Connect with us

Darbhanga

आशीष हत्याकांड का खुलासा,1 नाबालिक समेत 3 लोगों ने की थी गला दबाकर हत्या

Published

on

आशीष हत्याकांड का खुलासा,1 नाबालिक समेत 3 लोगों ने की थी गला दबाकर हत्या

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। आम तोड़ने के विवाद में  आशीष सहनी की हत्या हुई थी। यह खुलासा सोमवार को एसएसपी बाबूराम ने करते हुए बताया, एक नाबालिक युवक सहित तीन लोगों ने मिलकर आशीष की गला दबाकर हत्या की थी और बाद में लाश को ठिकाने लगाने के लिए नदी किनारे फेंक दिया था।

जानकारी के अनुसार, मब्बी ओपी क्षेत्र के बालू घाट के रहने वाले 11 वर्षीय बालक आशीष की मामूली आम तोड़ने के विवाद में चार लोगों ने हत्या करते हुए लाश को ठिकाना लगाने के लिए नदी किनारे फेंक दिया था। इन हत्यारोपी में एक एक नाबालिक भी शामिल है। नाबालिक सिमरा का रहने वाला है ने पुलिस के सामने हत्या के पूरे राज खोल दिए। उसने बताया, बगीचे में आम तोड़ने को लेकर दोनों के बीच कहासुनी हुई और आशीष की जमकर पिटाई कर दी गई थी।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

इसके बाद पिटाई करने वाले लड़के को शक हुआ कहीं अगले दिन इसकी शिकायत होने पर कोई हंगामा ना हो जाए। इसी को देखते हुए उसने अपने दो-तीन साथियों को वहां बुला लाया और आशीष की जमकर पिटाई करने के बाद जब वह बेहोश होकर जमीन पर गिर गया तो उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। फिर लाश को ठिकाने लगाने के लिए नदी किनारे फेंक दिया।

एसएसपी बाबू राम ने बताया, मोहल्ले के कुछ लोगों ने बताया, मनोज राम के 16 वर्षीय पुत्र के साथ 25 जून की शाम आशीष को बगीचे की ओर जाते देखा था। घटना के बाद घटनास्थल से डॉग स्क्वायड टीम को बुलाया गया था, जहां घटनास्थल से चलकर सीधे मनोज राम के घर जाकर बैठ गया था। खोजी कुत्ता को दोबारा फिर घटनास्थल से लेकर निकला गया जहां से फिर मनोज राम के घर ही जाकर बैठा। मब्बी ओपी पुलिस ने मनोज राम व पुत्र के फरार होने के बाद मनोज राम की पत्नी को हिरासत में ले लिया था।

पुलिस ने जब कड़ी पूछताछ की तो तो 16 वर्षीय नाबालिग युवक ने हत्या करने की बात को स्वीकार कर ली और उसके साथ हत्या में शामिल मोबी ओपी क्षेत्र के सिमरा गांव निवासी सहदेव राम के 27 वर्षीय पुत्र बैजनाथ राम व विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के आजम नगर मोहल्ले के उपेंद्र साहनी के पुत्र रंजीत कुमार को गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी बाबूराम ने बताया,दो नों युवक ने अपनी जुर्म कबूल कर ली है।
जानकारी के अनुसार, 25 जून की शाम बालू घाट के रहने वाले आशीष सहनी घर से निकल कर आम के बगीचे आम तोड़ने गया था, जहां नाबालिक युवक से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी, जहां

26 जून की सुबह शव नदी किनारे से बरामद हुआ था। इसके बाद स्थानीय लोगों ने हत्या को लेकर सड़क जाम सहित हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। एसएसपी बाबूराम ने बताया, नाबालिक 16 वर्षीय युवक को किशोर न्यायालय में उपस्थित कराया जाएगा। वहीं अन्य दो साथी को जेल भेजा जा रहा है। प्रेस वार्ता के दौरान सदर एसडीपीओ अनोज कुमार मब्बी ओपी प्रभारी गौतम कुमार मौजूद थे।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

kusheshwarasthan

कुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1दर्जन गांवों तक वोट से पहुंचा प्रशासन

Published

on

कुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1दर्जन गांवों तक वोट से पहुंचा प्रशासन
कुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1 दर्जन गांवों तक मोटरवोट से पहुंचा प्रशासन
कुशेश्वरस्थान पूर्वी रिपोर्टर, बिरौल अनुमंडल डेस्क देशज टाइम्स। बाढ़ की भयावता के मद्देनजर अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी सह वरीय प्रभारी नदीमुल गफ्फार सिद्दीकी ने सोमवार को मोटर वोट से प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने  चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर, बिसुनिया पोखर सहित एक दर्जन गांव व टोला का (kusheshwarasthan purvi ke chakiya) भ्रमण करते हुए बाढ़ की स्थिति से रु-ब- रु हुए।
इसी क्रम में वरीय प्रभारी श्री सिद्दीकी ने चौकिया गांव में (kusheshwarasthan purvi ke chakiya) सामुदायिक किचेन चालू करने का निर्देश मौके पर उपस्थित सीओ त्रिवेणी प्रसाद को दिया। इसके अलावा बाढ़ से क्षतिग्रस्त घरों के गृहस्वामी को प्लास्टिक उपलब्ध कराने कोकुशेश्वरस्थान पूर्वी के चौकिया, लक्ष्मीनिया, इटहर समेत 1दर्जन गांवों तक वोट से पहुंचा प्रशासन
कहा, जिससे बारिश से बचाव हो सके। जान-माल सुरक्षित रह सके। लोगों का नुकसान कम हो। इसके लिए कई बिंदुओं पर प्रशासन कार्य कर रहा है।
बाढ़ के तेज बहाव में चौकिया पासवान टोला मे लगभग 18-19 घर मे बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुका है (kusheshwarasthan purvi ke chakiya) जबकि कई घर नदी में विलीन हो चुका है।
वरीय प्रभारी नदीमुल गफ्फार सिद्दीकी ने देशज टाइम्स को बताया, चौकिया से पश्चिमी तटबंध, इटहर से पूर्वी तटबंध व चौकिया से लक्ष्मीनिया के लिए अंचल प्रशासन की ओर से एक-एक नाव मुहैया कराई गई है। (kusheshwarasthan purvi ke chakiya)जल्द ही और नाव की व्यवस्था की जा रही है। मौके पर बीडीओ अशोक कुमार जिज्ञासु भी मौजूद थे।
Continue Reading

BIRAUL

गौड़ाबौराम में बूथ स्तरीय कमेटी के गठन के साथ कार्यकर्ताओं को रामकुमार ने दिए विस्तार के टिप्स

Published

on

गौड़ाबौराम में बूथ स्तरीय कमेटी के गठन के साथ कार्यकर्ताओं को रामकुमार ने दिए विस्तार के टिप्स
गौड़ाबौराम में बूथ स्तरीय कमेटी के गठन के साथ कार्यकर्ताओं को रामकुमार ने दिए विस्तार के टिप्स
गौड़ाबौराम रिपोर्टर, बिरौल अनुमंडल डेस्क देशज टाइम्स। प्रखंड क्षेत्र के आधारपुर पंचायत में लोक जनशक्ति पार्टी के प्रखंड अध्यक्ष राजकुमार झा की अध्यक्षता में सोमवार को कार्यकर्ताओं के साथ बैठक आयोजित की गई। (gauraboram me buth astariye) इसमें मुख्य रूप से बूथ स्तरीय कमेटी के गठन को लेकर विचार-विमर्श किया गया।
लोजपा प्रखंड अध्यक्ष श्री झा ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के आदेशानुसार (gauraboram me buth astariye) और मार्गदर्शन पर संगठन की मजबूती के लिए सभी वरीय व सक्रिय कार्यकर्ता को पंचायत स्तर से लेकर प्रखंड और बूथ स्तर पर कमेटी का निर्माण करना है।
उन्होंने कार्यकर्ताओं को एक बूथ पांंच यूथ का फार्मूला दिया। कहा, इसी आधार पर (gauraboram me buth astariye) कमेटी बनाएं। साथ ही कहा, पंचायतों में लोगों की जन समस्याओं से अवगत होकर इस से निजात दिलाएं। इसके लिए हमारी पार्टी हमेशा तत्पर रहती है।
मौके पर, ललित झा, गिरिधारी कुमार पांडेय, चंदन झा, दुर्गेश पांडेय, लक्ष्मण मुखिया, गांधी पांडेय, शंकर जी सहित कई लोजपा कार्यकर्ता मौजूद थे। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का (gauraboram me buth astariye) पालन किया।
Continue Reading

Darbhanga

कुशेश्वरस्थान पूर्वी, घनश्यामपुर, किरतपुर पहुंचा NDRF, दिखी चौकसी, जायजा, सुरक्षा, नाव हर कुछ

Published

on

कुशेश्वरस्थान पूर्वी, घनश्यामपुर, किरतपुर पहुंचा NDRF, दिखी चौकसी, जायजा, सुरक्षा, नाव हर कुछ
कुशेश्वरस्थान पूर्वी, घनश्यामपुर, किरतपुर पहुंचा NDRF, दिखी चौकसी, जायजा, सुरक्षा, नाव हर कुछ

बाढ़ प्रभावित गांवों का सोमवार को एनडीआरएफ ने भ्रमण किया। चार स्थलों पर सामुदायिक रसोई चालू किया गया। 52 सरकारी नावों का परिचालन शुरु हो चुका है। तटबंधों की निगरानी जारी है, सभी तटबंध सुरक्षित हैं : डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। दरभंगा जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र खासकर (kusheshwarasthan purvi, ghanshyampur, kiratpur, ndrf) बिरौल अनुमंडल के कुशेश्वरस्थान पूर्वी, घनश्यामपुर व किरतपुर अंचल के क्षेत्र में लगातार अभियंताओं पदाधिकारियों की ओर से भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया जा रहा है। कुशेश्वरस्थान पूर्वी प्रखंड के वरीय पदाधिकारी ने अंचलाधिकारी व एनडीआरएफ की टीम के साथ सोमवार इटहर पंचायत के लक्ष्मीनिया, किया व इटहर गांव का भ्रमण कर बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया।

अंचलाधिकारी कुशेश्वरस्थान पूर्वी त्रिवेणी प्रसाद ने बताया, चौकिया (kusheshwarasthan purvi, ghanshyampur, kiratpur, ndrf)  ग्राम में आज से सामुदायिक रसोई प्रारंभ कर दिया गया है। कुशेश्वरस्थान पूर्वी अंचल में बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए पांच सरकारी नाव व छह निजी नाव चलवाया जा रहा है, जो लोग उच्च स्थल पर शरण लिए हैं उन्हें पॉलिथीन सीट मुहैया करवाया जा रहा है ।

आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, (kusheshwarasthan purvi, ghanshyampur, kiratpur, ndrf)  आज से बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए कुशेश्वर स्थान पूर्वी में एक व घनश्यामपुर में तीन सामुदायिक रसोई प्रारंभ कर दिया गया है, जिसमें लगभग पांच सौ लोगों को सुबह-शाम खाना खिलाया जा रहा है। लगभग 100 बाढ़ प्रभावित परिवारों को पॉलिथीन सीट उपलब्ध कराया गया है।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में आवागमन के लिए निःशुल्क सरकारी नाव (kusheshwarasthan purvi, ghanshyampur, kiratpur, ndrf)  की व्यवस्था की गई है। 52 सरकारी नाव व 17 निजी नाव का परिचालन करवाया जा रहा है। डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने कहा, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पदाधिकारियों द्वारा लगातार दौरा किया जा रहा है, सभी तटबंधों की निगरानी की जा रही है। वर्तमान में सभी तटबंध सुरक्षित हैं।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.