Connect with us

Darbhanga

दरभंगा में विवाहिता को अगवा कर जबरन दिव्यांग से सिंदूर भरवाने वाले 13 आरोपी कहां हैं…?

Published

on

दरभंगा में विवाहिता को अगवा कर जबरन दिव्यांग से सिंदूर भरवाने वाले 13 आरोपी कहां हैं...?

दरभंगा, देशज टाइम्स ब्यूरो। घनश्यामपुर थाना क्षेत्र के आधारपुर गांव कांड के 13 आरोपी कहां हैं। क्या पुलिस की गिरफ्त इतनी कमजोर पड़ गई है।  चार दिन बाद भी विवाहिता का अगवा कर जबरन दिव्यांग से सिंदूर भरवाने को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

जानकारी के अनुसार, आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से पीड़ितों व आम लोगों में आक्रोश है। लोग यही कह रहे यह पुलिस प्रशासन की नाकामी है। आधारपुर की घटना तथाकथित सभ्य समाज के ऊपर कलंक है। दरअसल, गांव के एक लड़के ने प्रेम प्रसंग में गांव की एक लड़की के साथ गांव से बाहर जाकर शादी कर ली थी। इस घटना के विरोध में लड़की के चाची ने थाने में आवेदन देकर लड़का सहित सात लोगों के विरुद्ध लड़की के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। गांव से बाहर शादी करने के बाद लड़का-लड़की की शादी की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गयी।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

इस घटना से आक्रोशित लड़की पक्ष के लोगों ने दीपावली की दोपहर लड़के के घर में घुसकर जमकर मारपीट, तोड़फोड़, लूटपाट की। इतने से मन नहीं भरा तो लड़के की मां को जबरन मारते पीटते, घसीटते हुए अपने घर ले गये। वहां दबंगों ने क्रूरता की सारी हदें पार कर दी। निरीह महिला का बाल काटकर जबरन एक दिव्यांग महादलित से मांग में सिंदूर भरवाकर शादी करवाई।

घटना के बाद हरकत में आयीपुलिस ने पीड़ित पक्ष के उमेश झा के आवेदन पर एफआईआर दर्ज कर गांव में पुलिस बल को पीड़ित परिवार की सुरक्षा के लिए तैनात किया। इस मामले में गांव के ही दिलीप कुमार झा,ललन झा,अनिल झा सहित दस पुरुष एवं पांच महिलाओं को नामजद किया गया था।

बिरौल एसडीपीओ दिलीप कुमार झा ने गांव जाकर इस कांड का पर्यवेक्षण किया।थानाध्यक्ष को आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी का आदेश दिया। इस बीच सभी आरोपी फरार हो गए। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। इसके बावजूद इस कांड के मात्र दो आरोपियों को दबोचने में पुलिस को सफलता मिली है जबकि तेरह आरोपी अब भी फरार हैं।

एसडीपीओ दिलीप कुमार झा ने बताया कि एक भी दोषी को बख्शा नहीं जायगी। कानून तोड़ने वालों के विरुद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पीड़ति परिवार को पुलिस की सुरक्षा प्रदान की गई है। गांव की स्थिति सामान्य है। दो आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। अन्य को शीघ्र गिरफ्तार करने की कार्रवाई जारी है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Darbhanga

सीएम कॉलेज ने जिस वाजितपुर को गोद लिया अब वहां जल्द दिखने लगेंगे शिक्षा, स्वच्छता,स्वास्थ्य, पर्यावरण का साकार रूप, चार प्राध्यापकों की टीम ने किया मुआयान

Published

on

सीएम कॉलेज ने जिस वाजितपुर को गोद लिया अब वहां जल्द दिखने लगेंगे शिक्षा, स्वच्छता,स्वास्थ्य, पर्यावरण का साकार रूप, चार प्राध्यापकों की टीम ने किया मुआयान

मुख्य बातें
सी एम कॉलेज के 4 प्राध्यापकों ने इग्नू समन्वयक डा आर एन चौरसिया के नेतृत्व में किया वाजितपुर का निरीक्षण
नदी-कटाव,शिक्षा-व्यवस्था तथा स्वच्छता व स्वास्थ्य आदि हैं वाजितपुर की मूल समस्याएं
अनवरत जागरूकता तथा नगर निगम, जनप्रतिनिधियों व जिला प्रशासन के सहयोग से होगा समस्याओं का निदान
गोद लिया गया मोहल्ला वाजिदपुर में 26 फरवरी को होगा 10 दिवसीय एनएसएस शिविर का उद्घाटन

दरभंगा। सीएम कॉलेज, दरभंगा की एनएसएस इकाई दो तथा महाविद्यालय के इग्नू अध्ययन केंद्र की ओर से गोद लिए गए मोहल्ले वाजितपुर, किलाघाट का सीएम कॉलेज के चार प्राध्यापकों, डॉ. राफिया काजिम, प्रो. अखिलेश कुमार राठौर व प्रो. रितिका मौर्या ने इग्नू समन्वयक डॉ. आर एन चौरसिया के नेतृत्व में गहन निरीक्षण किया।

इस दौरान प्राध्यापकों ने वहां के वार्ड पार्षद, प्राथमिक विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य,अवकाश प्राप्त व्यक्तियों,युवाओं एवं महिलाओं आदि से बातचीत कर वहां की समस्याओं तथा निदान के उपायों से रूबरू हुए।स्थानीय निवासियों ने बताया कि बागमती नदी का कटाव तीव्र गति से हुआ है,जिससे जान-माल का भारी खतरा उत्पन्न हो गया है। साथ ही यहां शिक्षा-व्यवस्था,स्वच्छता एवं स्वास्थ्य आदि की गंभीर समस्या है।
ज्ञातव्य है कि वाजिदपुर मोहल्ला दरभंगा नगर निगम के वार्ड नंबर 23 तथा सी एम कॉलेज के पश्चिम नदी के पार स्थित है जो अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक तथा पिछड़ी जाति बाहुल्य है।
नदी के पश्चिम में तटबंध नहीं होने के कारण लगभग हर साल वाजितपुर को गंभीर बाढ़ व कटाव की समस्या का सामना करना पड़ता है।यद्यपि सरकार की ओर से हर बार बाढ-काल में भोजन एवं राहत सामग्री के अलावा निर्धारित राशि का भुगतान किया जाता है,परंतु बाढ़ और कटाव का स्थाई समाधान अभी तक नहीं हो पाया है। प्राध्यापकों ने डा प्रेम कुमारी, विजय कुमार पासवान,उमा शंकर पासवान,वार्ड पार्षद गीतादेवी,प्राथमिक विद्यालय प्रभारी संजय कुमार,विक्रांत पासवान,हंस दास,अनिशा कुमारी,राखी कुमारी,मनोरथ पासवान,उमेश कुमार पासवान,विशंभर पासवान, गंगा प्रसाद आदि व्यक्तियों से गहन बातचीत की गई।

इग्नू समन्वयक डॉ.आर एन चौरसिया ने बताया कि महाविद्यालय की ओर से अनवरत जागरूकता कार्यक्रम के साथ ही नगर निगम, जनप्रतिनिधियों तथा जिला प्रशासन के सकारात्मक सहयोग से वाजिदपुर की समस्याओं का निदान किया जाएगा। वहीं एनएसएस पदाधिकारी ने कहा कि विशेष शिविर के दौरान 10 दिनों तक वाजितपुर में शिक्षा, स्वच्छता,स्वास्थ्य तथा पर्यावरण पर विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाएगा।

Continue Reading

Bihar

दरभंगा नेहरू स्टेडियम में गेंद और बल्ले की जंग में छूट रहे पसीने, दूसरे दिन पटना व भागलपुर की टीम ने विजयी श्री के साथ बढ़ाए कदम

Published

on

दरभंगा नेहरू स्टेडियम में गेंद और बल्ले की जंग में छूट रहे पसीने, दूसरे दिन पटना व भागलपुर की टीम ने विजयी श्री के साथ बढ़ाए कदम

दरभंगा। लहेरियासराय स्थित नेहरु स्टेडियम में आयोजित राजकुमार शुभेश्वर सिंह मेमोरियल क्रिकेट प्रतियोगिता के दूसरे दिन गुरुवार को पटना व भागलपुर की टीम विजयी रही। पटना ने मोतिहारी को 19 रन से व भागलपुर ने मुजफ्फरपुर को आठ विकेट से पराजित कर दिया। पहला मुकाबला पटना व मोतिहारी के बीच हुआ।

टॉस जीतकर मोतिहारी के कप्तान ने पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी पटना की टीम निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट खोकर 132 रन बनाने में सफल रही। केशव कुमार ने ताबड़तोड़ 34 रन बनाए. कुमार रजनीश ने 27, रोहित राज ने 19 व राघवेन्द्र ने 18 रनों को योगदान दिया। मोतिहारी के गेंदबाज राजू यादव ने दो विकेट चटकाए। सूरज राठौर, सुशांत सिंह व राशिद एकबाल को एक-एक सफलता हाथ लगी।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी मोतिहारी की टीम निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट खोकर 113 रन ही बना सकी. वरुण राज के 31 व हिमांशु के 28 रनों को छोड़कर अन्य बल्लेबाज विशेष योगदान नहीं दे सके। भानु आर्यन ने तीन विकेट झटके।आलम, विश्वजीत व केशव कुमार एक-एक विकेट मिला। बल्लेबाजी व गेंदबाजी में बेहतर प्रदर्शन करने वाले पटना के केशव कुमार को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

भागलपुर व मुजफ्फरपुर के बीच खेला गया दूसरा मुकाबला एकतरफा रहा. भागलपुर की टीम ने आसानी से मुजफ्फरपुर को आठ विकेट से पराजित कर दिया। टॉस जीतकर मुजफ्फरपुर के कप्तान ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। उनका यह निर्णय गलत साबित हुआ।पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुजफ्फरपुर की टीम अभिषेक, सचिन व चंदन की बेहतरीन गेंदबाजी के आगे महज 46 रनों पर सिमट गयी।मुजफ्फरपुर की ओर से प्रकाश ने सर्वाधिक 16 रन बनाये। पप्पू ने 12 रन अपने टीम के खाते में जोड़ा। इनके अलावा अन्य बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके।

अभिषेक ने तीन ओवरों में बिना कोई रन दिये तीन बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया।सचिन व चंदन दो-दो विकेट लेने में कामयाब रहे। विवेक, सूर्या व सजंत ने एक-एक विकेट झटके। निर्धारित लक्ष्य को भागलपुर की टीम ने दो विकेट खोकर प्राप्त कर लिया।पप्पू ने नाबाद 21 व बासुकी नाथ ने 11 रन बनाये।अनंत सिंह छह रन बनाकर नाबाद रहे। मुजफ्फरपुर की ओर से आशीष व पप्पू एक-एक विकेट लेने में सफल रहे। विजेता टीम के अभिषेक को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

अंपायर की भूमिका में मो. साहिद व नैयर अली मौजूद थे। विवेकानंद कुमार प्रियदर्शी स्कोरर थे। मैच के दौरान आयोजन समिति के अध्यक्ष पवन कुमार सिंह, सचिव प्रदीप कुमार गुप्ता, दिलीप भगत, श्याम राय, अमरकांत झा, अखलाकुर रहमान पप्पू, बमबम आदि सक्रिय थे।

Continue Reading

Bihar

संस्कृत विश्वविद्यालय की पटना अंगीभूत इकाई राजकीय संस्कृत कॉलेज परिसर में जल्द बनेगा बहुउद्देश्यीय भवन, वीसी डॉ. शशिनाथ झा ने उत्सवी माहौल में रखी आधारशिला

Published

on

संस्कृत विश्वविद्यालय की पटना अंगीभूत इकाई राजकीय संस्कृत कॉलेज परिसर में जल्द बनेगा बहुउद्देश्यीय भवन, वीसी डॉ. शशिनाथ झा ने उत्सवी माहौल में रखी आधारशिला

दरभंगा। संस्कृत विश्वविद्यालय की पटना स्थित अंगीभूत इकाई राजकीय संस्कृत कॉलेज परिसर में गुरुवार को कुलपति डॉ. शशिनाथ झा ने बहुउद्देश्यीय भवन की आधारशिला रखते हुए कहा कि देवभाषा के विकास व सम्वर्धन के लिए समाज के सभी प्रबुद्धजनों को आगे आना चाहिए। भवन को जल्द तैयार कर लेने की उन्होंने भरोसा दिलाया तथा कहा कि यह भवन संस्कृत अनुरागियों के लिए बहुत ही सहायक होगा।

कुलपति ने कॉलेज में 06 व 07 मार्च के प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय सेमिनार पर हर्ष व्यक्त किया औऱ शैक्षणिक गतिविधियों के लिए इसे जरूरी बताया। वहीं, प्रधानाचार्य डॉ. कुमार ने नैक मूल्यांकन की तैयारी से सम्बंधित ब्यौरा प्रस्तुत किया। मौके पर सभी अतिथियों का स्वागत कालेज के प्रधानाचार्य डॉ. मनोज कुमार ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन डॉ ज्योत्स्ना के जिम्मे रहा।

यह जानकारी देते हुए पीआरओ निशिकांत ने कहा कि शिलान्यास के समय प्रधानाचार्य डॉ. अनिल ईश्वर, पूर्व कुलसचिव कर्नल नवीन कुमार, प्रो. कुलानन्द झा, डॉ. बालमुकुंद मिश्र, डॉ. विनीता सुप्रिया, डॉ. कृष्णानन्द पांडेय, डॉ. अनिल कुमार झा,डॉ. मधुमाला सिंहा, डॉ. मेधा मिश्र, डॉ. शिवानन्द शुकल, विवेक कुमार तिवारी, अभिमन्यु कुमार समेत कई शिक्षक व छात्र मौजूद थे।

Continue Reading

लोकप्रिय

%d bloggers like this: