Connect with us

Darbhanga

अगले 2 दिन दरभंगा में भारी बारिश,अलर्ट, क्षतिग्रस्त तटबंधों को दुरूस्त के लिए डीएम ने दिए 2 दिन

Published

on

अगले 2 दिन दरभंगा में भारी बारिश,अलर्ट, क्षतिग्रस्त तटबंधों को दुरूस्त के लिए डीएम ने दिए 2 दिन

दरभंगा,देशज टाइम्स ब्यूरो। डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने मंगलवार को जिले में कार्यरत सभी जल निस्सरण प्रमंडल व बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल के अभियंताओं को सभी तटबंधों के क्षतिग्रस्त भाग की मरम्मत व कमजोर बिंदुओं की स्ट्रेंगथनिंग, मजबूतीकरण का कार्य दो दिनों में पूरा करने को कहा है।

डीएम डॉ.एसएम ने  कहा, सभी तटबंधों के मजबूतीकरण का कार्य युद्ध स्तर पर हो। मौसम विभाग के पूर्वानुमान में कहा गया है, अगले दो दिनों में उत्तरी बिहार व नेपाल के तराई क्षेत्रों में अत्यधिक वर्षा होने की संभावना है। इन क्षेत्रों में एक साथ ज्यादा मात्रा में बारिश होने पर दरभंगा जिले के सभी नदियों के जलस्तर में वृद्धि होने की संभावना रहेगी।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

अगले 2 दिन दरभंगा में भारी बारिश,अलर्ट, क्षतिग्रस्त तटबंधों को दुरूस्त के लिए डीएम ने दिए 2 दिनतटबंधों पर दवाब रहेगा। उन्होंने कहा, जिला में अवस्थित सभी बांधों, तटबंधों  के सभी रेन कट व रैट  होल को तुरंत पैकिंग कर दी जाए। डीएम डॉ.एसएम कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित बाढ़ पूर्व तैयारी की समीक्षा बैठक में निर्देश दे रहे थे।

उन्होंने सभी एसडीओ व सीओ के निरीक्षण प्रतिवेदन के आलोक में अंचलवार सभी तटबंध व बांधों की मरम्मत कार्य प्रगति की समीक्षा करते हुए  सभी अनुमंडल पदाधिकारी व अंचलाधिकारी की ओर से पूर्व में ही उनके क्षेत्राधीन पड़ने वाले तटबंधों/ बांधों का भौतिक निरीक्षण किया गया था। अंचलाधिकारी, घनश्यामपुर ने बताया, बूढे इनायतपुर के 68-71 वें किमी तटबंध भाग में 14-15 जगहों पर रैट  होल व रेन कट है। इसमें से 08 रैट होल की पैकिंग कर दी गई है, लेकिन रेन कट के सिलिंग करने का कार्य पूरा नहीं हुआ है।

बताया गया, घनश्यामपुर अंचल अंतर्गत 12-15 जगहों पर रैट होल पैकिंग का कार्य बाकी है। वहीं फ्लड फाइटिंग के तौर पर बांध पर अभी तक मात्र 30 हजार बैग ही रखा गया है। अनुमंडल पदाधिकारी, बिरौल ने बताया, गौड़ाबौराम के असरा पंचायत में तटबंध की तुरंत मरम्मत कराना आवश्यक है।

अंचलाधिकारी तारडीह ने बताया, 03 टूटान स्थलों को बांधने का कार्य किया जा रहा है। पुरानी कमला नदी में स्लूइस गेट के रिसाव को पैकिंग करने का कार्य चल रहा है। अंचलाधिकारी केवटी ने बताया, दरभंगा बागमती नदी के भटौरा बांध पर कार्य की गति धीमी है। कोठिया में मरम्मत का कार्य शुरू नहीं हुआ है।

अंचलाधिकारी, जाले ने बताया, खिरोई तटबंध पर भगौल, मुरैठा, सोरिया, सगरपुर, पैनी में तटबंधों में रैट होल की पैकिंग कार्य को तेज करने की जरूरत है।

बहादुरपुर के अंचलाधिकारी ने बताया, सिरनिया बांध तटबंध में रेन कट को फिलिंग करने का कार्य धीमी है। अंचलाधिकारी, सिंहवाड़ा ने बताया, खिरोई नदी के शाखा में जमींदारी बांध की मजबूतीकरण का कार्य किया जा रहा है। अंचलाधिकारी, बहेड़ी का कहना था, भरनिया व दगवा स्लूइस गेट के रिसाव को बंद करने का कार्य किया जा रहा है।

डीएम डॉ.एसएम ने बाढ़ प्रवण सभी अंचलों में संबंधित पदाधिकारियों की ओर से बताए गए उपरोक्त तटबंधो के मजबूतीकरण कार्य को युद्धस्तर पर चलाकर दो दिनों में पूरा करने का निदेश संबंधित जल निस्सारण प्रमंडल व बाढ़ नियंत्रण प्रमण्डल के कार्यपालक अभियंता को दिया है।

उन्होंने कहा, ड्रेनेज व फ्लड डिवीजन के एई./जेई संबंधित अंचल के अंचलाधिकारी व थाना प्रभारी के साथ डेली तटबंधों का निरीक्षण करेंगे। कमजोर बिंदुओं को तत्परता पूर्वक दुरूस्त कराएंगे। कहा, इस कार्य में थोड़ी भी ढ़िलाई अथवा शिथिलता पाए जाने पर सबंधित अधिकारियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

वहीं, अंचलों में नाव की उपलब्धता की समीक्षा में पाया गया कि केवटी, जाले, सदर, अलीनगर, तारडीह, मनीगाछी अंचलाधिकारी में पर्याप्त नाव की व्यवस्था नहीं है।  कहा, बाढ़ से जान-माल की रक्षा में नाव की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसलिए नाव की उपलब्धता को हल्के से लेने पर उक्त सभी अंचलाधिकारी को कारण पृच्छा किया गया है।

कहा है, आपदा कानून के तहत क्यों नहीं उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाए। डीएम डॉ.एसएम  ने कहा है, दरभंगा जिला में विगत वर्षों में भी बाढ़ आते रहे हैं। बाढ़ का पानी गांवों में फैल जाने पर लोगों को सुरक्षित बाहर निकालकर बाढ़ आश्रय स्थलों में उन्हें पूरे सम्मान के साथ रखनी है। इसलिए सभी बाढ़ प्रभावित पंचायतों में पर्याप्त संख्या में नाव व नाविक 24 घंटे तैयार रखे जाएं।

सभी सीओ को बाढ़ से प्रभावित होने वाले पंचायतों में शरण स्थली चिन्ह्ति कर वहां भोजन, आवासन, पानी, शौचालय, बिजली आदि सभी बुनियादी सुविधाएं बहाल करने को कहा गया है। वहीं शरण स्थली के प्रभारी को सीओ से समन्वय बनाकर शरण स्थली में सामुदायिक रसोई चलाने के लिए खाद्यान्न, ईंधन, रसोईया आदि की अग्रिम व्यवस्था तैयार रखने का निर्देश दिया गया है।

इस बैठक में अपर समाहर्त्ता विभूति रंजन चौधरी, उप विकास आयुक्त डॉ. कारी प्रसाद महतो, प्रशिक्षु सहायक समाहर्त्ता प्रियंका रानी, सभी वरीय प्रखंड प्रभारी पदाधिकारी, ड्रेनेज व फ्लड डिवीजन के कार्यपालक अभियंता समेत अन्य उपस्थित थे। वहीं अनुमंडल पदाधिकारी, एमओआईसी, अंचलाधिकारी समेत अन्य वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से इस बैठक में शामिल हुए।अगले 2 दिन दरभंगा में भारी बारिश,अलर्ट, क्षतिग्रस्त तटबंधों को दुरूस्त के लिए डीएम ने दिए 2 दिन

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

दरभंगा वार्ड 3 की आन-बान-शान पार्षद देवकी का महाप्रयाण, अधूरे अरमानों को सहेजेंगी मधुबाला

Published

on

दरभंगा वार्ड 3 की आन-बान-शान पार्षद देवकी का महाप्रयाण, अधूरे अरमानों को सहेजेंगी मधुबाला
दरभंगा वार्ड 3 की आन-बान-शान पार्षद देवकी का महाप्रयाण, बचे अरमानों को सहेजेंगी मधुबाला

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। दरभंगा वार्ड तीन की लगातार तीन बार पार्षद देवकी देवी (darbhanga ward 3 kiaan baan shaan devki devi) अब हमारे बीच नहीं रही। गुरुवार की सुबह उनका निधन हो गया। निधन की खबर मिलते ही वार्ड समेत पूरे दरभंगा से लोगों का तांता अंतिम दर्शन को उमड़ने लगा।

जानकारी के अनुसार, पार्षद मधुबाला सिन्हा, पूर्व पार्षद संतोष पासवान, पार्षद भरत सहनी ने उनके (darbhanga ward 3 kiaan baan shaan devki devi) पार्थिव शरीर पर माल्यार्पण करते उनके कार्यकाल को शानदार व बेदाग बताया। इनका संस्कार रानीपुर शमसान में किया गया, जहां उप महापौरखां, पार्षद मधुबाला सिन्हा भी मौजूद रहीं।

शमशान के रास्ते में घुटने भर पानी के कारण दर्जनों लोगों को इस पार ही रुकना पड़ा। शामिल लोगों ने इस रास्ते की समस्या से भी उपमहापौर और पार्षद से दिवंगत पार्षद देवकी देवी को (darbhanga ward 3 kiaan baan shaan devki devi) श्रद्धांजलि के रूप में दरभंगा वार्ड 3 की आन-बान-शान पार्षद देवकी का महाप्रयाण, अधूरे अरमानों को सहेजेंगी मधुबाला
इसके निदान की मांग की। इसको लेकर उपमेयर व पार्षद दोनों ने इस बात को डीएम डॉ.त्यागराजन एसएम के सामने रखने व निदान का आश्वासन दिया।

जानकारी के अनुसार, इस शमसान में निगम के वार्ड दो व तीन  सहित रानीपुर पंचायत के इलाके के लोगों का दाह-संस्कार होता है। वहीं,
पार्षद देवकी देवी के निधन पर महापौर वैजयंती देवी खेड़िया ने शोक प्रकट कर माल्यार्पण किया और गुरुवार को निगम कार्यालय बंद करने की घोषणा की। वहीं, पूर्व महापौर ओम प्रकाश खेड़िया ने भी (darbhanga ward 3 kiaan baan shaan devki devi)शोक व्यक्त करते  कहा, हम सभी इस घटना से मर्माहत हैं।दरभंगा वार्ड 3 की आन-बान-शान पार्षद देवकी का महाप्रयाण, अधूरे अरमानों को सहेजेंगी मधुबालादरभंगा वार्ड 3 की आन-बान-शान पार्षद देवकी का महाप्रयाण, अधूरे अरमानों को सहेजेंगी मधुबाला

Continue Reading

BIRAUL

देशज की खबर का असर : बिरौल के अफजला पैक्स का मिला अध्यक्ष विकास कुमार को प्रभार

Published

on

देशज की खबर का असर : बिरौल के अफजला पैक्स का मिला अध्यक्ष विकास कुमार को प्रभार

बिरौल देशज टाइम्स ब्यूरो। जिला सहकारिता पदाधिकारी अमजद हयात वर्क के निर्देश पर प्रखंड प्रसार पदाधिकारी के उपस्थिति में आखिरकार बिरौल प्रखंड अन्तर्गत अफजला पैक्स के पूर्व अध्यक्ष जितेन्द्र साह ने नवनिर्वाचित अध्यक्ष विकास कुमार को अभिलेखों का प्रभार सौंप दिया। इस संबंध में देशज टाइम्स (dehajtimes kikhawer ka ashar) में तीन दिनों पूर्व खबर छपी थी।

 

जानकारी के अनुसार निबंधन सहयोग समितियां बिहार पटना के उप निबंधक शशि शेखर सिन्हा ने पूर्व पैक्स अध्यक्षों की ओर से नवनिर्वाचित अध्यक्षों को प्रभार नहीं सौंपने की स्थिति में बिहार सहकारिता (dehajtimes kikhawer ka ashar)  अधिनियम 1935 की धारा 45 एवं 45( क ) के प्रावधानों के आलोक में कार्रवाई करते हुए अपने स्तर से प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया था।

पूछे जाने पर इसकी जानकारी प्रखंड सहकारिता प्रसार पदाधिकारी ने (dehajtimes kikhawer ka ashar)  देशज टाइम्स को दी। उन्होंने बताया, सभी सदस्यों को आपसी सहयोग से पैक्स समिति का संचालन करने का निर्देश दिया गया है। वहीं पूर्व अध्यक्ष जितेंद्र साह ने भी आवश्यकता पड़ने पर नवनिर्वाचित अध्यक्ष को सहयोग करने की बात कही।

Continue Reading

Darbhanga

मधुबनी के उपभोक्ताओं को सौगात, बिजली का नया डिवीजन शुरु, दरभंगा अंचल प्रमुख की पहल

Published

on

मधुबनी के उपभोक्ताओं को सौगात, बिजली का नया डिवीजन शुरु, दरभंगा अंचल प्रमुख की पहल
मधुबनी के उपभोक्ताओं को सौगात,बिजली का एक नया डिवीजन शुरु,दरभंगा अंचल प्रमुख की पहल

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। मधुबनी जिले में बिजली का एक नया डिवीजन शुरू (madhubani me naya division shuru) हो गया है। इससे अब मधुबनीवासियों को काफी सहूलियत होगी। बिजली में और सुधार होगा। लाइन के रखरखाव, निर्बाध बिजली आपूर्ति, ग्राहक सेवा के साथ साथ रेवेन्यू में भी फायदा होगा।इसका श्रेय दरभंगा अंचल के प्रमुख व विधुत अधीक्षण अभियंता सुनील कुमार दास को जाता है।

जानकारी के अनुसार, अंचल प्रमुख श्री दास ने  मधुबनी जिले में (madhubani me naya division shuru)  जयनगर डिवीजन की शुरुआत करते हुए नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी की ओर से जयनगर डिवीजन के लिए आदेश निर्गत होने के साथ ही स्वयं वहां जाकर इसकी शुरुआत करवाते हुए बिजली आपूर्ति में बेहतर सुधार की पहल की है।

इससे पहले एग्जेक्युटिव इंजीनियर के तौर पर रमन कुमार के साथ अकॉउंट ऑफिसर के रूप में सनतन कुमार व देवांगना ने सहायक इंजीनियर रेवेन्यु के पद पर जॉइन किया। इस डिवीजन (madhubani me naya division shuru)  के अंदर जयनगर, बासोपट्टी, खजौली, बाबूबरही, लदनिया, कलुआही व हरलाखी प्रखंड के क्षेत्र होंगे। अभी इसका कार्यालय जयनगर इलेक्ट्रिक सब डिवीजन के कार्यालय के प्रथम तल पर है।

दरभंगा अंचल के प्रमुख सुनील कुमार दास ने देशज टाइम्स  को (madhubani me naya division shuru)  बताया, इसके बनने से बिजली में और सुधार होगा। लाइन के रखरखाव, निर्बाध बिजली आपूर्ति, ग्राहक सेवा के साथ साथ रेवेन्यू में भी फायदा होगा।

Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.