही है। वाहनों की जांच में अबतक 01 करोड़ 09 लाख 70 हजार 600 रुपये जुर्माना की वसूली की गयी है। वहीं पुलिस के द्वारा 21831.54 लीटर शराब जब्त की गई है।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

आपराधिक प्रवृत्ति के 198 व्यक्तियों के विरूद्ध गैर जमानती वारंट निर्गत किया गए हैं। वहीं 135 लोगों के विरूद्ध सी.सी.ए. के तहत कार्रवाई की गई है, जिन्हें अपने थाने क्षेत्र से इतर के थाने में रोज हाजिरी लगानी होगी या अन्य थाना क्षेत्र में रहना होगा। कुल 12 हजार 222 व्यक्तियों से बंध पत्र भरवाया गया है।

मतदान तिथि के लिए कुल 235 भेद्द टोले की पहचान हुई है, जहां के 1651 व्यक्ति ऐसे चिन्ह्ति किये गए हैं जिसके द्वारा गड़बड़ी फैलायी जाने की आशंका है, उन्हें बॉन्ड डाउन किया गया है। साथ ही थानों द्वारा 1222 शस्त्रों का सत्यापन किया गया एवं 379 शस्त्र जमा करवाये गए हैं। इसके साथ ही 16 आर्म्स एवं 77 कारतूस जप्त किया गया है।

स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं भयमुक्त वातावरण में चुनाव कराने हेतु 61 स्थलों पर नाका स्थापित किया गया है, जहां प्रतिदिन वाहनों की सघन जांच करवाई जा रही है तथा 30 स्टेटिक सर्विलांस टीम कार्यरत हैं।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

कोरोना से बचाने दरभंगा के हर घरों तक जाएंगें डॉक्टर, सैंपल कलेक्शन का मिला टास्क

Published

on

कोरोना से बचाने दरभंगा के हर घरों तक जाएंगें डॉक्टर, सैंपल कलेक्शन का मिला टास्क
कोरोना से बचाने दरभंगा के हर घरों तक जाएंगें डॉक्टर, सैंपल कलेक्शन का मिला टास्क

कोरोना व वंडर कार्यक्रम को लेकर मीटिंग, डीएम डॉ.त्यागराजन एसएम ने चिकित्सकों को दिए कई निर्देश

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो।  जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में कोविड-19 corona एवं वंडर कार्यक्रम को लेकर सिविल सर्जन, डब्ल्यूएचओ के जिला प्रतिनिधि, स्वास्थ्य विभाग के जिला स्तरीय पदाधिकारियों एवं सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक के साथ बैठक की।

बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कोविड-19 corona कोरोना से बचाने दरभंगा के हर घरों तक जाएंगें डॉक्टर, सैंपल कलेक्शन का मिला टास्कका द्वितीय लहर बड़े शहरों में प्रवेश कर चुका है। बड़े शहरों से लोगों का आवागमन भी जारी है। राज्य सरकार ने सभी जिलों को इससे सतर्क रहने एवं कोविड-19 के रोकथाम के लिए सभी उपायों में तेजी लाने के निर्देश दिए। सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी दिए गए लक्ष्य के अनुरूप सैंपल कलेक्शन का कार्य करें।लक्षण प्राप्त पॉजिटिव मरीजों को डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराएं।

उन्होंने कहा, ए सिम्टोमिक पॉजिटिव मरीजों को होम आइसोलेटेड किया जाए।चिकित्सकों एवं पारामेडिकल स्टाफ द्वारा उनकी जाँच नियमित रूप से की जाए। प्रखंड स्तर पर क्रियान्वित नियंत्रण कक्ष से दूरभाष के माध्यम से होम आइसोलेट पॉजिटिव मरीज का नियमित अनुश्रवण किया जाए। इसके साथ ही जिला नियंत्रण कक्ष से पॉजिटिव मरीजों के दूरभाष के माध्यम से नियमित अनुश्रवण कर उन्हें चिकित्सीय सलाह दी जाए।

उन्होंने कहा कि खासकर के जो वलनरेबुल पॉजिटिव, जिनमें 60 वर्ष से ऊपर के बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं, 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे एवं गंभीर बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति, के घर प्रतिदिन जाकर चिकित्सक/चिकित्सा कर्मी द्वारा जांच की जाए। प्रतिदिन कितने पॉजिटिव केस मिले, कितने लोगों की जांच हुई, कितने लोग स्वस्थ्य हुए, इसकी समीक्षा सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को प्रतिदिन करने के निर्देश दिए तथा सभी कोविड केयर सेंटर को सक्रिय करने के निर्देश दिए।

गर्भवती महिलाओं की निगरानी एवं अनुश्रवण के लिए बनाए गए वंडर कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि प्रत्येक माह की 9 वीं एवं 21वीं तारीख को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के अंतर्गत सभी गर्भवती महिलाओं की स्वास्थ्य जांच कराई जाए।
एएनएम अपने पोषक क्षेत्र में गर्भवती महिलाओं के घर जाकर उनकी स्वास्थ्य जांच करें तथा VHSND साइट पर गर्भवती महिलाओं से संबंधित आंकड़ों को वंडर कार्यक्रम से संबंधित प्रपत्र में संकलित करें।

ANM अपने पोषक क्षेत्र के गर्भवती महिलाओं को चिन्हित करें तथा प्रत्येक शनिवार को चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा इससे संबंधित मामलों की समीक्षा की जाए। समीक्षा के दौरान पाया गया कि गर्भवती महिलाओं के लिए कई आवश्यक दवाएं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में उपलब्ध नहीं है। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधकों को अगले 3 दिनों में प्रसव गृह में प्रोटोकॉल के अनुसार निर्धारित दवाओं को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि कोविड 19 के मृतक मरीजों की समीक्षा की जाए कि वे कब कोविड पॉजिटिव हुए थे। अस्पताल में कब और किस स्थिति में आये तथा अस्पताल में आने के कितने दिनों के बाद उनकी मृत्यु हुई। बैठक में आगामी पल्स पोलियो अभियान (नवम्बर 2020 राउंड) की तैयारी की भी समीक्षा की गई।

समीक्षा के दौरान सिविल सर्जन द्वारा बताया कि अक्टूबर राउंड में कई प्रखंडों में एक भाईल से 14 डोज ही दिए गए, जबकि 20 डोज होना चाहिए, जिसकी वजह से अंतिम चरण में दवा की कमी का सामना करना पड़ता है। उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से कहा कि किस एएनएम द्वारा दवा की बर्बादी की जा रही है, उसे चिन्हित करना होगा। उन्होंने कहा कि नवंबर राउंड का पहला राउंड ए टीम की ओर से 29 नवंबर से 3 दिसंबर तक चलाया जाएगा, पुनः बी टीम द्वारा 5 दिसंबर से अभियान चलाया जाएगा।

बैठक में जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने कहा कि कोरोना को लेकर नियमित टीकाकरण की गति धीमी हो गई है। नियमित टीकाकरण की गति में भी तेजी लानी होगी तथा 2023 तक मिजिल्स को समाप्त करने का लक्ष्य निर्धारित है।
बैठक में स्वास्थ्य विभाग से संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे तथा प्रखंडों से प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं अन्य पदाधिकारी ऑनलाइन जुड़े हुए थे।

Continue Reading

Darbhanga

मंत्री Jibesh Mishra ने पर्यटन विभाग का संभाला कार्यभार कहा, आत्मनिर्भर बनेगा बिहार

Published

on

मंत्री Jibesh Mishra ने पर्यटन विभाग का संभाला कार्यभार कहा, आत्मनिर्भर बनेगा बिहार
मंत्री Jibesh Mishra ने खान एवं भूतत्व विभाग का संभाला कार्यभार कहा, आत्मनिर्भर बनेगा बिहार
दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। नीतीश कुमार 7वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने हैं, नीतीश समेत कुल 15 मंत्री बनाए गए है. मंत्रियों को विभाग का बंटवारा भी कर दिया गया. आज खान एंव भूतत्व विभाग के मंत्री जीवेश मिश्रा ने पदभार संभाला. विभाग के अधिकारियों ने बुके देकर उनका स्वागत किया. इस मौके पर मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा कि आत्मनिर्भर बिहार बनाने, रोजगार उत्पन्न करने, और बिहार के विकास में पर्यटन विभाग किस प्रकार सहायक हो सकता है, इसपर काम किया जाएगा. वहीं उन्होंने यह भी कहा कि विभाग के कामों को निर्धारित समय पर पूरा करने सबसे बड़ी प्राथमिकता होगी.
इसके लिए सभी अधिकारियों के साथ बैठकर एक ब्लूप्रिंट तैयार किया जाएगा. जिसके तहत के किसी भी कार्य को अंजाम दिया जाएगा.
मंत्री Jibesh Mishra ने पर्यटन विभाग का संभाला कार्यभार कहा, आत्मनिर्भर बनेगा बिहार
Continue Reading

Darbhanga

Darbhanga Airport : यात्रा करना पड़ रहा महंगा, पटना से ढाई गुना तक अधिक हुआ दरभंगा से दिल्ली और मुंबई का किराया

Published

on

Darbhanga Airport : यात्रा करना पड़ रहा महंगा, पटना से ढाई गुना तक अधिक हुआ दरभंगा से दिल्ली और मुंबई का किराया
Darbhanga Airport: यात्रा करना पड़ रहा महंगा, पटना से ढाई गुना तक अधिक हुआ दरभंगा से दिल्ली और मुंबई का किराया
दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। छठ के बाद वापसी के लिए पटना की तुलना में दरभंगा से मुंबई और दिल्ली का हवाई किराया दो से ढाई गुना तक ऊंचा हो गया है। मुंबई रूट में पटना से हवाई किराया लगभग 5200 रुपये, जबकि दरभंगा से लगभग 9600 रुपये चल रहा था।

दिल्ली रूट में पटना से हवाई किराया लगभग 4.5 हजार रुपये और दरभंगा से लगभग 7.5 से 12 हजार रुपये के बीच चल रहा था। (Darbhanga Airport)

दरभंगा की तुलना में पटना से जाना सस्ता

ऐसे में हवाई मार्ग से दिल्ली और मुंबई जाना हो तो दरभंगा की तुलना में पटना से जाना ही सस्ता होगा। बेंगलुरु जाने के लिए पटना और दरभंगा दोनों रूट समान है। बुधवार को दरभंगा से जाना सस्ता है, जबकि गुरुवार को पटना रूट ही सबसे सस्ता विकल्प है. सिर्फ छठ ही नहीं बल्कि उसके बाद भी अगले दो-तीन महीनों में अधिकतर दिन पटना रूट की तुलना में दरभंगा रूट में ही हवाई किराया अधिक है।

यह बताता है, दरभंगा से दिल्ली और मुंबई जाने वाले हवाई यात्रियों की संख्या अधिक है और उसके फ्लाइटों की अक्युपेंसी रेट भी अधिक है। (Darbhanga Airport)

पटना से किराया

महानगर 24- 25
मुंबई 5259- 5259
दिल्ली 4630- 4630
बेंगलुरु 9129- 9203

दरभंगा से किराया

महानगर 24- 25
मुंबई 9602 -9676
दिल्ली 12226 -7502
बेंगलुरु 9024 -11386

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: