Connect with us

Bihar

मेवालाल के इस्तीफे के बाद नए प्रभारी शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी पर विवाद, जानिए पत्नी कनेक्शन

Published

on

मेवालाल के इस्तीफे के बाद नए प्रभारी शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी पर विवाद, जानिए पत्नी कनेक्शन
मेवालाल के इस्तीफे के बाद नए प्रभारी शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी पर विवाद, जानिए पत्नी कनेक्शन

पटना, देशज न्यूज। भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे डॉ मेवालाल चौधरी को शिक्षा मंत्री के पद से त्यागपत्र देना पड़ा। इसके बाद प्रदेश में जेडीयू के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी को शिक्षा मंत्री का प्रभार दे दिया गया।

लेकिन, अब वह भी विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं. दरअसल इस बार आरोप सीधे उनपर नहीं, लेकिन उनकी पत्नी के भ्रष्टाचार के आरोपों से जुड़े मामले को लेकर है। विरोधी दल के नेता तेजस्वी यादव  ने सोशल मीडिया का सहारा लेकर अशोक चौधरी को निशाना बनाया है और उनकी राजनीतिक शुचिता के दावे पर सवाल उठाया है।

लगातार विश्वसनीय, असरदार, करेंट, ब्रेकिंग दरभंगा, मधुबनी से लेकर संपूर्ण मिथिलांचल, देश से विदेशों तक लगातार खबरों के लिए हमसें यहां जुड़ें,

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीटर अकांउट पर अशोक चौधरी की पत्नी पर लगे भ्रष्टाचार को लेकर निशाना साधा और लिखा, साहित्यिक चोरी के दोषी मुख्यमंत्री नीतीश के मुकुटमणि, JDU के कार्यकारी अध्यक्ष और मंत्री अशोक चौधरी की पत्नी पर बैंक से करोड़ों की धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप है, CBI जांच कर रही है, कोर्ट में केस है।

बता दें कि भ्रष्टाचार के एक मामले में कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी की पत्नी पर बैंक से धोखाधड़ी का एक मामला चल रहा है, जिसकी जांच सीबीआई कर रही है। इस मामले में सीबीआई ने उन्हें चार्जशीटेड किया था. इसके बाद अशोक चौधरी की पत्नी हाईकोर्ट गई, जहां से वह बरी हो गईं।  लेकिन, सीबीआई इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट चली गई जहां हाईकोर्ट के फैसले को सस्पेंड कर दिया गया है. हालांकि मामला अभी अंडर  ट्रायल है।

145 साल पुराने दरभंगा से पहली बार खबरों का गरम भांप ...असंभव से आगे देशज टाइम्स हिंदी दैनिक। वेब पेज का संपूर्ण अखबार। दरभंगा खासकर मिथिलाक्षेत्रे, हमार प्रदेश, सारा जहां की ताजा खबरें। रोजाना नए कलेवर में। फिल्म-नौटंकी के साथ सरजमीं को समेटे। सिर्फ देशज टाइम्स में, पढि़ए, जाग जाइए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bihar

muzaffarpur: दिन-दहाड़े कैश वैन लूटने में नाकाम बदमाशों ने ड्राइवर को मारी गोली

Published

on

muzaffarpur: दिन-दहाड़े कैश वैन लूटने में नाकाम बदमाशों ने ड्राइवर को मारी गोली
muzaffarpur: दिन-दहाड़े कैश वैन लूटने में नाकाम बदमाशों ने ड्राइवर को मारी गोली

मुजफ्फरपुर जिले से बड़ी खबर सामने आई है। यहां अपराधियों ने दिनदहाड़े कैश वैन को अपना निशाना बनाया है। कैश वैन को लूटने की असफल कोशिश के बाद अपराधियों ने वैन ड्राइवर को गोली मार दी। घायल हालत में वैन ड्राइवर को निकट से अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, मामला दर्ज कर लिया गया है। आगे की जांच चल रही है। पुलिस का कहना है, एक एएसआई ने त्वरित कार्रवाई की, जिसकी वजह से कैश वैन को लूटने का प्रयास विफल हो गया। कैश वैन के चालक को अपराधियों ने गोली मार दी। वह घायल है, उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना जिले के सरैया थाना क्षेत्र के बखरा की है। रविवार को कैश वैन पैसे लेकर पहुंची थी। तभी अपराथियों ने कैश ट्रांसफर वैन लूटने की कोशिश की। लेकिन जब उन्होंने देखा कि वो इसे लूटने में नाकाम हो रहे हैं तो ड्राइवर को गोली मार दी। घटना से इलाके में हड़कंप मच गया।

Continue Reading

Darbhanga

फोरलन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा दरभंगा, Darbhanga एयरपोर्ट से होगा सीधा संपर्क

Published

on

फोरलन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा दरभंगा, Darbhanga एयरपोर्ट से होगा सीधा संपर्क
फोरलन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा दरभंगा, Darbhanga एयरपोर्ट से होगा सीधा संपर्क

दरभंगा, देशज टाइम्स न्यूज। दरभंगा बहुत जल्द फोरलन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे से जुड़ने जा रहा है। यह बिहार का पहला फोरलेन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे होगा। यह एक्सप्रेस-वे औरंगाबाद से पटना होते दरभंगा तक पहुंचेगा। इसके लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य तेजी पर है। इसके बनने से प्रदेश के किसी भी हिस्से से पटना चार घंटे में लोग पहुंच पाएंगें।

उत्तर व दक्षिण बिहार को जोड़ने वाली इस सड़क से पटना का गया व दरभंगा एयरपोर्ट से सीधा संपर्क हो जाएगा। साथ ही इसका संपर्क जीटी रोड से भी हो जाएगा। सड़क बनाने की जिम्मेदारी एनएचएआइ को दी गई है। भारतमाला योजना के तहत बनने वाली इस सड़क में 80 फीसदी ग्रीनफील्ड रखा गया है। ग्रीन फील्ड का अर्थ है कि इस कॉरिडोर में 80 फीसदी नई सड़क होगी।

करीब 7200 करोड़ रुपए की लागत से 205 किमी की लंबाई में इस एक्सप्रेस-वे को बनाने के लिए औरंगाबाद से पटना के बीच भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है. इसका निर्माण मार्च 2021 तक शुरू होने और करीब 30 महीने में पूरा होने की संभावना है।

औरंगाबाद जिले के मदनपुर से शुरू होने वाली यह फोरलेन सड़क गया एयरपोर्ट के बगल से होते हुए जीटी रोड को भी कनेक्टिविटी देगी. गया से यह जहानाबाद व नालंदा के बॉर्डर से गुजरते पटना में कच्ची दरगाह आएगी।

वहां से बिदुपुर के बीच बन रहे सिक्स लेन पुल से चकसिकंदर, महुआ के पूरब होते हुए ताजपुर से कल्याणपुर, समस्तीपुर तक जाएगी। वहां से दरभंगा एयरपोर्ट के समीप इस्ट-वेस्ट कॉरिडोर तक पहुंचेगी।

बीते दिनों एनएचएआइ की भू-अर्जन समिति की बैठक में इस सड़क को औरंगाबाद से जयनगर तक करीब 271 किमी की लंबाई में बनाने का प्रस्ताव था. समिति ने फिलहाल औरंगाबाद से दरभंगा तक के लिए इस सड़क की मंजूरी दी है। इसके बाद अगले चरण में इसका विस्तार दरभंगा से जयनगर तक किया जाएगा।

एनएचएआइ बिहार के क्षेत्रीय पदाधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल चंदन वत्स ने कहा कि यह सड़क बिहार के लिए बहुउपयोगी साबित होगी. फिलहाल औरंगाबाद से पटना के बीच तेजी से जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है जो जनवरी तक पूरी होने की संभावना है. इसके बाद पहले चरण में औरंगाबाद से पटना के बीच निर्माण कार्य के लिए टेंडर आमंत्रित किया जायेगा. मार्च 2021 से पहले चरण का निर्माण शुरू होने की संभावना है. इसके बाद पटना से दरभंगा के बीच भी भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया मार्च, 2021 तक पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है.

Continue Reading

Madhubani

किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा

Published

on

किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
मधुबनी, देशज टाइम्स ब्यूरो। सूर्योपासना का महापर्व छठ पूजा शनिवार को प्रात:कालीन अ‌र्घ्य के साथ काफी हर्षोल्लास के बीच संपन्न हो गया। इससे पूर्व व्रतियों द्वारा शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अ‌र्घ्य अर्पण किया गया। छठ पूजा को लेकर छठ घाटों पर भक्तिमय माहौल बना रहा। श्रद्धालु व बच्चों में काफी उत्साह देखा गया। किसी ने अपने व परिजनों के लिए आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य का आशीष मांगा।
छठ घाटों पर केला पेड़ के बीच दूधिया बल्ब व रंग-बिरंगे झालर का मनोरम छटाकिसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
शुक्रवार सांध्य अ‌र्घ्य व शनिवार प्रात:कालीन अ‌र्घ्य भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य दिया गया। शहर के विभिन्न तालाबों पर दंडवत प्रणाम कर छठ अनुष्ठान करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या काफी देखी गई। लोग इन्हें पैर छूकर प्रणाम करते रहे। प्रात:कालीन अ‌र्घ्य के बाद घाट पर व्रतियों द्वारा परिजनों व श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरण किया जाता रहा। लोग व्रतियों के हाथ से प्रसाद पाकर धन्य-धन्य होते रहे। श्रद्धालु व्रतियों के पैर छूकर आशीर्वाद लेते रहे। छठ घाटों की आकर्षक ढंग से सजावट की गई थी। दूधिया  लाइट के बीच छठ घाटों पर ध्वनि विस्तारक यंत्र से छठ पूजा की लोकगीत से माहौल भक्तिमय बना रहा। विभिन्न घाटों पर केला पेड़ के बीच दूधिया बल्ब व रंग-बिरंगे झालर मनोरम छटा के बीच आतिशबाजी के साथ छठ पर्व को लेकर लोगों में भारी उत्साह बना रहा।
भगवान भास्कर की प्रतिमा स्थापित
शहर के गंगासागर, मुरली मनोहर, महादेव मंदिर, महाराजगंज, नगर परिषद तालाब सहित अन्य तालाब घाट पर छठ घाटों पर छठ पूजा समिति द्वारा घाट की आकर्षक सजावट की व्यवस्था के बीच दूध वितरण की व्यवस्था की गई थी। वहीं, शहर के गंगासागर चौक पर सूर्य क्लब के द्वारा भव्य पंडाल में भगवान भास्कर की प्रतिमा स्थापित कर पूजा-अर्चना किया गया। यहां श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद की व्यवस्था भी की गई थी। इस कार्य में क्लब के लक्ष्मी साह, दिलीप साह, वैद्यनाथ साह, विजय कुमार सहित दर्जनों लोग जुटे रहे।किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
छठ घाट पर रही विशेष चौकसी
छठ पूजा को लेकर तालाब घाट पर किसी भी घटनाओं की आशंका के मद्देनजर पुलिस प्रशासन पूरी तरह चौकस रहा। आरक्षी अधीक्षक  डाॅ. सत्य प्रकाश व एसडीओ  ने शहर के गंगासागर तालाब में एसडीआरएफ के बोट के सहारे घाटों का निरीक्षण किया गया। बोट पर एसडीआरएफ सिपाही एसएन पांडेय, धर्मवीर कुमार, मोहन कुमार, बमबम कुमार भी सवार थे। वहीं जगह-जगह पुलिस बल तैनात किए गए थे।किसी ने मांगा आरोग्य तो किसी ने धन-धान्य, मधुबनी में दिखी घाटों पर केला पेड़ के नीचे दूधिया छटा
Continue Reading

लोकप्रिय

Copyright © 2020 Deshaj Group of Print. All Rights Reserved Tingg Technology Solution LLP.

%d bloggers like this: